इन पांच जूस का नियमित सेवन करने से काले और हेल्दी रहेंगे आपके बाल

इन पांच जूस का नियमित सेवन करने से काले और हेल्दी रहेंगे आपके बाल
जूस हमारी सेहत को सुधारने के साथ ही बालों सेहत को भी सुधारते हैं.

फल के जूस (Juice) हमारी सेहत को सुधारते हैं. साथ ही ये जूस हमारे बालों (Hair) को काले मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं. आज हम आपको उन जूस के बारे में बता रहे हैं जिनको पीने से आपके बाल (Hair) काले और हेल्दी (Healthy) रहेंगे.

  • Last Updated: August 19, 2020, 6:43 AM IST
  • Share this:
फल और सब्जियों के जूस स्वास्थ्य (Health) के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन खास बात यह है कि इनके सेवन से बालों को भी हेल्दी रखा जा सकता है. फलों और सब्जियों के जूस के सेवन से बाल स्वस्थ और चमकदार बनते हैं. साथ ही बाल झड़ने की समस्या खत्म हो जाती है. myUpchar से जुड़ीं डॉ. नेहा सूर्यवंशी ने बताया कि बालों के झड़ने या बाल गिरने के कई कारण हो सकते हैं. जैसे थकान, त्वचा का रूखापन, भूख की कमी, कब्ज रहना, शरीर में सुन्नता, बार-बार बीमार होना आदि है. बाल झड़ने का कारण मानसिक तनाव भी हो सकता है. बालों को स्वस्थ और मजबूत बनाए रखने के लिए इन फलों और सब्जियों का जूस काम आ सकता है.

आलू का जूस
आलू का जूस बालों के लिए आश्चर्यजनक रूप से लाभ देता है. आयरन, विटामिन सी, जिंक, बीटा कैरोटीन और फॉस्फोरस का एक समृद्ध स्रोत होने के नाते यह कच्चा रस स्कैल्प सेल्स का पोषण कर सकता है और उनके स्वास्थ्य को बनाए रख सकता है. स्कैल्प के पीएच स्तर को संतुलित करके, आलू का जूस रूसी जैसी स्थिति का इलाज कर सकता है, जिससे बालों का झड़ना बंद हो जाता है. इस जूस से अपनी स्कैल्प की मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन में सुधार हो सकता है और उन्हें भीतर से मजबूत किया जा सकता है. आलू का जूस बनाने के लिए, पहले आलू को छीलें और टुकड़ों में काटें. उन्हें एक ब्लेंडर में डालें और थोड़ा पानी डालकर जब तक रस न निकले तब तक ब्लेंड करें. अब इसके पानी को निकाल कर तुरंत पी लें.

आंवला जूस
आंवला जूस बालों के लिए औषधि की तरह काम करता है. यह एक अविश्वसनीय एजेंट है जो पूरे बालों और स्कैल्प के लिए फायदेमंद है. आंवले का रस विटामिन सी से भरपूर होता है, जो एक प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट है जो फ्री रेडिकल्स से लड़ता है. कोशिकाओं की क्षति को कम करने और नई कोशिकाओं के विकास को बढ़ावा देकर आंवला जूस प्रभावी रूप से बालों के झड़ने को नियंत्रित कर सकता है. यह बालों के समय से पहले सफेद होने की प्रक्रिया को भी धीमा कर सकता है. इस जूस के एंटी-माइक्रोबियल गुण डैंड्रफ और यीस्ट इन्फेक्शन का मुकाबला करते हैं जो स्ट्रैंड्स को नुकसान पहुंचाते हैं. आंवला जूस बनाने के लिए एक ब्लेंडर में थोड़े पानी के साथ कटे हुए आंवले के टुकड़े डालें और इन्हें अच्छे से फेंटें. फिल्टर के जरिए पानी निकालें और पल्प को हटा दें. एसिडिटी को कम करने के लिए थोड़ा शहद मिलाएं और इसे पीने योग्य बनाएं.



गाजर का जूस
गाजर का जूस कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का एक भंडार है जो बालों को मजबूत, स्वस्थ और चमकदार बनाता है. इसमें उच्च मात्रा में कैरोटेनॉयड्स नाम के एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो आपके स्कैल्प की कोशिकाओं के ऑक्सीडेटिव क्षति को कम करते हैं. बीटाकैरोटीन, जो एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट भी है, शरीर द्वारा विटामिन ए में परिवर्तित हो जाता है. यह विटामिन बालों के झड़ने की समस्या को रोकता है. बालों को हाइड्रेट करने और उन्हें मुलायम और कोमल रखने के लिए स्कैल्प सीरम का उत्पादन करता है. गाजर का जूस बनाने के लिए गाजर को धोकर छील लें. उन्हें टुकड़ों में काटें. फिर थोड़े पानी के साथ उन्हें जार में डालें. स्मूथ प्यूरी बनने तक ब्लेंड करें. रस छान लें और इसका सेवन करें.

संतरे का जूस
संतरा सुपरफूड है. इनमें बहुत अधिक मात्रा में विटामिन सी होता है, जो बालों की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्स से लड़ता है. संतरे का रस बो-फ्लेवोनोइड्स से भरपूर होता है जो खून के अच्छे संचार को बढ़ावा देकर जड़ों तक ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ा सकता है. हर दिन संतरे का रस पीने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और संक्रमण पैदा करने वाले रोगाणुओं को रोका जा सकता है, जैसे स्कैल्प फंगस और बैक्टीरिया. संतरे के जूस में शहद मिलाकर पिएं.

एलोवेरा जूस
एलोवेरा का जूस बालों को कई चिकित्सीय लाभ देता है. यह जिंक, कॉपर और आयरन जैसे कई मिनरल्स में प्रचुर मात्रा में होता है जो स्ट्रैंड को मजबूत करते हैं और उन्हें पोषण देते हैं. इसके साथ ही, एलोवेरा पल्प में कई विटामिन जैसे सी, ई, और बीटा कैरोटीन होते हैं जो बालों का स्वास्थ्य को बनाए रखते हैं.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, बालों की देखभाल कैसे करें, घरेलू उपाय, नुस्खे, तरीके पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज