गुरु पूर्णिमा 2019: इस दिन गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा क्यों करते हैं लाखों श्रद्धालु?

ऐसा कहा जाता है कि इस‍ दिन बंगाली साधु सिर मुंडाकर गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करते हैं

News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 10:20 AM IST
गुरु पूर्णिमा 2019: इस दिन गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा क्यों करते हैं लाखों श्रद्धालु?
ऐसा कहा जाता है कि इस‍ दिन बंगाली साधु सिर मुंडाकर गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करते हैं
News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 10:20 AM IST
गुरु पूर्णिमा यानी गुरुओं का पर्व. इस दिन का हिंदू धर्म में खास महत्व है. इसी दिन चारों वेदों के व्याख्याता, महाभारत के रचयिता महर्षि वेद व्यास का जन्म हुआ था. इस बार गुरु पूर्णिमा के दिन यानी 16 जुलाई को ही चंद्रग्रहण भी पड़ रहा है. बीते साल गुरु पूर्णिमा के दिन ही सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण भी पड़ा था.

हालांकि बात गुरु पूर्णिमा की हो रही है, तो बता दें कि इस दिन सारे छात्र अपने गुरुओं की पूजा करते हैं, उनसे आशीर्वाद लेते हैं. कई जगहों पर उनके सम्मान में कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है.

लेकिन श्रद्धालुओं का एक तबका ऐसा भी है जो गुरु पूर्णिमा के त्‍योहार के दिन ब्रज में स्थित गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करता है. ऐसा कहा जाता है कि इस‍ दिन बंगाली साधु सिर मुंडाकर गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करते हैं, ब्रज में इसे मुड़िया पूनों नाम से जाना जाता है.

सनातनी परंपरा के अनुसार इस दिन से चार माह तक साधु-संत एक ही स्थान पर रहकर ज्ञान की गंगा बहाते हैं. इसलिए ये चार महीने अध्ययन के लिए उपयुक्त माने जाते हैं.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 16, 2019, 10:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...