लाइव टीवी

रोज पिएं दूध, बचाता है लंबी बीमारियों से: स्टडी

News18Hindi
Updated: October 9, 2019, 3:25 PM IST
रोज पिएं दूध, बचाता है लंबी बीमारियों से: स्टडी
रोज पिएं दूध, बचाता है लंबी बीमारियों से: स्टडी

दूध और डेयरी प्रॉडक्ट्स में कैल्शियम, प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटैशियम, जिंक, सेलेनियम, विटमिन ए, रिबोफ्लेविन, विटमिन बी12 और पैंटोथैनिक ऐसिड जैसे पोषक तत्व जो कि शरीर के बुनियादी विकास के लिए बेहद जरूरी हैं, पाए जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2019, 3:25 PM IST
  • Share this:
दूध में प्रचुर मात्रा में ऐसे पोषक तत्व पाए है जो बॉडी के समुचित विकास के लिए काफी जरूरी हैं. केवल आयुर्वेद में इसके गुणों का बखान नहीं किया गया है बल्कि आज के समय में भी डॉक्टर्स का मानना है कि हेल्दी ग्रोथ के लिए दूध पीना फायदेमंद है. इसमें कैल्शियम होता है जिससे कि हड्डियां मजबूत होती हैं. अगर मांसपेशियों में कोई चोट लग जाए तो वो जल्दी भर जाती है. वैसे तो आप इसके कई फायदों से अंजान नहीं होंगे लेकिन कुछ समय पहले ही दूध के रोजाना सेवन करने का एक नया फायदा पता चला है. वॉशिंगटन ने दूध के रोजाना सेवन पर एक स्टडी की जिसमें यह पता चला कि अगर कोई व्यक्ति डेली दूध का सेवन करता है तो उसे लंबे समय तक चलने वाली बीमारियों का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है.

इंडिया टुडे ने 'अडवांस इन न्यूट्रिशन' जर्नल के हवाले से छापा है कि रोजाना दूध पीने से क्रोनिक डिसीज, कार्डियोवैस्कुलर (cardiovascular), मेटाबोलिज्म सिंड्रोम, ब्लैडर कैंसर और टाइप 2 डायबिटीज का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है. इसके साथ ही इस स्टडी में यह बात भी सामने आई कि शारीरिक विकास, हड्डियों के टिश्यू में हड्डियों का मिनरल (bone mineral density), बढ़ते बच्चों की लंबाई, मसल्स को ग्रो करने वाले टिश्यू और प्रेगनेंसी या बच्चों को स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए दूध का सेवन काफी फायदेमंद है. इससे वर्टिब्रल फ्रैक्चर का खतरा भी कम हो जाता है.

इसे भी पढ़ें: दाल और अनाज में नहीं लगेंगे कीड़े, अगर करेंगे ये एक काम!

दूध और डेयरी प्रॉडक्ट्स में केवल कैल्शियम ही प्रचुर मात्रा में नहीं होता बल्कि इसके अलावा प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटैशियम, जिंक, सेलेनियम, विटमिन ए, रिबोफ्लेविन, विटमिन बी12 और पैंटोथैनिक ऐसिड जैसे पोषक तत्व जो कि शरीर के बुनियादी विकास के लिए बेहद जरूरी हैं, पाए जाते हैं.

इसे भी पढ़ें: वायु प्रदूषण से बढ़ रही लोगों में आत्महत्या की प्रवृत्ति

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 10:05 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...