अपना शहर चुनें

States

सुबह करते हैं जॉगिंग तो तुरंत खाएं ये 5 चीजें, तेजी से होगी मसल्‍स की रिकवरी

मसल्स रिकवरी के लिए वर्कआउट के साथ लाइफ स्‍टाइल में भी बदलाव की जरूरत होती है.
मसल्स रिकवरी के लिए वर्कआउट के साथ लाइफ स्‍टाइल में भी बदलाव की जरूरत होती है.

मसल्स रिकवरी के लिए वर्कआउट (Work out) ही नहीं बल्कि लाइफ स्‍टाइल में भी बदलाव की जरूरत होती है. लाइफ स्‍टाइल (Life Style) में सबसे ज्‍यादा जो बात जरूरी है वह है आपके खाने पीने में बदलाव.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 6:59 AM IST
  • Share this:
अगर आप फिटनेस (Fitness) लवर हैं और फिट रहने के लिए सुबह जॉगिंग (Jogging) के लिए निकलते हैं तो आपको कुछ बातें ध्‍यान में रखने की जरूरत है. कई लोगों को यह शिकायत रहती है कि वे जॉगिंग और एक्‍सरसाइज (Exercise) तो रोज करते हैं लेकिन इतनी मेहनत के बाद भी उनके मसल्‍स (Muscle) नहीं बनते. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मसल्स रिकवरी के लिए मात्र वर्कआउट (Work out) ही नहीं बल्कि लाइफ स्‍टाइल में भी बदलाव की जरूरत होती है. लाइफ स्‍टाइल (Life Style) में सबसे ज्‍यादा जो बात जरूरी है वह है आपके खाने पीने में बदलाव. खाने पीने में कुछ बदलाव कर आप अपने मसल्‍स को बढ़ा सकते हैं. अगर आपको भी जॉगिंग के साथ बढ़ानी हैं मसल्स तो जॉगिंग के बाद अपने भोजन में इन चीजों को शामिल करें. ये आपके वजन को कम करने और मसल्‍स को बढ़ाने में निश्चित रूप से मददगार साबित होंगी.

दही को करें शामिल


प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर दही वर्कआउट के बाद खाना चाहिए. यह बॉडी को तुरंत रीवाइटल करती है. दही खाने से शरीर हाइड्रेड तो होता ही है, यह आपको एनर्जी भी भरपूर देता है. शरीर के मसल्‍स को भी आराम देता है और सूजन को ठीक करता है.
मूंगफली का मक्‍खन



मूंगफली का मक्‍खन यानी पीनट बटर में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है. इसमें फाइबर, हेल्‍दी फैट्स, पोटेशियम भी मिलते हैं. इसके अलावा यह एंटी-ऑक्‍सीडेंट, मैगनीशियम और अन्‍य कई पोषक तत्‍वों का भी अच्‍छा सोर्स है जो मांसपेशियों की रिकवरी के लिए भी बहुत काम की चीज है. इसमें मौजूद विटामिन बी 6 और‍ जिंक भी मसल्‍स गेन करने में मदद करते हैं.

चिकन

नॉन-वेज में चिकन प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है. चिकेन में प्रोटीन अधिक और फैट की मात्रा कम होती है जिससे इसे खाने से शरीर में फैट नहीं होता केवल मसल्‍स गेन होते हैं. अगर आप वर्क आउट के बाद 100 ग्राम रोस्टेड चिकन खाते हैं तो आपको 31 ग्राम प्रोटीन तुरंत मिलता है. ऐसे में जो लोग मसल्स बनाना चाहते हैं उन्‍हें रोस्‍टेड चिकन खाना चाहिए.

ब्राउन राइस

सफेद राइस की तुलना में ब्राउन राइस में कैलोरी कम हो ती है. ब्राउन राइस में फाइबर उच्च मात्रा में होती है जिससे यह आपके मेटाबॉलिज़्म को बढ़ा देती है. सफेद चावल की तुलना में इसे कम मात्रा में खाकर भी आप अपना पेट भर सकते हैं जिससे आपके लिए वजन घटाना और मसल्‍स बढ़ाना आसान हो जाता है.

पानी जरूर पिएं

वर्क आउट के समय भी पानी पीते रहें और अगर बहुत पसीना आया है तो वर्क आउट के बाद पानी या जूस पिएं.   मसल्‍स को डीहाइड्रेट रखना जरूरी है.  वर्क आउट से पहले, बाद में और वर्कआउट के दौरान भी पानी की बोतल साथ में रखनी चाहिए. वर्क आउट के दौरान 15 से 20 मिनट के अंतर पर एक से डेढ़ कप पानी पीना जरूरी है. (Disclaimer:इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज