दोपहर में लेंगे थोड़ी नींद तो कम होंगी दिल से जुड़ी समस्याएं: स्टडी

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 11:21 AM IST
दोपहर में लेंगे थोड़ी नींद तो कम होंगी दिल से जुड़ी समस्याएं: स्टडी
इस अध्ययन का उद्देश्य यह देखना था कि एक हफ्ते में एक व्यस्क दोपहर में कितने दिनों और कितने देर तक नींद लेता है. इस नींद का उसके शरीर पर कोई खास असर होता है या नहीं.

इस अध्ययन का उद्देश्य यह देखना था कि एक हफ्ते में एक व्यस्क दोपहर में कितने दिनों और कितने देर तक नींद लेता है. इस नींद का उसके शरीर पर कोई खास असर होता है या नहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2019, 11:21 AM IST
  • Share this:
अगर आपको भी दोपहर में सोने की आदत है तो आपके लिए एक अच्छी खबर है. 'दी टाइम्स' ने अपने सर्वे में पाया है कि जो लोग दोपहर में थोड़ी नींद लेते हैं उन्हें हार्ट अटैक (Heart attack) का खतरा कम रहता है. वहीं वह लोग जिन्हें दोपहर में सोने की आदत नहीं है, उनमें यह खतरा सोने वाले लोगों की तुलना में अधिक पाया गया है.

हालांकि दोपहर में सोना हमारे शरीर के लिए हेल्दी है या अन हेल्दी इस पर कोई ठोस राय नहीं बन पाई है, क्योंकि पहले के हुए अध्ययन में आए नतीजे अलग-अलग हैं. कुछ नतीजे इस बात की ओर संकेत करते हैं कि दोपहर में सोने से हमारे हार्ट और ब्लड सर्कुलेशन (blood circulation) से जुड़ी समस्याएं कम हो जाती हैं. वहीं कुछ समस्याओं के बढ़ जाने की बात करते हैं.

रोज़ नहीं हफ्ते में एक दो बार दोपहर में नींद लेना स्वास्थ्य के लिए अच्छा
'दी टाइम्स' ने यह ताजा अध्ययन स्विट्जरलैंड (Switzerland) के 3,462 व्यस्कों पर किया है. इस अध्ययन का उद्देश्य यह देखना था कि एक हफ्ते में एक व्यस्क दोपहर में कितने दिनों और कितने देर तक नींद लेता है. इस नींद का उसके शरीर पर कोई खास असर होता है या नहीं.

जब अध्ययन हुआ तो शोधकर्ताओं ने पाया कि हफ्ते में एक दो बार दोपहर में नींद लेना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है और यह हार्ट से जुड़ी समस्याओं को कम करने में सहायक भी है. लेकिन वहीं अगर कोई शख्स इससे अधिक नींद लेता है तो उल्टा असर करने लगता है.

अगर आप दिन के वक्त अधिक सोते हैं तो इसका प्रभाव आपके रात की नींद पर पड़ता है. स्लीप एपनिया (Sleep apnoea) इसी स्थिति का नाम है, जब हमारी रात की नींद खराब हो जाती है और हम कई स्वास्थ्य समस्याओं से जूझने लगते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 10:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...