लाइव टीवी

सिर्फ मां नहीं पहली बार पिता बन रहे पुरुष को भी ध्यान रखनी चाहिए ये जरूरी बातें

News18Hindi
Updated: October 30, 2019, 2:23 PM IST
सिर्फ मां नहीं पहली बार पिता बन रहे पुरुष को भी ध्यान रखनी चाहिए ये जरूरी बातें
बच्‍चे की पर‍वरिश में उसका पहला साल सबसे अहम होता है. इस समय बच्‍चे को सबसे ज्‍यादा मां-बाप की जरूरत होती है.

जब आप पहली बार पिता बनते हैं तो आपका जीवन काफी हद तक बदल जाता है. पहले आप अपने और पत्नी के बारे में सोचते थे लेकिन अब आप पहले बच्‍चे के बारे में सोचने लगते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 2:23 PM IST
  • Share this:
जिस तरह एक बच्‍चे को अपनी मां की बहुत जरूरत होती है, ठीक उसी प्रकार बच्‍चे को अपने पिता के प्‍यार की भी जरूरत होती है. इसलिए हर पुरूष को पिता बनने के पहले साल में बच्‍चे के ज्‍यादा से ज्‍यादा नजदीक रहना चाहिए. ऐसा करने से दोनों के बीच का रिश्‍ता और मजबूत होता है. बहुत से पुरूषों को लगता है कि बच्‍चा संभालना केवल महिला का काम है. उन्हें बच्‍चे को संभालना बहुत कठिन और परेशानी वाला काम लगता है. पहली बार पिता बनना और बच्‍चे की जिम्‍मेदारियों को उठाना एक चुनौती है लेकिन इसे निभाना भी जरूरी है.

इसे भी पढ़ेंः बच्चे के बेहतर विकास के लिए जरूरी हैं दादा-दादी, ये है इसके पीछे का कारण

जब आप पहली बार पिता बनते हैं तो आपका जीवन काफी हद तक बदल जाता है. पहले आप अपने और अपनी पत्नी के बारे में सोचते थे लेकिन अब आप अपने से पहले बच्‍चे के बारे में सोचने लगते हैं. आजकल जहां एक ओर लोग सिंगल फैमिली में रहते हैं, वहीं दूसरी तरफ अधिकतर पति-पत्‍नी वर्किंग भी होते हैं. यही कारण है कि अब पिता को भी बच्चे की देखभाल करने में मां का हाथ बंटाना चाहिए. पिता के लिए बच्‍चे की देखभाल करना मां से कम नहीं है. ऐसे मे पहली बार पिता बन रहे पुरूषों को कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए.

पैटर्निटी लीव

बच्‍चे की पर‍वरिश में उसका पहला साल सबसे अहम होता है. इस समय बच्‍चे को सबसे ज्‍यादा मां-बाप की जरूरत होती है. इसका कारण है कि नवजात बच्‍चे का इम्‍युन सिस्‍टम उस समय बहुत कमजोर होता है. इसकी वजह से बच्‍चे को इंफेक्शन और बीमारियों का खतरा अधिक होता है. इसके अलावा, जन्‍म के पहले साल में बच्‍चा भावनात्‍मक रूप से माता-पिता से जुड़ा हुआ महसूस करता है. उन्‍हें पहचानने की कोशिश करता है. जिस तरह एक मां मैटर्निटी लीव लेती है, वैसे ही पिता को भी कुछ दिनों का पैटर्निटी लीव लेना चाहिए. आपके ऐसा करने से आप अपने बच्‍चे से भावनात्‍मक रूप से जुड़ पाते हैं और इस वक्‍त न केवल बच्‍चे को, बल्कि आपकी पत्‍नी को भी आपके साथ की बहुत ज्यादा जरूरत होती है.

आदतों में बदलाव

जिस तरह नई नौकरी ज्वाइन करने पर या शादी होने पर कई सारी चीजें बदलती हैं ठीक उसी तरह बच्चा होने पर भी बहुत कुछ बदल जाता है. सिर्फ इतना ही नहीं आपको भी उनके हिसाब से खुद को बदलना और एडजस्‍ट करना पड़ता है. पिता बनने के बाद अपनी कुछ आदतों को बदलना बहुत जरूरी हो जाता है. आपके सोने का समय, सर्तकता, तेज आवाज में बात न करना, गहरी नींद में न सोना, अपने काम खुद करना जैसी कई आदतों को आपको अपने बच्‍चे के लिए बदलना पड़ता है. आपको पत्नी के साथ मिलकर बच्चे की देखभाल करनी चाहिए और घर के कामकाज में पत्नी का हाथ भी बंटाना चाहिए ताकि वह बच्चे को समय दे सके.
Loading...

बच्चे की देखभाल जरूरी

पिता बनना और बच्चे की जिम्‍मेदारियों को निभाना एक बहुत बड़ी चुनौती होती है. आपको अपने बच्‍चे की देखभाल करने के लिए पूरी एनर्जी के साथ सारी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है. बच्‍चे की देखभाल का पहला साल बेहद मुश्किल होता है क्‍योंकि यह वह समय होता है, जब बच्‍चा कुछ बोलने-समझने में असमर्थ होता है. उसका न तो उठने का समय तय होता है और न ही सोने का. इसके अलावा उसके भूख प्‍यास का एहसास भी आपको उसके छोटे-छोटे इशारों या रोने से पता चलता है. इसलिए आपको खुद ही समझना पड़ता है कि कब वह भूख व परेशानी के कारण रो रहा है. कई बार हो सकता है आप काम से थके हुए घर आएं और उसके बाद आपका बच्‍चा आपको पूरी रात न सोने दे लेकिन ऐसे में धैर्य से काम लें और अपनी पत्‍नी के बारे में सोचें कि वह भी किस तरह इस स्थिति से निपटती होगी.

पत्‍नी व बच्‍चे को दें समय

मां बनने के बाद महिलाओं में कई बदलाव आते हैं, ऐसे में मां और बच्चे दोनों का शारीरिक व मानसिक रूप से स्‍वस्‍थ रहना बहुत जरूरी होता है. इसके लिए आप कोशिश करें कि अपने बच्‍चे और पत्‍नी के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं. दोनों की सेहत से जुड़ी बातों और जरूरतों का ध्‍यान रखें. दोनों पति-पत्‍नी अपने बच्‍चे को मिलकर अच्‍छी परवरिश व प्‍यार दें और भविष्‍य की योजनाएं बनाएं.

इसे भी पढ़ेंः अब इन तरीकों से जिद्दी बच्चें खाएंगे हेल्दी फूड्स, पैरेंट्स को करना है बस इतना काम

छोटी छोटी बातों का रखें ध्‍यान

पहली बार पिता बनने पर जरूरी है कि आप इन छोटी-छोटी बातों का ध्‍यान रखें. इनमें बच्‍चे को समय-समय पर टीका करण करवाना, बच्‍चे के खिलौने, उसकी जरूरत व देखभाल का सामान का ध्यान रखना शामिल है. इसके अलावा, आप बच्‍चे के साथ फोटोज, वीडियों जैसी यादों को भी जरूर समेंटें. इससे आप बच्‍चे और पत्‍नी के साथ खुशनुमा पल और यादें समेंट कर रख सकते हैं, जो कि आने वाले समय में आपके रिश्‍तों को और मजबूत करेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 2:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...