लाइव टीवी

ओमप्रकाश वाल्मीकि की पुण्यतिथि पर पढ़ें उनकी कविता- बस्स! बहुत हो चुका...

News18Hindi
Updated: November 17, 2019, 9:25 AM IST
ओमप्रकाश वाल्मीकि की पुण्यतिथि पर पढ़ें उनकी कविता- बस्स! बहुत हो चुका...
ओमप्रकाश वाल्मीकि की पुण्यतिथि पर पढ़ें उनकी कविता

ओमप्रकाश वाल्मीकि पुण्यतिथि (Omprakash Valmiki): ओमप्रकाश वाल्मीकि ने हिंदी जगत में दलित साहित्य के विकास में अहम योगदान दिया. उनकी कविताओं में भी दलित जनों के लिए पीड़ा झलकती थी...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2019, 9:25 AM IST
  • Share this:
ओमप्रकाश वाल्मीकि पुण्यतिथि (Omprakash Valmiki): आज लेखक और कवि ओमप्रकाश वाल्मीकि की पुण्यतिथि है. उनका जन्‍म 30 जून 1950 को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के बरला गांव में हुआ. वो एक अछूत माने जाने वाले वाल्‍मीकि परिवार में जन्मे थे. उन्हें वर्तमान दलित साहित्य के प्रतिनिधि रचनाकारों में से एक माना जाता है. उन्होंने हिंदी जगत में दलित साहित्य के विकास में अहम योगदान दिया. अछूत माने जाने वाले परिवार में जन्म लेने की वजह से शुरुआत में उन्हें काफी भेदभाव, आर्थिक और सामाजिक असमानता का सामना करना पड़ा. उनकी कविताओं में भी दलित जनों के लिए पीड़ा झलकती थी. आइए कविताकोश के सौजन्य से पढ़ते हैं ओमप्रकाश वाल्मीकि की कविता बस्स! बहुत हो चुका...

बस्स! बहुत हो चुका:
जब भी देखता हूँ मैं
झाड़ू या गन्दगी से भरी बाल्टी

कनस्तर
किसी हाथ में
मेरी रगों में
Loading...

दहकने लगते हैं
यातनाओं के कई हज़ार वर्ष एक साथ
जो फैले हैं इस धरती पर
ठंडे रेत-कणों की तरह
वे तमाम वर्ष
वृत्ताकार होकर घूमते हैं
करते हैं छलनी लगातार
उँगलियों और हथेलियों को
नस-नस में समा जाता है ठंडा ताप

इसे भी पढ़ें:  पुण्यतिथि विशेषः आर्थिक और मानसिक कष्ट झेलकर लेखक बनें ओमप्रकाश वाल्मीकि, पढ़ें 'जूठन' का पुस्तकांश

झाड़ू थामे हाथों की सरसराहट
साफ़ सुनाई पड़ती है भीड़ के बीच
बियाबान जंगल में सनसनाती हवा की तरह
गहरी पथरीली नदी में
असंख्य मूक पीड़ाएँ
कसमसा रही हैं
मुखर होने के लिए
रोष से भरी हुई

बस्स,
बहुत हो चुका चुप रहना
निरर्थक पड़े पत्थर
अब काम आएँगे
संतप्त जनों के!!

इसे भी पढ़ें: लता मंगेशकर को हुआ निमोनिया, जानिए इसके लक्षण और बचाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ट्रेंड्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 9:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...