लाइव टीवी

शुरू हो चुका है पितृपक्ष, जानिए कब तक रहेगा

News18Hindi
Updated: September 15, 2019, 10:49 AM IST
शुरू हो चुका है पितृपक्ष, जानिए कब तक रहेगा
पितृ पक्ष तारीखें

आइए जानते हैं कब तक रहेगा पितृपक्ष (Pitru Paksha 2019) और क्या हैं तारीखें...

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2019, 10:49 AM IST
  • Share this:
पितृपक्ष (Pitru Paksha 2019) आज से शुरू हो चुका है जो 28 सितम्बर शनिवार तक रहेगा. हर साल यह भाद्रपद मास की पूर्णिमा तिथि से लेकर आश्विन मास की अमावस्या तक रहता है. हिंदू धर्म की रीतियों के अनुसार, पितृपक्ष के दौरान पितरों (पूर्वजों) का श्राद्ध करने का प्रावधान है. अगर इस बीच में किसी की मृत्यु हो जाती है तो पितृपक्ष में उसी तारीख में उनका रीति रिवाजों के अनुसार श्राद्ध किया जाता है. माना जाता है कि पितरों का श्राद्ध करने से उन्हें मुक्ति मिलती है और उनकी आत्मा संतुष्ट होती है. शास्त्रों में यह भी मन गया है कि जो व्यक्ति पूरी श्रद्धा से अपने पूर्वजों का तर्पण और श्राद्ध करता है उसे जीवन के हर क्षेत्र में तरक्की मिलती है और वो सुख का भागी होता है और उसके कष्ट मिट जाते हैं. यह भी मान्यता है कि जब लोग विधिपूर्वक पितरों का श्राद्ध नहीं करते हैं तो वो पाप के भागी होते हैं और उन्हें पितरों का आशीर्वाद भी नहीं मिलता है. आइए जानते हैं कब तक रहेगा पितृपक्ष और क्या हैं तारीखें...

इसे भी पढ़ें: पितृपक्ष 2019: पढ़िए पितृ देव की आरती, जानिए इसका अर्थ

पितृपक्ष श्राद्ध की तारीखें 2019:
13 सितंबर, शुक्रवार: पूर्णिमा श्राद्ध

14 सितंबर, शनिवार: प्रतिपदा श्राद्ध
15 सितंबर, रविवार: द्वितीया श्राद्ध
16 सितंबर, सोमवार: तृतीया श्राद्ध
Loading...

17 सितंबर, मंगलवार: चतुर्थी श्राद्ध
18 सितंबर, बुधवार: पंचमी श्राद्ध
19 सितंबर, गुरुवार: षष्ठी श्राद्ध
20 सितंबर, शुक्रवार: सप्तमी श्राद्ध
21 सितंबर, शनिवार: अष्टमी श्राद्ध
22 सितंबर, रविवार: नवमी श्राद्ध
23 सितंबर, सोमवार: दशमी श्राद्ध
24 सितंबर, मंगलवार: एकादशी श्राद्ध
25 सितंबर, बुधवार: द्वादशी श्राद्ध
26 सितंबर, गुरुवार: त्रयोदशी श्राद्ध
27 सितंबर, शुक्रवार: चतुर्दशी श्राद्ध
28 सितंबर, शनिवार: अमावस्या श्राद्ध

इसे भी पढ़ें: मुहर्रम और गणेश चतुर्थी साथ मना रहे लोग, खूबसूरत नजारा सोशल मीडिया पर वायरल

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 15, 2019, 10:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...