ज्यादा तीखा खाना पड़ सकता है महंगा, इस बीमारी का बढ़ सकता है खतरा

अगर आपको भी तीखा खाना बहुत पसंद है तो संभल जाएं. एक अध्ययन का दावा है कि रोजाना 50 ग्राम से ज्यादा मिर्ची काने से डिमेंशिया रोग का खतरा बढ़ सकता है

News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 10:22 AM IST
ज्यादा तीखा खाना पड़ सकता है महंगा, इस बीमारी का बढ़ सकता है खतरा
अगर आपको भी तीखा खाना बहुत पसंद है तो संभल जाएं. एक अध्ययन का दावा है कि रोजाना 50 ग्राम से ज्यादा मिर्ची काने से डिमेंशिया रोग का खतरा बढ़ सकता है
News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 10:22 AM IST
कई लोगों को तीखा खाने की आदत होती है. वो तीखा खाने के इस कदर दीवाने होते हैं कि एक तरफ तो उन्हें उसकी पीड़ा बर्दाश्त नहीं होती, खाते-खाते रोने लगते हैं, वहीं दूसरी तरफ उनका खाना बंद भी नहीं होता.

हर साल स्कॉटलैंड में तीखा खाने की प्रतियोगिता होती है, जिसमें की दुनिया की सबसे तीखी डिश कही जाने वाली 'किलर करी' खानी होती है. इसमें कई लोग बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं. लेकिन गत वर्ष आयोजन के दौरान प्रतियोगी इस डिश को खाने के बाद फर्श पर गिरने और दर्द से छटपटाने लगे. अंतत: उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

ऐसे में अगर आपको भी तीखा खाना बहुत पसंद है तो संभल जाएं. एक अध्ययन का दावा है कि रोजाना 50 ग्राम से ज्यादा मिर्ची काने से डिमेंशिया रोग का खतरा बढ़ सकता है.

क्या है डिमेंशिया?

डिमेंशिया एक मानसिक बीमारी है. डिमेंशिया के लक्षण कई रोगों के कारण पैदा हो सकते है. ये सभी रोग मस्तिष्क की हानि करते हैं. डिमेंसिया के रोगी की याददाश्त कमजोर होती है.

डिमेंशिया के लक्षण

- ज़रूरी चीज़ें भूल जाना, खासकर हाल में हुई घटनाएं.
Loading...

- अपने आप में गुमसुम रहना, मेल-जोल बंद कर देना, चुप्पी साधना.

-छोटी-छोटी बात पर, या बिना कारण ही बौखला जाना, चिल्लाना, रोना, आदि

कतर यूनिर्सिटी के शोधकर्ता जुमिन शी के नेतृत्व में 55 साल से ज्यादा उम्र वाले 4,572 चीनी लोगों पर अध्ययन किया गया. इसमें उन लोगों की याददाश्त में तेज गिरावट में पाई गई, जो लंबे समय से रोजाना 50 ग्राम से ज्यादा मिर्च खाते थे. 50 ग्राम से ज्यादा मिर्च खाने वाले लोगों की याददाश्त में गिरावट का दोगुना खतरा पाया गया है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2019, 10:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...