Home /News /lifestyle /

सर्दियों में इन 5 संकेतों को न करें नज़रअंदाज, शरीर में पानी की कमी की ओर करते हैं इशारा

सर्दियों में इन 5 संकेतों को न करें नज़रअंदाज, शरीर में पानी की कमी की ओर करते हैं इशारा

सर्दियों में प्यास कम लगने से शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है.

सर्दियों में प्यास कम लगने से शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है.

Dehydration signs: शरीर में पानी की कमी कई बीमारियों को न्यौता देती है. गर्मियों में तो आसानी से समझ आ जाता है कि शरीर में पानी कम हो रहा है लेकिन सर्दियों के मौसम में बॉडी को हाइड्रेट रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन ज़रूरी होता है. आज हम आपको कुछ लक्षण बताने जा रहे हैं जिससे आप शरीर में पानी की कमी को पहचान सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    Dehydration signs: हेल्दी और फिट रहने के लिए शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी का हर वक्त मौजूद होना ज़रूरी होता है. कई लोगों को लगता है कि शरीर में सिर्फ गर्मियों के मौसम में ही पानी की कमी होती है, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं. सर्दियों के मौसम में भी बॉडी डिहाइट्रेड हो सकती है. दरअसल, सर्दियों के मौसम में वैसे ही पानी पीना कम हो जाता है जिससे कई बार बॉ़डी को हाइड्रेट नहीं रख पाते हैं. शरीर में पानी की कमी होने ही उसके संकेत भी मिलने लगते हैं. अगर ज्यादा वक्त तक शरीर में पानी की कमी बनी रहे तो यह कई बीमारियों को पैदा कर सकती है.
    आज हम आपको शरीर में पानी की कमी होने के बाद उभरने वाले कुछ संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे पहचान कर आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि आपके शरीर में कहीं पानी की कमी तो नहीं हो रही है. पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर आप खुद को डिहाइड्रेशन से बचा सकते हैं.

    पानी की कमी के ये हैं संकेत

    1. हर वक्त भूख लगना – खाना खाने के बाद भी अगर बार-बार भूख महसूस होती है तो यह पानी की कमी की वजह से भी हो सकता है. दरअसल, जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी मौजूद नहीं होता है तो शरीर डिहाइड्रेट होने लगता है. इसके चलते बॉडी इमरजेंसी मोड में आ जाती है और लिवर (Liver) ग्लायकोजिन को होल्ड करने लगता है और इसी वजह से हमारे शरीर को बार-बार भूख महसूस होने लगती है.

    इसे भी पढ़ें: इलायची के फायदे जान लेंगे तो आज से ही कर देंगे खाने की शुरुआत

    2. यूरिन का पीलापन – शरीर में पानी की कमी का सबसे कॉमन लक्षण हमारी पेशाब (Urine) का पीला हो जाना होता है. बॉडी में जब फ्लूड लेवल कम होने लगता है तो किडनी में मौजूद वेस्ट कम मात्रा में यूरिन से बाहर जा पाता है. इस वजह से किडनी में जमा ज्यादा टॉक्सिन यूरिन के कलर को बदल देते हैं.

    3. सांसों की दुर्गंध – अगर मुंह से दुर्गंध आ रही है तो यह भी शरीर में पानी की कमी का संकेत हो सकता है. हमारे मुंह में सलाइवा पर्याप्त मात्रा में होता है तो वह बैक्टीरिया बढ़ने से रोकता है, लेकिन पानी कम पीने से सलाइवा के बनने में भी कमी आती है. इस वजह से बैक्टीरिया तेजी से पनपने लगते हैं और मुंह से बदबू आने लगती है.

    इसे भी पढ़ें: मसल्स वीकनेस, कम दिखाई देना कहीं विटामिन E की कमी से तो नहीं? जानें इसके लक्षण

    4. सिरदर्द – जब हम कम पानी पीते हैं तो शरीर का ब्लड सर्कुलेशन धीमा हो जाता है. रक्त का प्रवाह धीमा होने का सीधा मतलब है कि शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा कम होने लगती है जिसकी हमारे ब्रेन को जरूरत होती है. इस वजह से सिर में तेजी से दर्द शुरू हो सकता है.

    5. थकान – हमारे शरीर को अगर पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल पाता है तो बॉडी पानी की कमी की पूर्ति करने के लिए रक्त (Blood) से पानी लेती है. इस वजह से दिल को जरूरत से ज्यादा काम करने को मजबूर होना पड़ता है. जब दिल जरूरत से ज्यादा काम करने लगता है तो शरीर में थकान महसूस होने लगती है.

    Tags: Health, Health News, Lifestyle

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर