Dhanteras 2020: धनतेरस पर पार्टनर को दें ये ख़ास ज्वेलरी, आंखों में आ जाएगी चमक

धनतेरस 2020 पर सोने के आभूषण की खरीददारी करना शुभ होता है (pic credit: pexels/Bhoopal M)
धनतेरस 2020 पर सोने के आभूषण की खरीददारी करना शुभ होता है (pic credit: pexels/Bhoopal M)

धनतेरस (Dhanteras 2020) पर लोग सोना-चांदी (Gold-Silver), बर्तन और झाड़ू तक खरीदते हैं. इस दिन खरीददारी करने को शुभ माना जाता है और घर में खुशियों का प्रवेश होता है. अगर आप भी इस धनतेरस कुछ आभूषण खरीदने का मन बना रहे हैं तो हम आपके लिए कुछ विशेष विकल्प पेश कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 10:02 AM IST
  • Share this:
Dhanteras 2020: कोरोनाकाल (Corona Period) के बीच भी देशभर के बाजार एक बार फिर चमक उठे हैं. धनतेरस (Dhanteras), दिवाली (Diwali) और भाईदूज (Bhaidooj) को लेकर लोग जमकर खरीददारी (Purchasing) करने में जुटे हुए हैं. धनतेरस के मौके पर लोग सोना-चांदी (Gold-Silver), बर्तन और झाड़ू तक खरीदते हैं. इस दिन खरीददारी करने को शुभ माना जाता है और घर में खुशियों का प्रवेश होता है. अगर आप भी इस धनतेरस कुछ आभूषण खरीदने का मन बना रहे हैं तो हम आपके लिए कुछ विशेष विकल्प पेश कर रहे हैं.

सोने का सिक्का और स्वास्तिक
धनतेरस पर खरीददारी करना सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है. धनतेरस के मौके पर सोने और चांदी की खरीददारी भी शुभ मानी जाती है. इसमें आप देवी लक्ष्मी का सोने या चांदी का सिक्का भी खरीद सकते हैं. धनतेरस पर आप सेंटर टेबल बाउल, मेटल ट्रे, लक्ष्मी-गणेश की चांदी की मूर्ति के साथ शंख भी खरीद सकते हैं.

मीनाकारी आभूषण
आप इस धनतेस पर सिक्के और मूर्ति के साथ-साथ मीनाकारी आभूषण भी खरीद सकते हैं. बता दें कि मीनाकारी आभूषण, मेटल पर की गई तरह-तरह के रंगों से अद्भूत पेंटिंग की पर्सियन कला है. दिवाली जैसे खास मौके पर मीनाकारी आभूषणों का बड़ा महत्व होता है, क्योंकि यह पारंपरिक लुक की याद दिलाता है.



हीरे और सोने की आभूषण
धनतेरस पर हीरे और सोने की खरीददारी से बड़ी चीज क्या हो सकती है. इस शुभ अवसर पर इतनी खास चीज खरीदना लोगों के लिए बहुत मायने रखता है. ऐसे में धनतेरस के मौके पर इनमें निवेश करना आपके लिए उचित हो सकता है. कई लोग सोने के पेडेंट्स, अंगूठी, कान के झुमके, हीरे और कलरफुल ब्रेसलेट में भी निवेश करना पसंद करते हैं. इस धनतेरस हम इन्हीं विकल्पों पर ध्यान दे रहे हैं क्योंकि जिन लोगों की कीमती पत्थर, माणिक और पन्ना में अधिक दिलचस्पी है, उनके लिए यह बेहतर विकल्प हैं.

मॉड्यूलर ज्वेलरी
इस धनतेरस मॉड्यूलर ज्वेलरी भी खूब चर्चा में हैं. आगरा के कोहिनूर ज्वेलर्स के क्रिएटिव डायरेक्टर और पार्टनर मिलिंद माथुर ने कहा, इन दिनों बाजारों में मोड्यूलर ज्वेलरी की मांग काफी बढ़ गई है क्योंकि यह ज्वेलरी बेहद खास किस्म के होते हैं. मॉड्यूलर ज्वेलरी की बनावट और कलाकारी लोगों को जल्दी से आकर्षित करती है. उन्होंने कहा कि अधिकांश मॉड्यूलर ज्वेलरी के टुकड़े काफी लचीले होते हैं और इन्हें इंटरचेंज करके फिर से व्यवस्थित किया जा सकता है.

हल्के आभूषण
कोरोना काल में इस साल बाजारों ने नया रूप लिया है और महिलाओं के बीच नया ट्रेंड भी चलन में आया है. ऐसे में वे हैवी आभूषणों की जगह हलकी ज्वेलरी को तवज्जो दे रही हैं. महिलाओं में हल्की ज्वेलरी का क्रेज तेजी से बढ़ा है. महिलाएं इसमें बड़ी-बड़ी फैशनेबल अगूंठी भी कैरी करती हैं. इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि बाजारों में बढ़ती लूटपाट और चोरी के नजरिए से यह बहुत सहज है. आपको इसके खोने का ज्यादा दुख भी नहीं होता है.

चांदी के आभूषण
भले ही आप इस धनतेरस पर सोने के आभूषणों को तवज्जों दें लेकिन चांदी के आभूषणों का अपना अलग महत्व होता है जो परंपरागत है. इसके अलावा गुलाबी गोल्ड से लैस मार्कासाइट सिल्वर ज्वैलरी, मैट सिल्वर ज्वैलरी और सिल्वर ज्वैलरी 70 फीसदी देश में निर्यात होती है और 30 फीसदी देश में ही तैयार की जाती हैं और इन आभूषणों की मांग इस सीजन खूब हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज