खीरा खाने के बाद अगर पिया पानी तो शरीर को होंगे ये नुकसान!

News18Hindi
Updated: May 29, 2019, 11:11 AM IST
खीरा खाने के बाद अगर पिया पानी तो शरीर को होंगे ये नुकसान!
खीरा खाने के बाद पानी पीने के नुकसान

खीरा खाने के तुरंत बाद पानी पीने से इसलिए परहेज करना चाहिए क्योंकि इससे बॉडी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) तेजी से बढ़ता है. जिससे कई परेशानियां हो सकती हैं ...

  • Share this:
इसे कुदरत का करिश्मा ही कहा जा सकता है कि जब सूरज इतनी आग बरसाता है कि नदी, नालों का पानी तक सूखने लगता है तब रेतीली जमीन से ऐसे फल उपजते हैं जिनमें पानी की मात्रा भरपूर होती है. गर्मी के मौसम में खीरा, तरबूज और खरबूज जैसे कई मौसमी फल होते हैं जिसमें पानी की प्रचुर मात्रा होती है. यही वजन है कि इन फलों को खाने के बाद तुरंत पानी पीने से मना किया जाता है.

खीरे को गर्मियों के मौसम में राहत भरा फल कहना गलत नहीं होगा. इसमें पानी की प्रचुर मात्रा होती है, साथ ही कई पोषक तत्व भी होते हैं जो शरीर के लिए महत्वपूर्ण माने जाते हैं. खीरे का इस्तेमाल रायते, सलाद, सेंडविच और सब्जी तक में किया जा सकता है. वजन कम करने वाले लोग बहुतायत में इसका सेवन करते हैं. इसमें खनिज तत्व, विटामिन्स और इलेक्ट्रोलाइट्स भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. यही वजह है कि गर्मियों में इसका सेवन काफी फायदेमंद होता है. सेहत से संबंधित जानकारी रखने वाले कई जानकारों का मानना है कि खीरे के सेवन के बाद पानी पीना सेहत के लिए हानिकारक है. इससे बॉडी का मेटाबॉलिज्म खराब होता है साथ ही अपच की भी समस्या होती है. आइए जानते हैं इस बात में कितनी सच्चाई है?



टूट गया है दिल, महसूस कर रहें है अकेला, तो शरीर में यहां होगा तेज दर्द!

पोषक तत्वों से भरपूर खीरे में 95% पानी की मात्रा होती है. यह गर्मियों में शरीर में पानी की कमी को दूर करता है. इसके अलावा इसमें विटामिन C, पोटेशियम, कॉपर, मैग्नीशियम और सिलिका जैसे पोषक तत्व होते हैं. अगर आप खीरा खाने के तुरंत बाद पानी पीते हैं तो इससे आपके शरीर को इन पोषक तत्वों का फायदा नहीं मिल पाता है. दरअसल, कच्चा सलाद खाने के तुरंत बात पानी पीने से बॉडी पोषक तत्वों को पूरी तरह से सोख नहीं पाती है. इसलिए खीरा खाने के बाद तुरंत पानी नहीं पीना चाहिए.



सोलमेट की तलाश में भटक रहे हैं आप? मिलेगा ऐसे!
Loading...

खीरा खाने के तुरंत बाद पानी पीने से इसलिए परहेज करना चाहिए क्योंकि इससे बॉडी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI) तेजी से बढ़ता है. जिस वजह से शरीर में पाचन किया और अब्सॉर्ब करने की प्रक्रिया काफी धीमे हो जाती है. यह भी संभव है कि इस स्थिति में आपका शरीर आपकी आंतों से एक्स्ट्रा काम लेने लगे और बॉडी समान्य तरीके से काम न कर पाए.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 29, 2019, 10:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...