Shardiya Navratri 2018: नवरात्रि के चौथे दिन इस विधि से करें मां कूष्मांडा देवी की पूजा

Shardiya Navratri 2018: नवरात्रि का आज चौथा दिन है, आज मां कूष्मांडा देवी जी की पूजा होती है.

News18India
Updated: October 13, 2018, 8:00 AM IST
Shardiya Navratri 2018: नवरात्रि के चौथे दिन इस विधि से करें मां कूष्मांडा देवी की पूजा
Shardiya Navratri 2018: नवरात्रि का आज चौथा दिन है, आज मां कूष्मांडा देवी जी की पूजा होती है.
News18India
Updated: October 13, 2018, 8:00 AM IST
नवरात्रि का आज चौथा दिन है, आज मां कूष्मांडा देवी जी की पूजा की जाती है. मां कूष्मांडा का रूप सूर्य के समान तेजस्वी है व उनकी आठ भुजाएं हमें कर्मयोगी जीवन अपनाकर तेज अर्जित करने की प्रेरणा देती हैं, उनकी मधुर मुस्कान हमारी जीवनी शक्ति का संवर्धन करते हुए हमें हंसते हुए कठिन से कठिन मार्ग पर चलकर सफलता पाने को प्रेरित करती है.

इसे भी पढ़ें: Shardiya Navratri 2018: देवी मां की उपासना से करें ग्रहों के कुप्रभाव को दूर

कहते हैं कि जब सृष्टि का अस्तित्व नहीं था, तब इन्हीं देवी ने ब्रह्मांड की रचना की थी. ये ही सृष्टि की आदि-स्वरूपा, आदिशक्ति हैं. इनका निवास सूर्यमंडल के भीतर के लोक में है। वहां निवास कर सकने की क्षमता और शक्ति केवल इन्हीं में है.

इसे भी पढ़ें: राशि के अनुसार जानें क्या है आपकी लकी दिशा, भाग्य देगा साथ!

इनके शरीर की कांति और प्रभा भी सूर्य के समान ही दैदीप्यमान हैं. मां कूष्मांडा की उपासना से भक्तों के समस्त रोग-शोक मिट जाते हैं. इनकी भक्ति से आयु, यश, बल और आरोग्य की वृद्धि होती है. मां कूष्माण्डा अत्यल्प सेवा और भक्ति से प्रसन्न होने वाली हैं.

आज के दिन पहले मां का ध्यान मंत्र पढ़कर उनका आह्वाहन किया जाता है और फिर मंत्र पढ़कर उनकी आराधना की जाती है.

मां कूष्मांडा का मंत्र:
Loading...

- 'ॐ कूष्मांडा देव्यै नमः' इस मंत्र का जाप करने से मां कूष्मांडा प्रसन्न होंगी.
- यदि साधक चाहें तो सिद्ध कुंजिका स्तोत्र का पाठ भी कर सकता है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर