Home /News /lifestyle /

benefits of doing vajrasan after eating in hindi

खाना खाने के बाद वज्रासन में बैठें, पाचन मज़बूत होने के अलावा मिलेंगे और भी कई फायदे

वज्रासन खाना पचाने में मदद करता है.

वज्रासन खाना पचाने में मदद करता है.

योग हमारी ज़िंदगी में फिटनेस के लिए बेहद ज़रूरी है. आज हम आपको बताते हैं उस योगासन के बारे में जिसे आप खाना खाने के बाद कर सकते हैं. इस आसन को करना इतना आसान है कि बच्चों से लेकर बड़े तक इसे आराम से कर सकते हैं. आइए जानते हैं इसके फायदे.

अधिक पढ़ें ...

Benefits of doing Vajrasana  –अगर खाना खाने के बाद आप भरा-भरा महसूस करते हैं या चलने फिरने में दिक्कत महसूस होती है, तो अपने रूटीन में योग को शामिल करें. यह आपको फिट रखेगा और पेट से जुड़ी कई समस्याएं दूर होंगी. आज हम आपको बताते हैं उस आसन के फायदे के बारे में जिसे आप खाना खाने के बाद कर सकते हैं. 

नेशनललाइब्रेरीऑफमेडिसिन  के मुताबिक अगर हार्मोन्स असंतुलित रहते हैं, तो इसे बैलेंस करने के लिए आप वज्रासन कर सकते हैं. इसे करने से आपका स्लीपिंग पैटर्न भी बेहतर होता है. इस आसन को हर उम्र के लोग आसानी से कर सकते हैं.बच्चों में भी वज्रासन करने की आदत विकसित कर सकते हैं, ताकि उनका डाइजेशन बेहतर रहे.आइए जानते हैं वज्रासन करने के और क्या-क्या फायदे होते हैं.

ये भी पढ़ें: डेंगू का बढ़ रहा है अटैक, इन लक्षणों के दिखते ही तुरंत पहुंचें डॉक्टर के पास

वज्रासन के लाभ
– वज्रासन नाड़ी को स्टिमुलेट करता है, जिससे खाना पचाने में आसानी होती है.
– यह सायटिका, नर्व से जुड़ी प्रॉब्लम और अपच से निजात दिलाने में मदद करता है.
– यह पेल्विक एरिया और पेट तक ब्लड फ्लो में सुधार लाता है, जिससे बाउल मूवमेंट में मदद मिलती है.
– यह शरीर में पौष्टिक तत्वों को अब्जॉर्ब करने में मदद करता है.
– यह लिवर फंक्शन में भी मदद करता है.
– यह पाचन से जुड़ी समस्याओं को खत्म करने में असरदार होता है.

ये भी पढ़ें: कद्दू से लेकर छोले तक, 7 फूड आयटम वेट लॉस करने में करेंगे मदद

वज्रासन करने का सही तरीका
सबसे पहले अपने घुटनों पर बैठें.
– अपनी स्पाइन को सीधा रखें.
– पैर जमीन पर सीधे रखें और उंगलियों को जमीन की ओर व एड़ियां छत की ओर हों.
– अपनी सांसों पर ध्यान लगाएं और इसी आसन को होल्ड करके रखें.
– कुछ मिनट तक इसी पॉश्चर में बैठे रहें.

यह इकलौता ऐसा आसन है जिसे पेट भरने के बाद भी किया जा सकता है. इससे जांघों, पैरों, हिप्स, घुटनों, कमर, टखनों की समस्याओं से निपटने में आराम मिलता है. अगर पैर या घुटने में चोट लगी है या दर्द हो रहा है, तो इस आसन को करने से बचें. यह आसन करने में काफी आसान है, इसे अपनी सुविधानुसार कुछ मिनट के लिए किया जा सकता है.

Tags: Nutrition, Yogasan

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर