गंभीर रोगों का शिकार बना रहा है आपका महंगा हेडफोन

हेडफोन कान में लगाकर घूमने वाले लोगों को शायद इस बात का पता ही नहीं होता कि उनका पसंदीदा और महंगा हेडफोन उन्हें गंभीर रोगों का शिकार बना रहा है

News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 2:57 PM IST
गंभीर रोगों का शिकार बना रहा है आपका महंगा हेडफोन
हेडफोन कान में लगाकर घूमने वाले लोगों को शायद इस बात का पता ही नहीं होता कि उनका पसंदीदा और महंगा हेडफोन उन्हें गंभीर रोगों का शिकार बना रहा है
News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 2:57 PM IST
अगर आप भी घंटों हेडफोन लगाकर गाने सुनना पसंद करते हैं या फिर वॉक करते समय वक्त काटने के लिए हेडफोन का इस्तेमाल करते हैं तो अगली बार ऐसा करने से पहले एक बार जरूर सोच लें. इस वॉर्निंग को भी एक बार जरूर याद कर लें. आपका ऐसा करना कई गंभीर रोगों को बुलावा देना हो सकता है. आइए जानते हैं हेडफोन के ज्यादा इस्तेमाल से आप किस तरह से बीमारियों से घिर सकते हैं.

इयरफोन या हेडफोन कान में लगाकर घूमने वाले लोगों को शायद इस बात का पता ही नहीं होता कि उनका पसंदीदा और महंगा हेडफोन उन्हें गंभीर रोगों का शिकार बना रहा है. दरअसल कान में लगने वाले हेडफोन की वजह से आपको कान में इंफेक्शन हो सकता है. जो कि एक समय के बाद गंभीर रूप घारण कर सकता है.

कान में इंनफेक्शन के अलावा आपका इयरफोन आपको कान के कैंसर का शिकार भी बना सकता है. अगर किसी व्यक्ति को कान में फंगल इंफेक्शन है और आप उसका इयरफोन इस्तेमाल करते हैं तो आपको भी इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ सकता है जो कि आगे जाकर कैंसर का कारण बनता है. इससे बचने के लिए इयरफोन या हेडफोन का कम से कम इस्तेमाल करें और दूसरे का इयरफोन इस्तेमाल करना छोड़ दें.

एक अध्ययन में पाया गया है कि लंबे समय तक हेडफोन का प्रयोग करने से सुनने की क्षमता धीरे-धीरे कम होने लगती है. जब भी आप इसका इस्तेमाल करें तो कुछ समय का अंतराल लेकर ही करें.

लंबे समय के लिए कान में इयरफोन लगाकर गाने सुनने से हमारे कान सुन्न भी हो सकते हैं. इसी के साथ हम सुनने की शक्ति भी धीरे-धीरे कम हो जाती है.

इयरफोन का इस्तेमाल लंबे समय तक करने से आपके कान में हवा का प्रवाह नहीं हो पाता है, जिससे कान में संक्रमण हो सकता है. इसके अलावा आप हमेशा के लिए अपने सुनने की शक्ति भी खो सकते हैं.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 27, 2019, 2:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...