अपना शहर चुनें

States

सर्दियों में जरूर खाएं चौलाई का साग, इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग कर बीमारियों को रखेगा दूर

चौलाई की पत्तियों के सेवन से हृदय संबंधी कई समस्याओं से निजात पाया जा सकता है.
चौलाई की पत्तियों के सेवन से हृदय संबंधी कई समस्याओं से निजात पाया जा सकता है.

अमरनाथ के पत्ते या चौलाई के पत्ते (Amaranth Leaves) जरूरी फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सिडेंट्स का एक भंडार हैं जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद करते हैं और हेल्थ को अतिरिक्त पोषण (Nutrients) प्रदान करते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 7:39 AM IST
  • Share this:
हरी पत्तेदार सब्जियों (Green Leafy Vegetables) और साग का इस्तेमाल सर्दियों के मौसम (Winter) में सबसे अधिक किया जाता है. बेशक इन सब्जियों का स्वाद सर्दियों में लाजवाब लगता है. आमतौर पर लोग पालक (Spinach), मेथी या बथुआ का साग खाना पसंद करते हैं लेकिन अमरनाथ के पत्ते या चौलाई (Amaranth Leaves) के बारे में कम लोगों को ही पता होता है. दरअसल अमरनाथ के पत्ते या चौलाई के पत्ते जरूरी फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सिडेंट्स का एक भंडार हैं जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद करते हैं और हेल्थ को अतिरिक्त पोषण प्रदान करते हैं. सर्दियों की डाइट में इसे जरूर शामिल करें. आइए आपको बताते हैं चौलाई के सेहत से जुड़े कुछ फायदों के बारे में.

फाइबर से परिपूर्ण
अमरनाथ की पत्तियां घुलनशील और अघुलनशील फाइबर से भरपूर होती हैं जिसके कई फायदे हैं. फाइबर खाने से हमें अपने वजन को कम करने में मदद मिलती है और हृदय रोग से छुटकारा मिलता है क्योंकि यह ब्लड में कोलेस्ट्रॉल को कम करता है. चौलाई प्रोटीन और फाइबर में उच्च होती है जो भूख को कम करने और वजन घटाने में मदद कर सकती है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में जरूर खाएं ड्रैगन फ्रूट, इम्यूनिटी होती है मजबूत
आयरन से भरपूर


लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए आयरन की जरूरत होती है और सेलुलर चयापचय के लिए भी यह आवश्यक है. सर्दियों में चौलाई का भरपूर मात्रा में सेवन शरीर में आयरन की कमी को पूरा करता है. एनिमिक लोगों के लिए इसका सेवन बहुत लाभकारी है क्योंकि यह रक्त में आयरन के अधिकतम अवशोषण की सुविधा प्रदान करता है.

विटामिन ए से भरपूर
चौलाई के पत्ते विटामिन ए से भरपूर होते हैं. यह बीटा-कैरोटीन, ज़ेक्सैन्थिन और ल्यूटिन जैसे फ्लेवोनोइड पॉलीफेनोलिक एंटीऑक्सिडेंट से भी भरे हुए हैं जो मुक्त कणों के कारण होने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव के खिलाफ एक सुरक्षात्मक परत प्रदान करते हैं. हेल्दी स्किन और आंखों की रोशनी के लिए विटामिन ए की जरूरत होती है. इसलिए चौलाई का सेवन किसी न किसी रूप में जरूर करें.

पाचन तंत्र को ठीक करे
चौलाई के पत्तों को बीमारी के बाद या उन लोगों के लिए खाने की सलाह दी जाती है जो उपवास करते हैं क्योंकि ये पत्तियां आसानी से डाइजेस्ट होकर पाचन तंत्र को सुचारू बनाती हैं.

इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग करे
चौलाई की पत्तियों को अपने डाइट का एक नियमित हिस्सा जरूर बनाना चाहिए. ये पत्तेदार साग विटामिन सी से भरपूर होता है. इसमें मौजूद विटामिन पानी में घुलनशील विटामिन है और इसे संक्रमण से लड़ने और घाव के शीघ्र भरने के लिए जरूरी माना जाता है. चौलाई की पत्तियों का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करके शरीर को बीमारियों से लड़ने में मदद करता है.

विटामिन बी से भरा हुआ
चौलाई के पत्ते विटामिन बी से परिपूर्ण होते हैं. फोलेट, राइबोफ्लेविन, नियासिन, थियामिन, विटामिन बी 6 और अन्य सभी इन पत्तेदार साग में पाए जाते हैं. यह नवजात शिशुओं में जन्म दोष को रोकने में मदद करते हैं और मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी हैं.

इसे भी पढ़ेंः क्‍या है इंटरमिटेंट फास्टिंग, जानें इस उपवास में क्या खाएं और क्या नहीं

बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करे
अमरनाथ के पत्ते खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए जाने जाते हैं. बैड कोलेस्ट्रॉल ह्रदय सम्बन्धी कई समस्याओं को जन्म देता है. इसलिए चौलाई की पत्तियों के सेवन से हृदय संबंधी कई समस्याओं से निजात पाया जा सकता है.

कैल्शियम में समृद्ध
अमरनाथ के पत्ते कैल्शियम से भरपूर होते हैं और यह उन लोगों के लिए फायदेमंद होते हैं जो ऑस्टियोपोरोसिस और हड्डियों की अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हैं जो कैल्शियम की कमी से संबंधित है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज