लाइव टीवी

इन डरावनी जगहों के बारे में सुना है आपने, जानें क्या है कहानी...

News18Hindi
Updated: November 7, 2019, 8:12 AM IST
इन डरावनी जगहों के बारे में सुना है आपने, जानें क्या है कहानी...
भारत की भूतिया जगहें (प्रतीकात्मक चित्र)

जानिए उन डरावनी जगहों के बारे में जहां आप गए तो आपकी रूह कांप जाएगी....

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2019, 8:12 AM IST
  • Share this:
भूत-प्रेत आत्माएं और भूतिया रास्तों के बारे में तो आपने कहानियों में अक्सर ही सुना होगा और कुछ फ़िल्में भी देखी होंगी. लेकिन अगर हकीकत में ऐसा हो जाए तो. लेकिन आप इस बात को लेकर एकदम बेफिक्र रहते हैं क्योंकि अभीतक भूत-प्रेत और आत्माओं को लेकर अभी तक कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिला है. लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने भूतिया जगहों को लेकर अपने अनुभव साझा किए हैं, आइए आज हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे डरावनी जगहों के बारे में जहां आप गए तो आपकी रूह कांप जाएगी. आइए आपको बताते हैं ऐसे ही कुछ रास्तों के बारे में:



दिल्ली के दिल यानी कि कनॉट प्लेस के पास अग्रसेन की बावड़ी है. इसमें जाने के लिए 106 सीढियां बनी हुई हैं. महाराजा अग्रसेन ने पानी को स्टोर करने के लिए इसे बनवाया था. लेकिन कहा जाता है कि इसमें काले रंग का पानी था जो लोगों को आत्महत्या करने के लिए उकसाता है. शाम में अंधेरा घिरने के बाद यहां जाना मना है.



पुणे के पास स्थित शनिवार वाड़ा का किला जितना खूबसूरत है उतना ही डरावना भी. इसे पीछे ये कहानी है कि इसमें रहने वाले राजकुमार की हत्या उसके रिश्तेदारों और पत्नी ने मिलकर कर दी थी. कहा जाता है कि आज भी राजकुमार की आत्मा इस किले में भटकती है. शाम होने के बाद लोगों का यहां आना मना है.


सूरत में अरेबियन सागर के पास दमास बीच को भी काफी डरावनी जगहों में से एक गिना जाता है. दरअसल, पहले यहां मृतक लोगों का अंतिम संस्कार किया जाता था. ऐसा माना जाता है कि यहां लोगों के आत्माएं भटकती हैं. सरकार ने इसे भी हॉन्टेड करार दिया है.
Loading...



राजस्थान का भानगढ़ किला दुनिया भर की डरावनी जगहों में काफी मशहूर है. यहां डरावनी गतिविधियों की बात सामने आने के बाद सरकार ने सूरज अस्त होने के बाद किसी भी व्यक्ति के किले में प्रवेश पर पाबंदी लगा दी है. अलवर के राजगढ़ तहसील में बने इस किले को 17वीं सदी में बनवाया गया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए यात्रा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 8:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...