लाइव टीवी

खून की कमी से जूझ रहा देश, लेकिन 56% भारतीयों ने कभी नहीं किया रक्तदान: सर्वे

News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 11:13 AM IST

सरकार और प्रशासन का यह दायित्व है कि लोगों में यह विश्वास पैदा करें कि उनके खून का सही इस्तेमाल किया जाएगा और रक्तदान करने वाले डोनर को पुरस्कार राशि देकर उन्हें प्रोत्साहित करें...

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 17, 2019, 11:13 AM IST
  • Share this:
विश्व भर में बीते कल यानी कि 14 जून को वर्ल्ड ब्लड डोनर डे मनाया गया. इस मौके पर कई रक्तदान शिविर आयोजित किए गए थे और लोगों ने बढ़-चढ़कर रक्तदान किया. हालांकि इसके बावजूद देश में खून की कमी बनी हुई है लेकिन ये जानकर और भी हैरानी होगी कि भारत में 56 फीसदी लोग चाहकर भी रक्दान नहीं कर पाए हैं. ये खुलासा हुआ UC Browser द्वारा वर्ल्ड ब्लड डोनर डे के दिन कराए गए एक सर्वेक्षण में.

इस सर्वे में देश के 70 हजार से ज्यादा लोगों ने भाग लिया था. आंकड़ों की मानें तो, करीब 56 फीसदी लोगों ने स्वीकार किया कि उन्होंने कभी भी रक्तदान नहीं किया है. सर्वे में लोगों ने ये कहा कि उन्हें इस बात का अंदाजा है कि रक्तदान करना कितना महत्वपूर्ण है और इससे किसी का जीवन भी बच सकता है. लेकिन उन्हें इस विषय में अधिक जानकारी नहीं है. वो नहीं जानते कि रक्तदान कैसे और कहां किया जाता है.

पढ़ें: #WorldBloodDonorDay: रक्तदान करने जा रहे हैं, तो पहले जान लें ये जरूरी बातें!

सर्वे में कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्होंने ब्लड बैंक की विश्वसनीयता पर शक जताया और कुछ को ये डर था कि कहीं मुनाफा कमाने के लिए उनका खून बेच न दिया जाए. इस सिलसिले में अगर लोकसभा में प्रस्तुत की गई रिपोर्ट पर नजर डालें तो जानकारी मिलती है कि देश में 14 राज्यों के 76 जिलों में अब तक एक भी ब्लड बैंक नहीं है.

ब्लड का ठीक से रखरखाव और उसे प्रिसर्व करने के लिए मशीनों के अभाव के चलते  हर साल करीब 521,791 लीटर खून बर्बाद हो जाता है. ये भी एक वजह हो सकती है जो लोग रक्तदान के महत्व को जानने के बाद भी इससे कतराते हैं.

पढ़ें: चमकी बुखार से 48 बच्चों की मौत, जानें क्या है चमकी बुखार और इसके लक्षण

इस स्थिति में सरकार और प्रशासन का यह दायित्व है कि लोगों में यह विश्वास पैदा करें कि उनके खून का सही इस्तेमाल किया जाएगा और रक्तदान करने वाले डोनर को पुरस्कार राशि देकर उन्हें प्रोत्साहित करें.लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 15, 2019, 12:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर