क्या रोज आप भी नाश्ते में लेते हैं ब्रेड? जान लें इसके ये बड़े नुकसान

जरूरत से ज्यादा ब्रेड का सेवन सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है.

जरूरत से ज्यादा ब्रेड का सेवन सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है.

ब्रेड (Bread) खाना सबको पसंद है. इसकी वजह यह भी है कि इसे आसानी से और जल्‍दी से खाया जा सकता है. मगर इसका ज्‍यादा सेवन (Eating Bread) आपको नुकसान भी पहुंचा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2020, 5:56 PM IST
  • Share this:
आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी (Life) में ब्रेड (Bread) को अक्‍सर हर सुबह नाश्ते में खाया जाता है. ब्रेड आसानी से मुहैया हो जाती है और इसे जल्‍दी खा लेना भी आसान होता है. ऐसे में यह ज्‍यादातर लोगों की पसंद बन गई है. इसे ब्रेड पकौड़ा, सैंडविच आदि के तौर पर भी खाया जाता है. हर तरह से यह स्‍वादिष्‍ट लगती है. मार्केट में कई तरह की ब्रेड मिलती हैं, मगर ज्‍यादातर लोग व्हाइट ब्रेड खाना ही पसंद करते हैं. अगर आप भी हर दिन नाश्‍ते में ब्रेड का इस्‍तेमाल करते हैं, तो आपको इसके शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में भी जरूर जानना चाहिए. जरूरत से ज्यादा ब्रेड का सेवन सेहत (Health) को नुकसान भी पहुंचा सकता है. आइए जानते हैं कि व्हाइट ब्रेड का सेवन हमारी सेहत को किस तरह नुकसान पहुंचा सकता है.

बढ़ता है बीमारियों का खतरा
ज्‍यादा ब्रेड खाने से पाचन क्रिया पर असर पड़ सकता है. पत्रिका की एक रिपोर्ट के मुताबिक मैदे से बनी ब्रेड के ज्‍यादा इस्‍तेमाल से गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है. ब्रेड से कब्‍ज की समस्‍या हो सकती है. आगे चल कर यह समस्‍या पेप्टिक अल्‍सर जैसी गंभीर बीमारी की वजह भी बन सकती है. इसके अलावा ब्रेड को पचाने में भी शरीर को ज्‍यादा मेहनत करनी पड़ती है. साथ ही इसमें मौजूद कार्बोहाइड्रेट्स आपके लिवर कोनुकसान पहुंचा सकते हैं. ब्रेड में ऐसे पदार्थ होते हैं जिनकी वजह से पाचन क्रिया बिगड़ती है और इसके ज्‍यादा इस्‍तेमाल से पेट संबंधी बीमारी हो सकती है. वहीं इसे खाने से सीलिएक बीमारी के होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

ये भी पढ़ें - Post Covid-19 care: खाना निगलने में दिक्कत हो तो आजमाएं ये 8 टिप्स
नहीं मिलता पोषण


एक अन्‍य जगह प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक व्हाइट ब्रेड खाने से शरीर को किसी तरह का पोषण नहीं मिलता. इससे जल्‍दबाजी में नाश्‍ता तो आसान हो जाता है और पेट भी भर जाता है, मगर इससे शरीर को एनर्जी नहीं मिल पाती. इसकी वजह यह है कि इसमें प्रोटीन, विटामिन और फाइबर जैसे पोषक तत्‍व नहीं होते.

यह भी पढ़ें - इन आसान टिप्‍स को फॉलो करके आप बढ़ा सकते हैं अपनी मेमोरी पावर

बढ़ता है वजन
अपने शरीर के बढ़ते वजन से परेशान लोगों को अपनी डाइट में ब्रेड को शामिल नहीं करना चाहिए, क्‍योंकि अगर आप लगातार ब्रेड का सेवन करते हैं, तो इसकी वजह से आपका वजन बढ़ने लगेगा. इसे खाने से ब्लड शुगर लेवल में तेजी से उतार−चढ़ाव होता है, जो ज्‍यादा भूख लगने की अहम वजह है. यही वजह है कि आप ओवरईटिंग के शिकार हो जाते हैं. ऐसे में मैदे से बनी ब्रेड की जगह आटे से बनी ब्रेड का सेवन करना फायदेमंद रहता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज