शार्प ब्रेन और मेमोरी पॉवर के लिए खाने में आज ही शामिल करें ये 8 फूड्स

शार्प ब्रेन और मेमोरी पॉवर के लिए खाने में आज ही शामिल करें ये 8 फूड्स
तेज दिमाग और मेमोरी के लिए खाएं ये

तेज दिमाग और मेमोरी के लिए खाएं ये (Food For Brain Power and Memory): स्वादिष्ट बैरीज एंटीऑक्सिडेंट से भरे होते हैं, जो उम्र बढ़ने का कारण बनने वाले फ्री-रेडिकल डैमेज को खत्म करते हैं और उनके पास न्यूरोप्रोटेक्टिव गुण भी होते हैं, जो मस्तिष्क की कोशिकाओं को रसायनों, प्लेक या आघात से होने वाले नुकसान से बचाकर उम्र से जुड़ी मेमोरी लॉस को रोक सकते हैं.

  • Last Updated: June 24, 2020, 9:34 AM IST
  • Share this:
सही आहार व्यक्ति के शारीरिक स्वास्थ्य ही नहीं मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा है. मस्तिष्क को भी पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, ठीक उसी तरह जिस तरह से दिल, फेफड़े या मांसपेशियों को होती है. myupchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि स्वादिष्ट बैरीज एंटीऑक्सिडेंट से भरे होते हैं, जो उम्र बढ़ने का कारण बनने वाले फ्री-रेडिकल डैमेज को खत्म करते हैं और उनके पास न्यूरोप्रोटेक्टिव गुण भी होते हैं, जो मस्तिष्क की कोशिकाओं को रसायनों, प्लेक या आघात से होने वाले नुकसान से बचाकर उम्र से जुड़ी मेमोरी लॉस को रोक सकते हैं. वे सूजन का मुकाबला भी करते हैं, जो उम्र बढ़ने का एक अन्य कारक है.

टमाटर

टमाटर में पाया जाने वाला एक पॉवरफुल एंटीऑक्सिडेंट लाइकोपीन कोशिकाओं को फ्री रेडिकल डैमेज से बचाने में मदद कर सकता है, जो डेमेंशिया विशेष रूप से अल्जाइमर के विकास में सहायक होता है.



चॉकलेट
इसमें फ्लेवोनोइड्स होता है जो कि एंटीऑक्सिडेंट्स का एक और वर्ग होता है. इसके मस्तिष्क के स्वास्थ्य से जुड़े संबंध पाए गए हैं. अन्य फ्लेवोनोइड युक्त खाद्य पदार्थों में सेब, लाल और बैंगनी अंगूर, रेड वाइन, प्याज, चाय और बीयर शामिल हैं.

नट्स

नट्स मस्तिष्क के लिए एक वंडर फूड हैं. यह प्रोटीन और आवश्यक फैटी एसिड से भरपूर हैं. नट्स भी अमीनो आर्जिनिन से भरे हुए हैं, जो ग्रोथ हार्मोन रिलीज करने के लिए मस्तिष्क के आधार पर पिट्यूटरी ग्रंथि को उत्तेजित करता है. यह एक पदार्थ, जिसमें 35 साल की उम्र के बाद जल्दी से गिरावट आती है.

ब्रोकोली

विटामिन का एक बड़ा स्रोत मस्तिष्क की शक्ति में सुधार करने के लिए जाना जाता है. ब्रोकली फोलेट और एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी का एक समृद्ध स्त्रोत है, जो मस्तिष्क के कार्यों में खास भूमिका निभाते हैं. इसमें मौजूद विटामिन बी याद्दाश्त सुधार और मानसिक सहनशक्ति बढ़ाने में मददगार है. एक कप में दो या तीन बार ब्रोकली खाने से अधिक उम्र में अल्जाइमर से पीड़ित होने की आशंका कम हो जाती है.

ग्रीन टी

ग्रीन टी अल्जाइमर रोग में मौजूद एक एंजाइम को रोकती है और यह पॉलीफेनोल में भी समृद्ध है. पॉलीफेनोल एक एंटीऑक्सिडेंट है जो मस्तिष्क की उम्र बढ़ने को रोकने में मदद करते हैं. इसके अलावा ग्रीन टी पीने से मस्तिष्क के अल्जाइमर और पार्किंसंस जैसे विकारों पर रोक लगती है. इसे दिन में दो कप पिएं.

पानी

शरीर की प्रत्येक कोशिका को पनपने के लिए पानी की आवश्यकता होती है और मस्तिष्क की कोशिकाएं अलग नहीं हैं. वास्तव में मस्तिष्क का लगभग तीन चौथाई हिस्सा पानी है. ओहायो यूनिवर्सिटी के एक अध्ययन में पाया गया कि जिन लोगों के शरीर अच्छी तरह से हाइड्रेटेड थे, उन्होंने उन लोगों की तुलना में ब्रेन पॉवर के परीक्षणों पर काफी बेहतर स्कोर किया जो पर्याप्त पानी नहीं पी रहे थे.

सैल्मन मछली

मछली प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर होती है जो कि मस्तिष्क के विकार में सहायक है. विशेष रूप से सैल्मन और ट्यूना मछली ज्यादा लाभकारी हैं. यह मस्तिष्क को युवा रखने और उम्र बढ़ने के साथ होने वाले मस्तिष्क संबंधी जोखिमों को कम करती हैं.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, कमजोर याददाश्त - लक्षण, कारण, बचाव, इलाज और दवा पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

 

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading