क्या आप बच्चे को कराती हैं ब्रेस्ट फीडिंग? तो जरूर खाएं ये खास चीजें

डिलीवरी के बाद स्वस्थ खानपान से मानसिक और शारीरिक रूप से बेहतर महसूस करने में मदद मिलती है. Image-shutterstock.com

डिलीवरी के बाद स्वस्थ खानपान से मानसिक और शारीरिक रूप से बेहतर महसूस करने में मदद मिलती है. Image-shutterstock.com

Breastfeeding Food: अगर मां का आहार संपूर्ण पोषक तत्व प्रदान नहीं करता है, तो यह स्तन के दूध की गुणवत्ता और मां के स्वास्थ्य दोनों को प्रभावित कर सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 7:46 AM IST
  • Share this:
Breastfeeding Food: मां का दूध बच्चों के लिए पौष्टिक तत्वों (Nutrients) से भरा होता है. यह बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए बहुत ही जरूरी है. इसमें गुड फैट, चीनी, पानी और प्रोटीन का बेहतरीन संतुलन होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, जन्म से 6 महीने तक बच्चों को स्तनपान यानी ब्रेस्टफीडिंग जरूर करवाना चाहिए. स्तनपान न केवल बच्चे के लिए बल्कि मां के लिए भी कई तरह से फायदेमंद होता है. स्तनपान करवाने से बच्चों में हृदय रोग (Heart Disease) और डायबिटीज सहित कई गंभीर बीमारियों का खतरा कम हो जाता है. वहीं स्तनपान करवाने से महिलाओं का तनाव दूर होता है और बच्चे से अधिक जुड़ाव महसूस करने में भी मदद मिलती है. इसलिए मां के लिए यह आवश्यक है कि वह ब्रेस्ट मिल्क के उत्पादन में मदद के लिए पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें.

इसके अलावा, डिलीवरी के बाद स्वस्थ खानपान से मानसिक और शारीरिक रूप से बेहतर महसूस करने में मदद मिलती है. अगर मां का आहार संपूर्ण पोषक तत्व प्रदान नहीं करता है, तो यह स्तन के दूध की गुणवत्ता और मां के स्वास्थ्य दोनों को प्रभावित कर सकता है. आइए जानते हैं बेहतर स्तनपान के लिए कौन से फूड्स हैं जरूरी.

इसे भी पढ़ेंः इन लक्षणों से जानें इम्यूनिटी कमजोर होने के बारे में, कोरोना से बचाव के लिए भी है जरूरी

दलिया
स्तनपान कराने वाली महिलाओं में दूध की गुणवत्ता बढ़ाने में दलिया फायदेमंद होता है. यह आयरन की कमी को पूरा करता है, जिससे एनीमिया का जोखिम कम होता है.

अंडा

अंडा संपूर्ण प्रोटीन वाले कुछ खाद्य पदार्थों में से एक है. अंडे में विटामिन ए, विटामिन बी 12, विटामिन डी, विटामिन ई, फोलेट, सेलेनियम, कोलिन और कई अन्य खनिज मौजूद होते हैं. अंडे की जर्दी विटामिन डी से समृद्ध होती है, जो नवजात शिशुओं के लिए जरूरी है.



गाजर

नवजात शिशु के स्वस्थ विकास के लिए विटामिन ए सहायक होता है. गाजर में अल्फा और बीटा कैरोटीन होते हैं, जो स्तन के ऊतकों के स्वास्थ्य और स्तनपान को बढ़ावा देने में मदद करते हैं.

पालक

पालक और अन्य पत्तेदार सब्जियां स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए बहुत जरूरी हैं. इसमें विटामिन ए होता है जो बच्चे के स्वस्थ विकास में सहायक होता है. साथ ही इसके एंटीऑक्सीडेंट्स गुण बच्चे की इम्यूनटिटी को मजबूत करते हैं.

मछली

गर्भवती महिला ही नहीं बल्कि स्तनपान कराने वाली मां के लिए भी मछली फायदेमंद है. साल्मन मछली प्रोटीन और विटामिन डी का अच्छा स्रोत है. इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो नर्वस सिस्टम के विकास के लिए भी जरूरी है.

संतरा

स्तनपान के समय संतरे का रस पीना चाहिए. यह शरीर को हाइड्रेटेड रखने में मदद करता है. इसके अलावा यह विटामिन सी की आपूर्ति भी करता है.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में घर में रहने से बढ़ रहा है स्ट्रेस ? इन 3 टिप्स को करें फॉलो

बादाम

बादाम प्रोटीन, विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. यह मां के स्वास्थ्य और नवजात शिशु के लिए जरूरी है. स्तनपान कराने वाली मां के लिए बादाम और काजू जैसे मेवे दूध बढ़ाने में सहायक होते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज