होम /न्यूज /जीवन शैली /

Hair Care Tips: बालों की नहीं हो रही है ग्रोथ, तो ये भी हो सकते हैं कारण

Hair Care Tips: बालों की नहीं हो रही है ग्रोथ, तो ये भी हो सकते हैं कारण

स्ट्रेस लेने से भी बालों की ग्रोथ नहीं होती है

स्ट्रेस लेने से भी बालों की ग्रोथ नहीं होती है

Hair Care Tips: सुंदर और आकर्षक बालों (Hair) की चाहत तो सभी रखते हैं लेकिन कई बार बालों के टूटने और ग्रोथ (Growth) रुकने की समस्या पैदा हो जाती है. अमूमन सही पोषण न मिलने के कारण भी बालों पर सीधा असर पड़ता है. मगर, कई बार तमाम नुस्खे अपनाने के बावजूद भी बालों की लम्बाई नहीं बढ़ती है और बाल तेजी से टूटने लग जाते हैं. ऐसे में बिना कारण जाने बालों का उपचार करना नुकसानदायक हो सकता है. हालांकि बालों के झड़ने के कारणों (Reasons) का पता लगाकर आप आसानी से बालों को हेल्दी बनाने का सही तरीका आजमा सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Hair Care Tips: लम्बे, घने और खूबसूरत बाल भला किसे पसंद नहीं होते हैं. बालों को गुड लुकिंग बनाने के लिए लोग कई हेयर केयर टिप्स भी फॉलो करते हैं. मगर, कई बार बालों की खास देखभाल और स्पेशल हेयर केयर रूटीन (Hair Care Routine) अपनाने के बाद भी बालों की ग्रोथ बीच में ही रूक जाती है और बाल झड़ने (Hair Fall) की परेशानी भी आम हो जाती है. वहीं कई लोग बालों में आए इस बदलाव के कारणों (Cause) से पूरी तरह अंजान रहते हैं. अक्सर देखा गया है कि कई लोगों की लम्बे बाल रखने की ख्वाहिश रहती है लेकिन उनके बालों की ग्रोथ काफी धीमी होने लगती है, ऐसे में ज्यादातर लोग बिना कारण का पता लगाए ही बालों को लम्बा करने के उपचार खोजने लगते हैं.

इसी कड़ी में कई महंगे हेयर प्रोडक्ट्स भी बालों पर बेअसर साबित होने लगते हैं. इसीलिए हम आपको बताने जा रहे हैं बालों की ग्रोथ रुकने के कुछ जरूरी कारण, जिनका पता लगाकर आपको अपने बालों के लिए सही प्रोडक्ट चुनने में काफी आसानी हो जाएगी.

हॉर्मोन डिसबैलेंस

बाल टूटने की समस्या खासकर महिलाओं में काफी देखने को मिलती हैं. जिसका सबसे बड़ा कारण होते हैं एण्ड्रोजन हॉर्मोन. अक्सर थायराइड, पीरियड्स और प्रेग्नेंसी के समय शरीर में एण्ड्रोजन हार्मोन असंतुलित हो जाता है. जिसके कारण बाल झड़ने लगते हैं और बालों का बढ़ना भी कम हो जाता है.

ये भी पढ़ें: फ्रिजी हो गए हैं बाल तो इन आदतों में लाएं बदलाव, बनेंगे सिल्‍की और सॉफ्ट

जीन का प्रभाव

कई बार कम बाल और बालों की धीमी ग्रोथ जीन के कारण भी होती है. अगर आपके माता या पिता के बाल लम्बे नहीं हो पाते हैं. तो आप पर भी जीन का प्रभाव पड़ने के कारण बालों की ग्रोथ कम होती है.

बालों में न्यूट्रिएंट्स की कमी

शरीर में प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स जैसे पोषक तत्वों की कमी का भी सीधा असर बालों पर पड़ता है. ऐसे में प्रोटीन और विटामिन रिच डाइट से शरीर में पोषण की कमी पूरी करके आप बालों को हेल्दी बना सकते हैं.

हेयर प्रोडक्ट्स का असर

कई बार शैंपू, तेल, हेयर मास्क और कंडीशनर जैसे कुछ हेयर प्रोडक्ट बालों को सूट नहीं करते हैं. जिसके कारण बालों की ग्रोथ रूक जाती है. वहीं बालों पर स्टीमिंग और स्ट्रेटनर का इस्तेमाल करने से भी बाल झड़ने लगते हैं.

थायराइड हो सकता है कारण

थायराइड के रोगियों में भी बालों से जुड़ी परेशानियां आम होती हैं. थायराइड के चलते शरीर में मौजूद हाइपोथायरायडिज्म और हाइपरथायरायडिज्म बालों की लम्बाई को कम करके बाल झड़ने का कारण बनते हैं.

स्ट्रेस लेने से टूटते हैं बाल

अगर आप हद से ज्यादा तनाव लेते हैं, तो इसका असर आपके बालों पर भी होता है. स्ट्रेस लेने के कारण टेलोजेन एफ्लुवियम नामक स्थिति उत्पन्न हो जाती है. जिसके चलते स्कैल्प के पोर्स में नए बाल नहीं निकल पाते हैं और बाल तेजी से झड़ने भी लगते हैं.

ये भी पढ़ें: Hair Care Tips: बालों की बढ़ानी हो ग्रोथ और ब्यूटी, तो करें अर्जुन की छाल का इस्तेमाल

बुढ़ापे में रूकेगी बालों की ग्रोथ

बढ़ती उम्र के साथ बालों से जुड़ी समस्याएं भी बढ़ने लगती हैं. बुढ़ापे के कारण बालों का सफेद होना, तेजी से टूटना और बालों की ग्रोथ रूकने जैसी परेशानियां होने लगती हैं. ऐसे में अपनी डाइट का खास ख्याल रखना बेहद जरूरी हो जाता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Fashion, Hair Beauty tips, Helthy hair tips, Lifestyle

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर