लाइव टीवी

पुरुषों को अंधा बना सकता है वियाग्रा का हाई डोज, रंगों को पहचानना भी मुश्किलः शोध

News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 11:58 AM IST
पुरुषों को अंधा बना सकता है वियाग्रा का हाई डोज, रंगों को पहचानना भी मुश्किलः शोध
पुरुष यौन तनाव का उपचार करने के लिए अक्सर बिना किसी विशेषज्ञ से सलाह लिए बगैर ही वियाग्रा लेते हैं.

पहली बार वियाग्रा का इस्तेमाल करने वाले पुरुषों पर हुए शोध में यह बात सामने आई है कि यह दवा आपकी आंखों की रोशनी को प्रभावित कर सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 11:58 AM IST
  • Share this:
क्या आप भी वियाग्रा (Viagra) इस्तेमाल करने की सोच रहे हैं ? तो वियाग्रा का इस्तेमाल करने से पहले आपको यह शोध पढ़ने की जरूरत है. पहली बार वियाग्रा का इस्तेमाल करने वाले पुरुषों पर हुए शोध में यह बात सामने आई है कि यह दवा आपकी आंखों की रोशनी को प्रभावित कर सकती है.

शोध के मुताबिक, जो पुरुष पहली बार वियाग्रा का इस्तेमाल हाई डोज में करते हैं. उनकी आंखों पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हाई डोज में वियाग्रा का इस्तेमाल करने वाले लोगों को कई तरह की समस्या हो सकती है.
हाई डोज में वियाग्रा का इस्तेमाल करने वाले लोगों को कई तरह की समस्या हो सकती है.


रंगों को पहचानना होता है मुश्किल

डीटी नेक्सट पर प्रकाशित शोध के मुताबिक, जो पुरुष हाई डोज में वियाग्रा का इस्तेमाल करते हैं, उन्हें रंगों को पहचाननें में परेशानी होती है. शोधकर्ताओं का कहना है कि जो पुरुष वियाग्रा का इस्तेमाल पहली बार कर रहे हैं, उन्हें इसकी शुरुआत कम डोज से करनी चाहिए. वक्त के साथ डोज को धीरे-धीरे ही बढ़ाना चाहिए. एक साथ ज्यादा मात्रा में वियाग्रा का इस्तेमाल करने से सेहत और आंखों को नुकसान पहुंचाता है. कुछ मामलों में पुरुष अंधेपन का शिकार भी हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : सवाल-जवाबः मेरी पत्नी करीब आने से बचती है, संभोग न करने के बहाने बनाती है, मैं क्या करूं?

[caption id="attachment_2849818" align="alignnone" width="875"]इस तरह की दवाओं का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए. इस तरह की दवाओं का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए.[/caption]विशेषज्ञों से सलाह लेना है जरूरी
फ्रंटियर इन न्यूरोलॉजी में प्रकाशित अध्ययन में वियाग्रा के हाई डोज से आंखों संबंधी समस्या हो सकती है. तुर्की के डुनयागोज अडाना हॉस्पिटल के डॉ. कुनेयत कारास्लान के अनुसार पुरुष यौन तनाव का उपचार करने के लिए अक्सर बिना किसी विशेषज्ञ से सलाह लिए बगैर ही वियाग्रा जैसी दवाओं का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं. उनके अनुसार वियाग्रा जैसी दवाएं बिना विशेष सलाह नहीं लेनी चाहिए.

 

डॉ. कारास्लान के अनुसार, ज्यादातर पुरुषों पर किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट अस्थाई और बहुत हल्का होता है. स्तंभन दोष के कारण पुरुष को मानसिक तनाव झेलना पड़ता है. इस दौरान किसी पुरुष के लिए यौन संबंध बनाना मुश्किल हो जाता है.



इसे भी पढ़ें : क्या महिला और पुरुषों दोनों मास्टरबेशन करते हैं? क्या यह एक बुरी आदत है?

इस तरह भी इस्तेमाल किया जाता है वियाग्रा
वियाग्रा लगभग 20 सालों से बाजार में बिक रही है. शुरुआती समय में वियाग्रा का इस्तेमाल ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात पाने के लिए किया जाता था. वक्त के साथ इस दवा का इस्तेमाल पुरुषों द्वारा गुप्तांग में मांसपेशियों को आराम दिलाने के लिए किया जाने लगा. जानकारों के अनुसार, वियाग्रा का इस्तेमाल करने के बाद इसका असर 3 से 5 घंटे तक बना रहता है. वियाग्रा का इस्तेमाल करने के बाद सिरदर्द और धुंधला-धुंधला दिखाई देने जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिल सकता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 11:44 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर