होम /न्यूज /जीवन शैली /

Grahan 2022 : अगले साल लगेंगे कुल 4 सूर्य और चंद्र ग्रहण, जानें समय और सूतक काल

Grahan 2022 : अगले साल लगेंगे कुल 4 सूर्य और चंद्र ग्रहण, जानें समय और सूतक काल

अगले साल यानी 2022 में कुल चार ग्रहण लगेंगे जिसमें दो सूर्य और दो चंद्र ग्रहण होंगे.

अगले साल यानी 2022 में कुल चार ग्रहण लगेंगे जिसमें दो सूर्य और दो चंद्र ग्रहण होंगे.

Grahan 2022 Dates And Time : हिंदू पंचांग के अनुसार सूर्य (Solar Eclipse) और चंद्र (Lunar Eclipse) ग्रहण का बहुत महत्‍व है. अगले साल यानी 2022 में कुल चार ग्रहण लगने वाले हैं. इसमें दो सूर्य और दो चंद्र ग्रहण होंगे. साल का पहला सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2022 Date) 30 अप्रैल 2022 को लगेगा और 15 दिन बाद यानी 15 मई को साल का पहला चंद्र (Chandra Grahan 2022 Date) ग्रहण लगेगा. मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए. यहां हम आपको बता रहे हैं कि अगले साल ग्रहण का तारीख और समय (Grahan 2022 Time) कब होगा. बता दें कि इस साल यानी 2021 का सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को लगने वाला है और यह इस साल का अंतिम सूर्य ग्रहण होगा.

अधिक पढ़ें ...

    Grahan 2022 Dates And Time : पंचांग अनुसार साल 2022 का पहला सूर्यग्रहण  (Surya Grahan 2022 Date) 30 अप्रैल यानी शनिवार को लगेगा.  इसका समय (Surya Grahan 2022 Time) दोपहर 12:15 से लेकर शाम 04:07 बजे तक रहेगा. यह आंशिक ग्रहण होगा जिसका असर दक्षिणी/पश्चिमी अमेरिका, पेसिफिक अटलांटिक और अंटार्कटिका में मिलेगा. साल 2022 का दूसरा सूर्य ग्रहण मंगलवार 25 अक्टूबर को होगा. यह भी आंशिक ग्रहण ही होगा. हिंदू पंचांग के अनुसार यह ग्रहण 25 अक्टूबर मंगलवार शाम 16:29:10 बजे से शुरू होगा और 17:42:01 बजे तक रहेगा. इसे यूरोप, दक्षिणी/पश्चिमी एशिया, अफ्रीका और अटलांटिका में देखा जा सकेगा. इसका प्रभाव भारत में नहीं पड़ेगा. बता दें कि खगोलशास्त्रियों के अनुसार 18 साल में कुल 41 सूर्य ग्रहण लगते हैं लेकिन एक साल में अधिकतम पांच ग्रहण हो सकते हैं.

    2022 चंद्र ग्रहण कब लगेगा

    ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक, साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022 Date) 15 और 16 मई को  सुबह 7 बजकर 2 मिनट से शुरू होगा और 12 बजकर 20 मिनट तक रहेगा.ये दोनों ग्रहण पूर्णचंद्र ग्रहण होंगे.

    यह भी पढ़ें- भगवान शिव की पूजा में क्यों इस्तेमाल किया जाता है ‘बिल्वपत्र’, जानें ये जरूरी बातें

    यह पहला चंद्र ग्रहण होगा जिसका असर भारत में भी देखने को मिलेगा.  इसका प्रभाव दक्षिणी/पश्चिमी यूरोप, दक्षिणी/पश्चिमी एशिया, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, पैसिफिक, अटलांटिक, अंटार्कटिका, हिन्द महासागर में भी दिखने को मिलेगा. विशेषज्ञों का कहना है कि ग्रहण काल के दौरान सूतक काल अधिक प्रभावी होगा, ऐसे में इस दौरान आपको अधिक सावधानी बरतनी होगी. चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाता है जो चंद्र ग्रहण की समाप्ति पर खत्म होगा इस ग्रहण के दौरान सूतक काल अधिक प्रभावी होगा, ऐसे में अधिक सावधानी रखनी होगी.

    इसे भी पढ़ेंः शिव विवाह की कथा है बड़ी अनोखी, ऐसे हुआ था भोलेनाथ का माता पार्वती से विवाह

    साल का दूसरा चंद्र ग्रहण

    ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक, साल 2022 का दूसरा अंतिम चंद्र ग्रहण 8 नवंबर दोपहर 1 बजकर 32 मिनट से लेकर शाम 7 बजकर 27 मिनट तक रहेगा. यह पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा. आपको बता दें पहले की तरह यह भी पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा. इस दौरान सूतक काल अधिक प्रभावी होगा. इसका प्रभाव भारत समेत दक्षिणी/पूर्वी यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, पेसिफिक, अटलांटिक और हिंद महासागर में भी देखने को मिलेगा.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Lifestyle, Lunar eclipse, Solar eclipse, Surya Grahan

    अगली ख़बर