Home /News /lifestyle /

difference between hair keratin and smoothing treatment mt

क्या आप भी हेयर केराटिन और स्मूदनिंग को एक ही समझते हैं? जानें दोनों के बीच का अंतर

हेयर केराटिन सस्ता और हेयर स्मूदनिंग महंगा ट्रीटमेंट है.

हेयर केराटिन सस्ता और हेयर स्मूदनिंग महंगा ट्रीटमेंट है.

बालों को खूबसूरत बनाने के लिए कई महिलाएं सैलून में हेयर केराटिन और स्मूदनिंग ट्रीटमेंट कराना पसंद करती हैं. बावजूद इसके ज्यादातर महिलाओं को दोनों ट्रीटमेंट के बीच का सही अंतर नहीं पता होता है. जिसके चलते ना सिर्फ आपको बालों की मनचाही सुंदरता नहीं मिल पाती है बल्कि आपके पैसे भी वेस्ट हो जाते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Hair Care Tips: खूबसूरत बाल पाने के लिए महिलाएं क्या कुछ नहीं करती हैं. महंगे हेयर प्रोडक्ट अपनाने से लेकर सैलून में हेयर ट्रीटमेंट करनाने तक बालों को आकर्षक बनाने के लिए महिलाएं कई नुस्खे ट्राई करती हैं. वहीं कई महिलाएं बालों पर केराटिन और स्मूदनिंग ट्रीटमेंट (Keratin and Hair Smoothening) भी करवाती हैं. मगर वास्तव में हेयर केराटिन और स्मूदनिंग ट्रीटमेंट के बीच के अंतर से ज्यादातर महिलाएं पूरी तरह से वाकिफ नहीं होती हैं.

फैशन के इस दौर में हेयर केराटिन और स्मूदनिंग महिलाओं में काफी कॉमन हो गया है. हालांकि कुछ महिलाएं दोनों में अंतर जाने बिना ही बालों पर ये ट्रीटमेंट करा लेती हैं. जिससे उन्हें मनचाहा परिणाम नहीं मिल पाता है. इसीलिए हम आपको बताने जा रहे हैं केराटिन और स्मूदनिंग के बीच का अंतर, जिसे जानने के बाद आप अपने बालों के लिए अपनी चॉइस का ट्रीटमेंट आसानी से चुन सकती हैं.

हेयर केराटिन ट्रीटमेंट
केराटिन बालों पर किया जाने वाला एक नेचुरल हेयर ट्रीटमेंट है. जिसमें नेचुरल प्रोडक्ट का इस्तेमाल करके बालों की ड्रायनेस खत्म की जाती है. साथ ही केराटिन ट्रीटमेंट के दौरान बालों पर प्रोटीन की लेयर चढ़ायी जाती है. जिससे आप फ्रिजी बालों से छुटाकारा पाकर बालों को नेचुरली चमकदार बना सकते हैं.

ये भी पढ़ें: हीटिंग टूल्स इस्तेमाल करने के बाद बाल हो जाते हों ड्राई, तो इन तरीकों से बनाएं सॉफ्ट एंड शाइनी

हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट
हेयर स्मूदनिंग को बालो का बेस्ट ब्यूटी ट्रीटमेंट माना जाता है. इस दौरान बालों पर कई कैमिकल प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर उन्हें स्ट्रेट और शाइनी लुक दिया जाता है. साथ ही हेयर स्मूदनिंग से बाल काफी सॉफ्ट और सिल्की भी लगने लगते हैं. आइए अब जानते हैं हेयर स्मूदनिंग और हेयर केराटीन ट्रीटमेंट के बीच का फर्क.

समय में है अंतर
हेयर केराटिन और स्मूदनिंग के समय में काफी अंतर होता है. जहां हेयर केराटिन 3-6 महीनों तक बालों पर असरदार रहता है. वहीं हेयर स्मूदनिंग से बाल कई सालों तक स्ट्रेट, सिल्की और शाइनी बने रहते हैं.

प्राइस में फर्क
नेचुरल प्रोडक्ट का इस्तेमाल होने के चलते हेयर केराटिन ट्रीटमेंट सस्ता होता है. वहीं कई कैमिकल प्रोडक्ट से युक्त हेयर स्मूदनिंग बालों के लिए काफी मंहगा ट्रीटमेंट साबित होता है.

बालों के लिए बेहतर ट्रीटमेंट
हेयर केराटिन को बालों के लिए परफेक्ट माना जाता है. इसमें यूज किए जाने वाले नेचुरल प्रोडक्ट बालों को हानि नहीं पहुंचाते हैं. वहीं हेयर स्मूदनिंग के लिए बालों का हेल्दी होना जरूरी होता है. साथ ही स्मूदनिंग ट्रीटमेंट बालों पर ज्यादा समय तक असरदार भी रहता है.

ये भी पढ़ें: अगर जल्दी निकल जाता हो हेयर कलर, तो इन टिप्स को करें फॉलो

ये बरतें सावधानी
बता दें कि हेयर केराटिन और स्मूदनिंग ट्रीटमेंट हेल्दी बालों पर कराना बेहतर रहता है. वहीं इस प्रोसेस में इस्तेमाल होने वाले हीटिंग टूल्स पतले बालों के लिए काफी नुकसानदायक भी हो सकते हैं. इसके अलावा कैमिकल प्रोडक्ट के साइड इफेक्ट से बचने के लिए किसी प्रोफेशनल से ही ट्रीटमेंट कराने की कोशिश करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Darrell Hair, Fashion, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर