डिप्रेशन पर क्या कहती हैं दीपिका पादुकोण, तनाव दूर करने के लिए लोगों को दिए ऐसे टिप्स

एनसीबी आज दीपिका पादुकोण और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करेगी.
एनसीबी आज दीपिका पादुकोण और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करेगी.

एक के बाद एक हिट फिल्में देने वाली दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) लंबे समय तक डिप्रेशन (Depression) की शिकार रही हैं. वर्ष 2014 में डिप्रेशन ने उन्हें इस कदर अपने वश में कर लिया था कि उन्हें लगने लगा था कि जिंदगी में अब कुछ बचा ही नहीं हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 9:14 PM IST
  • Share this:
बॉलीवुड की रानी पद्मावती यानी एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. वह बॉलीवुड (Bollywood) का एक बड़ा नाम हैं. साल 2006 में दीपिका पादुकोण ने अभिनेता उपेन्द्र के साथ कन्नड़ फिल्म में काम करते हुए अपनी पहली फिल्म ऐश्वर्या की थी. इसके बाद साल 2007 में उन्होंने बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के साथ काम करते हुए फराह खान की हिंदी फिल्म ओम शांति ओम से सफलतापूर्वक बॉलीवुड में कदम रखा लेकिन इसके कुछ दिनों बाद ही वह डिप्रेशन (Depression) की शिकार हो गईं. मेडिकल भाषा में डिप्रेशन (अवसाद) एक ऐसा मानसिक विकार है जिसमें उदासी, निराश, अरुचि जैसी भावनाएं काफी समय तक रह सकती हैं, जिनके कारण व्यक्ति के जीवन में बाधा उत्पन्न होती है. एक के बाद एक हिट फिल्में देने वाली दीपिका पादुकोण लंबे समय तक डिप्रेशन की शिकार रही हैं. वर्ष 2014 में डिप्रेशन ने उन्हें इस कदर अपने वश में कर लिया था कि उन्हें लगने लगा था कि जिंदगी में अब कुछ बचा ही नहीं हैं.



मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) को लेकर जागरूकता फैलाने के लिए उन्होंने वर्ष 2015 में द लिव लव लाफ फाउंडेशन (The Live Love Laugh Foundation) की स्थापना की. यह फाउंडेशन तनाव, चिंता और अवसाद के बारे में जागरूकता पैदा करने के कार्य में जुटा हुआ है. यह एक ऐसा मंच है जहां आप अपने लिए या किसी दुसरे की मदद कर सकते हैं. आज के समय में मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं सबसे अधिक गलत समझी जाने वाली स्थितियों में से एक है. इस संस्था से जुड़ने के बाद आप महसूस कर सकते हैं कि आप अकेले नहीं हैं.



इसे भी पढ़ेंः आमिर खान की बेटी इरा खान ने किया शीर्षासन, वायरल हो गई फोटो
मेंटल हेल्थ अवेयरनेस (मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता) के लिए एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को 26वें एनुअल क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजा गया. वह दावोस 2020 विजेताओं की सूची में शामिल होने वाली एकमात्र भारतीय अभिनेत्री हैं. कोरोना वायरस की वजह से देशभर में लागू हुए लॉकडाउन के बाद घरों में बैठे लोगों के साथ इस तरह की स्थिति आम हो गई है. ऐसे समय में दीपिका पादुकोण ने कुछ स्वास्थ्य संबंधी सलाह दी हैं, जो लोगों के मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकती हैं.
दीपिका पादुकोण ने लोगों को दिए डिप्रेशन दूर करने के टिप्स-दीपिका पादुकोण ने बताया है कि लोगों को खुद की देखभाल स्वंय करनी चाहिए तथा खुद से प्यार भी करना चाहिए. अपने अंदर के डर को स्वीकार करना चाहिए और दूसरों से इसके बारे में बातचीत करनी चाहिए. आपकी अपनी एक दिनचर्या होनी चाहिए और आपको उसी के हिसाब से अपना दिन बिताना चाहिए.-हेल्थ में प्रत्येक प्रकार का स्वास्थ शामिल है. स्वस्थ रहने के लिए मेडिटेशन और एक्सरसाइज करना बहुत ही जरूरी है, साथ ही प्रकृति की सुंदरता को भी निहारना चाहिए. उन लोगों के साथ हमेशा संपर्क में रहें जिनसे आप प्यार करते हैं. संगीत सुनने से भी आपको मानसिक स्वास्थ्य जैसी बीमारी से लड़ने में मदद मिल सकती है.इसे भी पढ़ेंः चोट के बाद एक्सरसाइज शुरू करने के लिए हेजल कीच ने बताए कुछ खास टिप्स, आज से ही करें फॉलो-दीपिका ने कहा- हमें एक साथ मिलकर ऐसा वातावरण बनाना चाहिए जिसमें मानसिक बीमारियों से जूझ रहे लोग सहजता, लगाव और सुरक्षा महसूस कर सकें. इससे इनके अंदर एक सुरक्षा की भावना उत्पन होगी.-डिप्रेशन और मानसिक स्वास्थ्य से जूझ रहे व्यक्ति की देखभाल के लिए आपकी ओर से बहुत समझ और प्यार की आवश्यकता है. यह ध्यान रखना जरूरी है कि सबसे अच्छी चीज जो आप उन्हें दे सकते हैं वह है धैर्य और हालात की स्वीकार्यता.
View this post on Instagram

#youarenotalone

A post shared by Deepika Padukone (@deepikapadukone) on




-अवसादग्रस्त महसूस करने पर कहीं छुट्टियां मनाने चले जाना चाहिए. ऐसा करने पर आप बहुत जल्दी तनाव मुक्त महसूस कर सकते हैं. इस तरह के टूर (Tour) नकारात्मक विचारों को दूर करने में मदद करते हैं.

-अवसादग्रस्त लोग अन्य लोगों से दूरी बनाए रखना चाहते हैं जो गलत है. जब आप लोगों के बीच रहेंगे तब नकारात्मक विचारों को दूर करने में मदद मिलेगी. तनाव और चिंता का सामना कीजिए और अपनी बात को बताने में बिल्कुल मत शरमाइए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज