Home /News /lifestyle /

benefits of morning dew oos ki boond ke sehat labh in hindi ans

ओस की बूंदें आंखों से लेकर स्किन को रखती हैं हेल्दी, जानें इसके अन्य सेहत लाभ

आंखें सुबह उठने के बाद लाल नजर आती हैं, तो ताजा ओस की कुछ बूंदों को आंखों में डाल सकते हैं.

आंखें सुबह उठने के बाद लाल नजर आती हैं, तो ताजा ओस की कुछ बूंदों को आंखों में डाल सकते हैं.

ओस की बूंदें देखने में जितनी छोटी होती हैं, सेहत पर इनके फायदे उतने ही बड़े-बड़े होते हैं. आइए जानते हैं ओस की बूंदें किस तरह से स्वास्थ्य लाभ पहुंचाती हैं.

Benefits of Morning Dew: सुबह पेड़-पौधों, फूल-पत्तियों और हरे-भरे घास पर पड़ी ओस की बूंदों को देखकर मन तरोताजा हो उठता है. कहते हैं ओस की बूंदों से ढकी घास पर चलने से सेहत को कई लाभ होते हैं, लेकिन आज की इस भागती-दौड़ती जिंदगी में किसी के पास भी इतना समय नहीं है कि वे प्रकृति के बीच जाकर कुछ पल समय व्यतीत करें. हरियाली और इन छोटी-छोटी ओस की बूंदों को देखें, उन्हें छुएं और इन भीगी घास पर चलें. ओस की बूंदें देखने में जितनी छोटी होती हैं, सेहत पर इनके फायदे उतने ही बड़े-बड़े होते हैं. आइए जानते हैं ओस की बूंद किस तरह से स्वास्थ्य लाभ पहुंचाती है.

इसे भी पढ़ें: हर रोज बस आधे घंटे की मॉर्निंग वॉक आपको देगी ये 9 हेल्थ बेनिफिट्स

ओस की बूंदों के सेहत पर होने वाले फायदे

डॉक्टरहेल्थबेनिफिट्स डॉट कॉम में छपी एक खबर के अनुसार, सुबह की ओस वाटर वेपर्स से आती हैं. सुबह की ओस ठंडी मानी जाती है. एक शोध के अनुसार, इनमें 14-16 पीपीएम तक भरपूर ऑक्सीजन होती है. यदि आप ओस की बूंदों को किसी बर्तन में इकट्ठा करके रखें और इसे चेहरे पर लगाएं, तो स्किन को काफी फायदा पहुंचता है.

-सारा दिन काम करके शरीर थक जाता है. ऊर्जा की कमी हो जाती है. शरीरिक रूप से कुछ लोगों को अधिक मेहनत करने से कमजोरी भी महसूस होने लगती है. ऐसे में आप सुबह की ओस को एकत्रित करके पी भी सकते हैं. इससे शरीर तरोताजा हो जाता है और आप दिन भर की सभी गतिविधियों के लिए खुद को तैयार कर पाते हैं.

इसे भी पढ़ें: अंगूर के बीजों से बना तेल सेहत पर करे कमाल का असर, हृदय रोग से लेकर कैंसर का जोखिम हो कम

-सुबह की ओस में उच्च ऑक्सीजन की मात्रा होती है, जो इसे त्वचा की देखभाल के लिए उपयुक्त बनाती है. इससे पिंपल्स और झाइयां नहीं होती हैं. यदि आपको पहले से ही मुंहासे हैं, तो सुबह की ओस को नियमित रूप से त्वचा पर लगाएं. आप इसे पी सकते हैं या फिर चेहरे पर स्प्रे कर सकते हैं.

-यदि आपकी आंखें सुबह उठने के बाद लाल नजर आती हैं, तो इससे निजात पाने के लिए सुबह की ताजा ओस की कुछ बूंदों को अपनी प्रभावित आंखों में डाल सकते हैं. इससे आंखें स्वस्थ भी रहेंगी और आंखों की रोशनी भी बढ़ेगी.

-मुंहासों के अलावा, कुछ लोगों को अत्यधिक सीबम या ऑयली स्किन की समस्या परेशान करती है. सुबह की ओस को चेहरे पर लगाने या इसे इकट्ठा करके पीने से चेहरे का तैलीयपन कम होता है. ऑयली स्किन अत्यधिक सीबम के कारण भी होता है.

-सुबह की ओस का सेवन करने से शरीर से टॉक्सिन पदार्थ या हानिकारक विषाक्त पदार्थों को निकालने की प्रक्रिया में भी मदद करती है.

-हमारे आसपास के वातावरण में कई तरह के वायरस, बैक्टीरिया घूमते या मौजूद रहते हैं, जो हमें किसी भी समय बीमार और संक्रमित कर सकते हैं. खासकर, उन लोगों को ये वायरस या बैक्टीरिया जल्दी संक्रमित करते हैं, जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. ऐसे में इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाए रखना बेहद ज़रूरी है. इसके लिए आप सुबह की ओस की बूंदों को एकत्रित करके इस पानी का सेवन करेंगे, तो इम्यूनिटी बूस्ट हो सकती है.

-एक शोध के अनुसार, नियमित रूप से सुबह की ओस की बूंदों को पीने से शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है. इससे आप स्ट्रोक, हार्ट डिजीज, कार्डियक अरेस्ट के रिस्क से भी बचे रह सकते हैं.

-वजन कम करने में भी सुबह की ओस कारगर साबित हो सकती है. ऐसे में आप वेट लॉस डाइट, एक्सरसाइज करने के साथ ही ओस की बूंदों का भी सेवन करना शुरू कर दें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर