होम /न्यूज /जीवन शैली /Amitabh Bachchan का 25% लिवर कर रहा काम, डॉक्टर से जानें लिवर फेलियर से बचने के तरीके

Amitabh Bachchan का 25% लिवर कर रहा काम, डॉक्टर से जानें लिवर फेलियर से बचने के तरीके

बॉलीवुड स्टार अमिताभ बच्चन लिवर सिरोसिस की समस्या से जूझ रहे हैं.

बॉलीवुड स्टार अमिताभ बच्चन लिवर सिरोसिस की समस्या से जूझ रहे हैं.

How To Keep Liver Healthy: लिवर संबंधी परेशानियों से जूझ रहे लोगों को खास ख्याल रखने की जरूरत होती है. ऐसा न करना जानले ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

लिवर में रीग्रोथ की कैपेसिटी होती है, जिससे वह रिकवर भी कर सकता है.
हेपेटाइटिस B इंफेक्शन की वजह से लिवर फेलियर का खतरा बढ़ता है.

All About Liver Health: बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) मंगलवार को अपना 80वां जन्मदिन मनाएंगे. उम्रदराज होने के बावजूद अमिताभ अक्सर अपनी एक्टिव लाइफस्टाइल को लेकर चर्चाओं में रहते हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि अमिताभ बच्चन लंबे समय से लिवर सिरोसिस (Liver Cirrhosis) की समस्या से जूझ रहे हैं. कई मौकों पर उन्होंने यह भी बताया कि उनका 25 पर्सेंट लिवर ही काम करता है और उसी के सहारे वे अपनी जिंदगी गुजार रहे हैं. अब सवाल उठता है कि क्या इतने कम लिवर फंक्शन पर भी लोग अपने सभी काम आसानी से कर सकते हैं? आज लिवर एक्सपर्ट से जानेंगे कि लिवर किन वजहों से फेल हो जाता है और इसे कैसे हेल्दी रखा जा सकता है.

कितना पर्सेंट लिवर फंक्शन जरूरी?
नई दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल के लिवर स्पेशलिस्ट डॉ. अनिल अरोड़ा के मुताबिक किसी व्यक्ति का लिवर 15-20 पर्सेंट भी काम कर रहा है, तो वह अपने सभी काम कर सकता है. लिवर में रीग्रोथ की कैपेसिटी होती है. अगर लिवर फंक्शन कम होने के सटीक कारण का पता लगाकर इलाज किया जाए तो लिवर फंक्शनिंग बढ़ भी सकती है. ज्यादा उम्र के लोगों की लिवर फंक्शनिंग को बढ़ाना संभव नहीं होता, जिसे इनकरेक्टेबल प्रॉब्लम कहा जा सकता है. इसके अलावा लिवर सिरोसिस के मामलों में मरीज का 75 से 80 पर्सेंट लिवर डैमेज हो जाता है. अभिताभ बच्चन भी इसी समस्या से जूझ रहे हैं. हालांकि 20 से 25 प्रतिशत लिवर फंक्शनिंग को बरकरार रखकर भी लोग आसानी से सर्वाइव कर सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः मेंटल हेल्थ को लेकर यह गलती सेलिब्रिटीज पर भी पड़ रही भारी

लिवर खराब होने की सबसे बड़ी वजह
डॉ. अनिल अरोड़ा कहते हैं कि लिवर खराब होने के चार मुख्य कारण होते हैं- शराब का सेवन, मोटापा, डायबिटीज, हेपेटाइटिस B और हेपेटाइटिस C. करीब 90 फीसदी मामलों में लिवर फेलियर इन्हीं कारणों से होता है. बुजुर्गों में उम्र बढ़ने के साथ लिवर कमजोर होने लगता है. सही समय पर लिवर प्रॉब्लम का इलाज कराया जाए तो लिवर फेलियर जैसी खतरनाक स्थिति से बचा जा सकता है. लिवर की बीमारियों से जूझ रहे लोगों को सख्ती से परहेज करना चाहिए ताकि परेशानी सीवियर न हो. इसके लिए लोगों को समय-समय पर चेकअप कराना चाहिए.

यह भी पढ़ेंः डायबिटीज को खत्म करने का मिल गया इलाज ! इस सब्जी से तैयार करें ‘दवा’

लिवर खराब होने के लक्षण
– पीलिया होना
– पेट में पानी भरना
– पैरों में सूजन होना
– खून की उल्टी होना
– काले रंग का मल आना

लिवर फेलियर से कैसे करें बचाव?
लिवर स्पेशलिस्ट डॉ. अनिल अरोड़ा कहते हैं कि लिवर फेलियर से बचने के लिए आपको डायबिटीज, ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखना चाहिए और हेपेटाइटिस की वैक्सीन लगवानी चाहिए. इसके अलावा एल्कोहल पूरी तरह बंद कर दें, अपना वेट (BMI) मेंटेन करें, फास्ट फूड्स न खाएं, रेगुलर एक्सरसाइज करें और मोटापा कम करें. जंक फूड का अत्यधिक सेवन लिवर फंक्शनिंग को बिगाड़ देता है. लिवर को हेल्दी रखने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लेनी चाहिए. समय-समय पर हेपेटाइटिस की जांच करानी चाहिए और किसी भी तरह की समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

Tags: Amitabh bachchan, Health, Lifestyle, Trending news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें