कपड़ों की सेहत के लिए मशीन वॉश से बेहतर है हैंडवॉश

कई कपड़ों पर लिखा होता है, Only handwash. मशीनवॉश के युग में कपड़ों पर ऐसा क्यों लिखा रहता है, आपने सोचा है?

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 3:47 PM IST
कपड़ों की सेहत के लिए मशीन वॉश से बेहतर है हैंडवॉश
कई कपड़ों पर लिखा होता है, Only handwash. मशीनवॉश के युग में कपड़ों पर ऐसा क्यों लिखा रहता है, आपने सोचा है?
News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 3:47 PM IST
आजकल ज्यादातर घरों में कपड़े धोने के लिए वाशिंग मशीन का इस्तेमाल किया जा रहा है. ये सच है कि हाथों से कपड़े धोने की अपेक्षा मशीन में कम समय के साथ ही कम मेहनत भी लगती है. लेकिन क्या आपको पता है कि कपड़ों की सेहत के लिए मशीनवॉश से बेहतर है हैंडवॉश-

- अलग-अलग कपड़ों की फैब्रिक अलग-अलग होती है. लेकिन मशीन इस बात का ध्यान नहीं रखती. वह तो सभी कपड़ों को एक समान ही धोती है. इसलिए सॉफ्ट फैब्रिक वाले कपड़ों को हाथ से ही धोएं.

- कई कपड़ों पर लिखा होता है, Only handwash. मशीनवॉश के युग में कपड़ों पर ऐसा क्यों लिखा रहता है, आपने सोचा है?

- कपड़े के फटने, खराब होने के चांसेज़ मशीनवॉश में ज्यादा होते हैं. खासकर कश्मीरी, सिल्क और लेस वाले कपड़ों के खराब होने की संभावना अधिक रहती है.

ऐसे करें कम मेहनत में हाथ से कपड़े साफ

- एक बकेट में पानी भरें. अगर कॉटन के कपड़े साफ करने हो तो थोड़े गर्म नहीं तो ठंडे.

- इसमें हल्का डिटर्जेंट डालें और मिलाएं. अब एक-एक कर के कपड़ों को उसमें डाले, मसलें और पानी में फुलकारकर बाहर निकाल दें.
Loading...

- अब कपड़े में जमा पानी को निचोड़ लें और रस्सी पर सूखने को डाल दें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 3:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...