मजबूत हड्डियों के लिए डाइट में इन चार चीजों को करें शामिल, लेकिन इनको करें इग्नोर

लचीली मांसपेशियां और मजबूत हड्डियां दोनों शारीरिक रूप से फिट होने के लिए महत्वपूर्ण हैं.
लचीली मांसपेशियां और मजबूत हड्डियां दोनों शारीरिक रूप से फिट होने के लिए महत्वपूर्ण हैं.

हड्डियों की मजबूती से शरीर (Body) सुरक्षित होता है. इसलिए अपनी डाइट (Diet) में कुछ ऐसी चीजों को शामिल करना चाहिए, जिनसे हमारी हड्डियां मजबूत बन सकें.

  • Share this:
हड्डियां (Bones)हमारे शरीर को सहारा देती हैं. हल्के या भारी शरीर को संभालने का काम भी हड्डियां ही करती हैं. हर उम्र में हड्डियों की मजबूती से शरीर (Body) सुरक्षित होता है. इसलिए हमें अपनी डाइट (Diet) में कुछ ऐसी चीजों को शामिल करना चाहिए, जिनसे हमारी हड्डियां मजबूत बन सकें. क्योंकि लचीली मांसपेशियां और मजबूत हड्डियां दोनों शारीरिक रूप से फिट होने के लिए महत्वपूर्ण हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार कई पोषक तत्व हमारी हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं और सभी विटामिन डी और कैल्शियम प्रमुख हैं. मांसपेशियों के संकुचन, सक्रियण, मजबूत हड्डियों और दांतों के लिए कैल्शियम आवश्यक है. तो आइए आज हम आपको 4 ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी हड्डियों को मजबूत करने में मदद करते हैं.

सोयाबीन
यह प्रोटीन और कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत माना जाता है, इसलिए सोयाबीन को किसी न किसी ऱूप में हमारे आहार में शामिल करना चाहिए. कोलंबिया में मिसौरी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक रिसर्च से पता चला है कि सोया आधारित उत्पादों का सेवन हड्डियों को मजबूत करने में मदद कर सकता है.
हरी पत्तेदार सब्जी


हरी पत्तेदार सब्जी एक ऐसी चीज है जिसको अपने आहार में अवश्य शामिल करना चाहिए. केल, ब्रोकोली और पालक जैसी सब्जियां विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों से भरी होती हैं, जो न केवल आपके हड्डी के स्वास्थ्य के लिए अच्छी हैं, बल्कि अन्य पुरानी बीमारियों को भी दूर रखती हैं.

कद्दू के बीज
कद्दू के बीज मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत है, जो हड्डियों के निर्माण में मदद करते हैं. मैग्नीशियम का अधिक सेवन हड्डियों के घनत्व को बढ़ाता है और ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को कम करता है. इन बीजों में वसा भी होती है जो सूजन को कम करती है और हड्डियों की मजबूत बनाती है.

सार्डिन
सार्डिन भारत में व्यापक रूप से खायी जाने वाली मछलियों में से एक है. यह केरल और आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र में मुख्य आहार का एक हिस्सा है. सार्डिन कैल्शियम, विटामिन डी, विटामिन बी 12 और फॉस्फोरस और जस्ता जैसे अन्य हड्डी निर्माण खनिजों का एक समृद्ध स्रोत हैं.
इन चीजों को खाने से बचें

नमकीन भोजन
उच्च सोडियम सामग्री वाले भोजन से ब्लड प्रेशर का खतरा बढ़ सकता है, जो आपकी हड्डियों के लिए भी अच्छा नहीं है. सोडियम अपने उत्सर्जन को बढ़ाकर शरीर में कैल्शियम संतुलन की मात्रा को प्रभावित करता है. इसलिए आपको अपने भोजन में ऊपर से नमक नहीं छिड़कना चाहिए.

कैफीन पीने से बचें
कैफीन पीने के बाद आप ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं, लेकिन थोड़ी देर के बाद यह भावना दूर हो जाती है. जो लोग रोज 300 मिलीग्राम से अधिक कॉफी पीते हैं वे हड्डियों के नुकसान से पीड़ित होते हैं.

फ़िज़ी पेय को इग्नोर करें
चीनी और फास्फोरस में उच्च, फ़िज़ी पेय आपके दांतों और हड्डियों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. इसलिए जितना हो सके इनसे दूर रहने की कोशिश करें. 2006 के अनुसार, कार्बोनेटेड पेय, वृद्ध महिलाओं में कम हड्डियों के घनत्व से जुड़े होते हैं.

ये भी पढ़ें- Covid 19: प्रेंग्नेंसी में प्लेसेंटा को नुकसान पहुंचा सकता है कोरोना, क्या बच्चे के लिए भी है खतरा? जानें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज