लाइव टीवी

षडज फाउंडेशन के वार्षिक उत्सव में एक साथ दिखीं 'तीन पीढ़ियां'

News18Hindi
Updated: November 13, 2019, 11:39 AM IST
षडज फाउंडेशन के वार्षिक उत्सव में एक साथ दिखीं 'तीन पीढ़ियां'
अपने प्रमाण पत्रों के साथ षडज फाउंडेशन के बाल कलाकार.

षडज फाउंडेशन में प्रशिक्षण ले रहे बच्चों ने नाट्य कार्यमक्रमों की प्रस्तुति दी. इस प्रस्तुति को देखकर तमाम दर्शक तालियां बजाने के लिए मजबूर हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2019, 11:39 AM IST
  • Share this:
हर वर्ष की तरह षडज फाउंडेशन संस्था के द्वारा इस साल भी वार्षिक उत्सव का आयोजन किया गया . "परंपरा 2019", 12 नवंबर, मंगलवार के दिन "मुक्तधारा ऑडिटोरियम", गोल मार्केट में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया . संस्था के संस्थापक "गुरु अरुणाभ चंदा जी" तथा "गुरु एमिली मुंशी चंदा जी" के देखरेख एवं उनके निर्देशन में इस कार्यक्रम का आयोजन हुआ.

इस बार के वार्षिक उत्सव की सबसे महत्वपूर्ण और खूबसूरत कथन यह है कि हमें कार्यक्रम के माध्यम से 'गुरु- शिष्य-परंपरा' ,की एक उत्कृष्ट झलक देखने को मिलती है .एक ही मंच पर 'तीन-पीढ़ी', 'गुरु- शिष्य -और उनके भी शिष्य', ऐसी मनमोहक झलक बहुत ही कम देखने को मिलती है . सौरभ शेषन , शुभंकर चटर्जी, सुष्मिता कानजीलाल , सूरज कुमार, अविनाश ठाकुर एवं अंजलि गौर षडज फाउंडेशन के वो महत्वपूर्ण कड़ियां है जो आज इसी संस्था में शिक्षक के रुप में कार्यरत हे. षडज फाउंडेशन द्वारा गुरु शिष्य परंपरा की इस विधि को बहुत ही अपनत्व के साथ संजोकर रखा जा रहा है .

षडज फाउंडेशन में प्रशिक्षण ले रहे बच्चों के द्वारा भरतनाट्यम, कथक, तबला एवं इंडियन कंटेंपरेरी नृत्य की प्रस्तुति दी गई .मुख्य अतिथि के रुप में "श्री बृजेश गोयल जी" (दिल्ली स्टेट कनवेनर आम आदमी पार्टी) पधारे तथा संगीत एवं नृत्य जगत के भी अनेक दिग्गज कलाकारों का आगमन हुआ. सब के आशीर्वाद के साथ इस कार्यक्रम की समाप्ति बहुत अच्छे ढंग से हुई .

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 11:38 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर