Sawan 2019,Naga Panchami: आज है नागपंचमी, यदि कुंडली में हो कालसर्प दोष तो इन बातों का रखें ख्‍याल

Sawan 2019,Naga Panchami: नागपंचमी के दिन नहीं करने चाहिए ये काम...

News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 2:01 PM IST
Sawan 2019,Naga Panchami: आज है नागपंचमी, यदि कुंडली में हो कालसर्प दोष तो इन बातों का रखें ख्‍याल
Sawan 2019,Naga Panchami:नागपंचमी आज, कुंडली में है कालसर्प दोष तो इन बातों का रखें ख्‍याल
News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 2:01 PM IST
Sawan 2019,Naga Panchami: आज सावन के पहले सोमवार के दिन नागपंचमी मनाई जा रही है. ऐसा दुर्लभ संयोग कई सालों बाद आता है. सावन के पहले सोमवार के दिन नागपंचमी का यह दुर्लभ योग भी 125 साल बाद पड़ा है. हिंदू धर्म की पौराणिक कथाओं में सांप को देवता मानकर नाग की पूजा करने का प्रचलन था. हिंदू धर्म के रीति रिवाज के अनुसार, इस दिन लोग सांप को देवता मानकर दूध पिलाते हैं और पूरे दिन शुभ काम करने का प्रयास करते हैं. हालांकि नागपंचमी के दिन कुछ कामों को निषेध भी बताया गया है. आइए जानते हैं कि धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक़, नाग पंचमी के दिन करने चाहिए कौन से काम करने चाहिए और कौन से नहीं...

सूर्योदय से पूर्व उठें.

Sawan 2019,Naga Panchami: सावन के सोमवार में शिव पूजा का ख़ास महत्व है और ऐसे में आज नागपंचमी भी है. इसलिए इस दिन सुबह सोकर उठने के बाद नित्यकर्म और स्नान करें.

स्वच्छ वस्त्र धारण करें.

Sawan 2019,Naga Panchami: इसके बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करें और साथ ही मन ही मन भगवान शिव और सर्प देवता का भी ध्यान करते रहें.

प्रसाद के लिए सेंवई और चावल बनाएं.  

Sawan 2019,Naga Panchami: नागपंचमी में नागदेवता को चढ़ाने के लिए प्रसाद बनाएं. इस दौरान साफ़ सफाई का ख़ास ख्याल रखें. प्रसाद में दूध और चावल की खीर और चावल बनाएं.
Loading...

जमीन पर गेरू पोतकर पूजन का स्थान बनाएं.

Sawan 2019,Naga Panchami: नागपंचमी की पूजा करने के लिए पूजा घर के पास की जमीन पर गेरू पोतकर पूजन का स्थान बनाएं.


लकड़ी के तख्त पर स्‍वच्‍छ कपड़ा बिछाकर नागदेवता की मूर्ति या तस्वीर रखें.

Sawan 2019,Naga Panchami: अब लकड़ी के एक चौके पर स्‍वच्‍छ कपड़ा बिछाकर उसपर भगवान शिव और नागदेवता की मूर्ति या तस्वीर रखें.

जल, सुगंधित फूल, चंदन से उसे अर्ध्य दें.

Sawan 2019,Naga Panchami: मूर्ति को जल, सुगंधित फूल, चंदन से अर्ध्य दें.

नाग प्रतिमा को दूध, दही, घृत, मधु और पंचामृत से स्नान कराएं.

Sawan 2019,Naga Panchami: नाग प्रतिमा को दूध, दही, घृत, मधु और पंचामृत से स्नान कराएं.

प्रतिमा पर चंदन एवं जल अर्पित करें.

Sawan 2019,Naga Panchami: नाग देवता को चन्दन की खुशबू काफी पसंद होती है. इसलिए नागदेवता की  प्रतिमा पर चंदन एवं जल अर्पित करें.

नाग देवता को नये वस्त्र, चंदन, हरिद्रा, चूर्ण, कुमकुम, सिंदूर, बेलपत्र, आभूषण और पुष्प माला अर्पित करें.

Sawan 2019,Naga Panchami: नाग देवता को नये वस्त्र, चंदन, हरिद्रा, चूर्ण, कुमकुम, सिंदूर, बेलपत्र, आभूषण और पुष्प माला अर्पित करें.

नाग देवता को धूप दीप, नैवेद्य, ऋतु फल एवं तांबूल चढ़ाएं.

Sawan 2019,Naga Panchami: इसके बाद नाग देवता को धूप दीप, नैवेद्य, ऋतु फल एवं तांबूल चढ़ाएं.

नाग देवता की आरती करें.

Sawan 2019,Naga Panchami: अब सब लोग एक दिया जलाएं और उस दिए से नाग देवता की आरती करें.

यदि अगर काल सर्पदोष है तो इस मंत्र का जाप करें - “ ऊँ कुरुकुल्ये हुं फट स्वाहा”.

Sawan 2019,Naga Panchami:  अगरआपकी कुंडली में  काल सर्पदोष है तो - “ ऊँ कुरुकुल्ये हुं फट स्वाहा” मन्त्र का जाप करें.

नागपंचमी की कथा सुनें.

Sawan 2019,Naga Panchami: पंडित जी या किसी विद्वान् से नागपंचमी की कथा सुनें.

नागपंचमी के दिन जमीन खोदना निषिद्ध है.

Sawan 2019,Naga Panchami: नागपंचमी के दिन जमीन खोदना निषिद्ध है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 1:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...