डिप्रेशन जो दिमाग की वायरिंग बदलता है, खाने में शामिल करें ये हर्बल औषधियां

ब्रह्मी एक दूसरी औषधी है जो शरीर को स्ट्रेस से लड़ने की ताकत देती है. ये आपको शांत कर घबराहट को खत्म करती है. इसके अलावा आप जटामासी औषधी का भी प्रयोग कर सकते हैं. इसमें एंटी-डिप्रेसेंट, एंटी-स्ट्रेस और एंटी-फैटीग गुण होते हैं. ये आपके मूड स्विंग के साथ स्ट्रेस को खत्म करता है.

News18Hindi
Updated: February 15, 2018, 2:57 PM IST
डिप्रेशन जो दिमाग की वायरिंग बदलता है, खाने में शामिल करें ये हर्बल औषधियां
depression- डिप्रेशन
News18Hindi
Updated: February 15, 2018, 2:57 PM IST
डिप्रेशन एक ऐसी समस्या है जो किसे कब हो जाए पता ही नहीं चलता है. डिप्रेशन आपके दिमाग की वायरिंग से जुड़ा है. ये आपके दिमाग की वायरिंग को बदलकर काफी खराब कर देता है.

हमारे दिमाग में एक व्हाइट मैटर होता है जिसमें फाइबर होते हैं. ये दिमाग के सेल्स को एक-दूसरे से कनेक्ट होने से रोकता है.

व्हाइट मैटर के द्वारा ही हम भावनाओं को महसूस कर पाते हैं और कुछ सोचने की क्षमता रख पाते हैं. हालांकि डिप्रेशन लोगों के लिए आज के समय में एक साधारण-सी बीमारी हो चुकी है जिसमें अगर व्यक्ति को नींद ना आए, घबराहट हो या स्ट्रेस हो तो समझ लीजिए कि आप डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं.



ऐसे में आप इससे कैसे निकल सकते हैं ये आज हम बताने जा रहे हैं. कई हर्बल औषधियां ऐसी हैं जिनके इस्तेमाल से आप डिप्रेशन जैसे कीड़े से बाहर निकल सकते हैं. सबसे पहला है अश्वगंधा. ये आपके स्ट्रेस को कम करता है. इसमें कई ऐसे एक्टिव कंपाउंड्स होते हैं जिनमें एंटी-डिप्रेसेंट गुण पाए जाते हैं.

आप भी पेन कलेक्शन के शौकीन हैं तो यहां होगी आपकी तलाश पूरी


ब्रह्मी एक दूसरी औषधी है जो शरीर को स्ट्रेस से लड़ने की ताकत देती है. ये आपको शांत कर घबराहट को खत्म करती है. इसके अलावा आप जटामासी औषधी का भी प्रयोग कर सकते हैं. इसमें एंटी-डिप्रेसेंट, एंटी-स्ट्रेस और एंटी-फैटीग गुण होते हैं. ये आपके मूड स्विंग के साथ स्ट्रेस को खत्म करता है.

पुदीना एक ऐसी औषधी है जिसे अगर आप खाने में शामिल करते हैं तो डिप्रेशन के शिकार होने से बच सकते हैं. ये दिमाग को शांत कर आपके शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है.

Pic credit: pexels.com
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर