Home /News /lifestyle /

अन्ना के हाथ का डोसा-इडली-सांभर है खाना, तो रोहिणी सेक्टर-7 के मद्रास कैफे में पहुंचें

अन्ना के हाथ का डोसा-इडली-सांभर है खाना, तो रोहिणी सेक्टर-7 के मद्रास कैफे में पहुंचें

Famous Food Joints In Delhi-NCR: रोहिणी कॉलोनी के सेक्टर-7, मेन रोड पर 'मद्रास कैफे' नाम का साउथ इंडियन रेस्तरां हैं, जिसका खाना वाकई आपको दक्षिण भारतीय भोजन के एकदम करीब ले जाएगा. इस रेस्तरां में करीब डेढ़ दर्जन वैरायटी के डोसे मिलते हैं. इनमें प्लेन डोसा से लेकर मसाला, पनीर, ओनियन, बटर पनीर, मैसूर के अलग-अलग स्वाद हैं.

Famous Food Joints In Delhi-NCR: रोहिणी कॉलोनी के सेक्टर-7, मेन रोड पर 'मद्रास कैफे' नाम का साउथ इंडियन रेस्तरां हैं, जिसका खाना वाकई आपको दक्षिण भारतीय भोजन के एकदम करीब ले जाएगा. इस रेस्तरां में करीब डेढ़ दर्जन वैरायटी के डोसे मिलते हैं. इनमें प्लेन डोसा से लेकर मसाला, पनीर, ओनियन, बटर पनीर, मैसूर के अलग-अलग स्वाद हैं.

Famous Food Joints In Delhi-NCR: रोहिणी कॉलोनी के सेक्टर-7, मेन रोड पर 'मद्रास कैफे' नाम का साउथ इंडियन रेस्तरां हैं, जिसका खाना वाकई आपको दक्षिण भारतीय भोजन के एकदम करीब ले जाएगा. इस रेस्तरां में करीब डेढ़ दर्जन वैरायटी के डोसे मिलते हैं. इनमें प्लेन डोसा से लेकर मसाला, पनीर, ओनियन, बटर पनीर, मैसूर के अलग-अलग स्वाद हैं.

अधिक पढ़ें ...

    (डॉ. रामेश्वर दयाल)

    Famous Food Joints In Delhi-NCR: देश की राजधानी दिल्ली में साउथ इंडियन खानपान भी खासा मशहूर है. लेकिन बहुत साल पहले पहले तक दिल्ली के कनॉट प्लेस में मद्रास होटल और आईएनए मार्केट में साउथ इंडियन डिश स्टॉल पर लोग खाने के लिए जुटते थे. आईएनए में लोग इसलिए जाते थे कि वहां जितनी बार चाहो, सांभर खाओ. अब तो पूरी दिल्ली में जगह-जगह साउथ इंडियन खानपान के कॉर्नर और रेस्तरां खुल गए हैं. लोग इस भोजन को इसलिए पसंद करते हैं कि इनमें ऑयल का प्रयोग बहुत कम होता है, दूसरे खाने में हाजमेदार होता है. आज हम आपको ऐसे ही साउथ इंडियन रेस्तरां में लिए चल रहे हैं, जिसे दक्षिण भारत से ही ताल्लुक रखने वाले लोगों ने खोला और साउथ का बेहतर स्वाद लोगों को परोसा. उनके कारीगर भी साउथ इंडियन हैं, इसलिए यहां के भोजन में लोग अपनापन दिखाते हैं.

    18 वैरायटी के डोसे हैं, जिनमें पेपर से लेकर पनीर डोसा शामिल है
    नॉर्थ वेस्ट दिल्ली में रोहिणी रिहायशी कॉलोनी उन मशहूर रिहायशी इलाकों में हैं, जो शासन ने व्यवस्थित तरीके से बसाई है. इतनी बड़ी रिहायशी कॉलोनी पहले जनकपुरी मानी जाती थी और रोहिणी के बाद अब द्वारका जानी जाती है. इसी रोहिणी कॉलोनी के सेक्टर-7, मेन रोड पर ‘मद्रास कैफे’ नाम का साउथ इंडियन रेस्तरां हैं, जिसका खाना वाकई आपको दक्षिण भारतीय भोजन के एकदम करीब ले जाएगा. इस रेस्तरां में करीब डेढ़ दर्जन वैरायटी के डोसे मिलते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः लाहौर के स्वाद से भरे छोले-पूरी खाने का मन है, तो कमला नगर में ‘बिल्ले दी हट्टी’ पर जरूर आएं

    इनमें प्लेन डोसा से लेकर मसाला, पनीर, ओनियन, बटर पनीर, मैसूर के अलग-अलग स्वाद हैं. विशेषता यह है कि कि कोई भी डोसा खाएंगे, उसका स्वाद बिल्कुल दक्षिण भारतीय होगा. इस भोजन में न तो पजांबी स्वाद का तड़का नजर आएगा और न ही उत्तर भारतीय भोजन का.

    गरमा-गरम सांभर व नारियल और टमाटर की चटपटी चटनी समां बांधती है
    रेस्तरां में डोसे के अलावा इडली, वड़ा व उत्तपम भी मौजूद है. इनके साथ गरमा-गरम तड़का लगी सांभर के अलावा नारियल व टमाटर की मसालेदार चटनी भी मिलेगी. चाहे आप प्लेन डोसा खाएं या पेपर या रवा डोसा. हर एक का अलग स्वाद आपकी जुबान को पसंद आएगा. गरम सांभर से उड़ती खुशबू बता देगी कि अनेक मसालों से इसको तैयार किया गया है. हर एक डिश एकदम फ्रेश व शानदार. आपको लगेगा कि यहां पर आकर आपने वाकई दक्षिण भारतीय भोजन का स्वाद चख लिया.

    डोसे की कीमत 80 रुपये से शुरू होती है और 180 रुपये तक में डोसा उपलब्ध है. कई प्रकार के उत्तपम मौजूद हैं, जिनमें ओनियन, टमाटर, पनीर, मिक्स वेज शामिल हैं. इनकी कीमत 110 रुपये से 160 रुपये है. इडली या वड़ा की एक प्लेट 60 रुपये में उपलब्ध है.

    इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में अगर चाट-पकौड़ों का लेना है मज़ा, तो चावड़ी बाजार में ‘अशोक चाट कॉर्नर’ पर आएं

    10 साल पहले दक्षिण भारतीय परिवार ने शुरू किया यह रेस्तरां
    इस रेस्तरां को नॉर्थ वेस्ट दिल्ली में दक्षिण भारतीय भोजन के लिए जाना जाता है. करीब 10 साल पहले इस रेस्तरां को अन्ना पालपांडी ने शुरू किया था. उनका कहना है कि हमारा साउथ में भी यही काम था. दिल्ली आए तो इसी काम को शुरू कर दिया. कुछ मसाले आज भी हम चैन्नई से ही मंगाते हैं. हमने अपनी डिश का साउथ इंडियन स्वाद मेंटेन किए रखा, उसमें दिल्ली के भोजन का स्वाद शामिल नहीं किया. रोज ताजा खाना तैयार किया जाता है, ताकि लोगों को आनंद मिले. आजकल साथ में बेटे राजकुमार भी मदद कर रहे हैं. रेस्तरां में जितने भी कारीगर हैं, सब साउथ इंडियन ही हैं. रेस्तरां सुबह 9:30 बजे खुल जाता है और रात 10:30 बजे तक वहां चहल पहल रहती है. कोई अवकाश नहीं है.

    नजदीकी मेट्रो स्टेशन: ईस्ट रोहिणी व वेस्ट रोहिणी

    Tags: Food, Lifestyle, Street Food

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर