• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • दिल्ली के दरियागंज में मिलेगा देसी आइसक्रीम का स्वाद, पहुंचें 'ज्ञानी फ्रूट आइसक्रीम' की दुकान पर

दिल्ली के दरियागंज में मिलेगा देसी आइसक्रीम का स्वाद, पहुंचें 'ज्ञानी फ्रूट आइसक्रीम' की दुकान पर

फ्रूट आइसक्रीम की चाहत रखने वाले लोगों का एक से मन नहीं भरता.

नई दिल्ली स्थित दरियागंज (Dariyaganj) इलाके में गोलचा सिनेमा के सामने से जो सड़क दयानंद रोड की ओर जाती है, वहीं अंदर जाकर फ्रूट मार्केट (Fruit Market) में ज्ञानी फ्रूट आइसक्रीम की यह पुरानी दुकान मौजूद है.

  • Share this:
    (डॉ. रामेश्वर दयाल)

    गर्मी और उमस भरे इस दौर में हम आपको ठंडी-ठंडी आइसक्रीम का स्वाद चखवाते हैं. इसकी खासियत यह है कि यह देसी स्टाइल से बनी है और इसमें किसी पाउडर या एसेंस का प्रयोग नहीं किया जाता. पांच घंटे में बनकर क्रीम और ड्राई फ्रूट में लिपटी जब यह आइसक्रीम लोगों को पेश की जाती है तो शरीर के साथ-साथ आत्मा तक में ठंडक पहुंच जाती है. इस आइसक्रीम को चाहे तो कप में खाएं या सॉफ्टी कोन के ऊपर चढ़वा कर मजा लें. स्वाद ऐसा कि जीभ भी तरावट में बोलेगी 'वाह भई वाह'.

    करीब पांच घंटे में बनकर तैयार होती है ये आइसक्रीम
    नई दिल्ली स्थित दरियागंज इलाके में गोलचा सिनेमा के सामने से जो सड़क दयानंद रोड की ओर जाती है, वहीं अंदर जाकर फ्रूट मार्केट में ज्ञानी फ्रूट आइसक्रीम की यह पुरानी दुकान मौजूद है. चूंकि गर्मी व उमस से जान हलकान हो रही है, इसलिए पहले इस फ्रूट आइसक्रीम की बात कर लें. सुबह करीब 6 बजे यह फ्रूट आइसक्रीम गोदाम में बनना शुरू हो जाती है. दुकानदार का कहना है कि इसे देसी तरीके से तैयार किया जाता है. इसे बनाने में करीब 5 घंटे का वक्त लगता है. स्पेशल मशीन में दूध, क्रीम के अलावा ड्राई फ्रूट्स मिलाए जाते हैं. मशीन पर लगातार घूमने के बाद इसका स्वाद, कलर व हल्कापन उभरकर आता है. चूंकि यह देसी फ्रूट आइसक्रीम है, इसलिए इसमें किसी भी तरह का एसेंस या पाउडर नहीं मिलाया जाता. सर्व करते वक्त इस आइसक्रीम के ऊपर लाल-लाल चेरी का चूरा भुरका जाता है. फिर तो जो स्वाद आएगा, वह तो तन-मन को आनंदित करेगा ही.

    पूरी आइसक्रीम में माल ही माल है
    चेरी का चूरा भी गोदाम में तैयार किया जाता है. मात्र 30 रुपये में सॉफ्टी कोन या कप में भरकर इसे पेश किया जाता है. इसका स्वाद इतना जबरदस्त है कि फ्रूट आइसक्रीम की चाहत रखने वाले लोगों का एक से मन नहीं भरता. इतनी शानदार आइसक्रीम को घर के लिए भी ले जाना चाहें तो 130 रुपये में फैमिली पैक मौजूद है. इसके साथ पांच सॉफ्टी कोन भी दिए जाते हैं. पूरी आइसक्रीम में माल ही माल भरा है. बर्फ का इसमें कोई ‘स्थान’ नहीं है. चूंकि दरिया गंज का इलाका व्यस्तता से भरा हुआ है, इसलिए सुबह के समय इलाके में काम करने वाले लोग इस दुकान पर फ्रूट आइसक्रीम का मजा लेते नजर आते हैं. कोरोना काल से पहले जब इलाके के अनेकों स्कूल व एजुकेशन सेंटर खुले थे तो स्टूडेंट्स आकर लपर-लपर इसका स्वाद चखते थे. शाम से लेकर रात तक आसपास के रिहायशी इलाकों के अलावा दूरदराज के लोग भी इस देसी फ्रूट आइसक्रीम को मजा लेने आ जाते हैं.



    वर्ष 1972 में रेहड़ी पर बिकना शुरू हुई थी यह स्पेशल आइसक्रीम
    अब इस आइसक्रीम के ‘निर्माताओं’ की बात करें तो आपको पहले यह स्पष्ट कर दें कि इस दुकान का फतेहपुरी स्थित ज्ञानी फालूदे वाले से कोई संबंध नहीं है. इस आइसक्रीम को साल 1972 में यहीं सड़क पर अमरजीत सिंह ने रेहड़ी लगाकर बेचना शुरू किया था. करीब 16 साल से अब इस आइसक्रीम को उनके बेटे परमजीत सिंह दरिया गंज की फ्रूट मार्केट में बेच रहे हैं. अब इस काम में उनके बेटे मनमीत सिंह भी हाथ बंटाते हैं. सुबह साढ़े 11 बजे से लेकर रात 10 बजे तक इस दुकान पर आइसक्रीम का जलवा रहता है. महीने के आखिरी रविवार को दुकान पर अवकाश है. ज्ञानी फ्रूट आइसक्रीम की एक ब्रांच यमुना पार स्थित ऋषभ विहार मेन मार्केट में भी है, जहां परमजीत के छोटे भाई वीरेंद्रपाल सिंह लोगों को फ्रूट आइसक्रीम का स्वाद चखवा रहे हैं. वहां पर इसके अलावा 50 रुपये में रबड़ी फालूदा व कुल्फी फालूदा भी पेश किया जाता है. इस ब्रांच पर कोई अवकाश नहीं रहता.

    नजदीकी मेट्रो स्टेशन: दिल्ली गेट व जामा मस्जिद

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन