होम /न्यूज /जीवन शैली /ब्रेन की क्षमता बढ़ाना चाहते हैं? ये 4 गेम्स बनेंगे सुपर एक्सरसाइज, बूस्ट अप होगी मेमोरी!

ब्रेन की क्षमता बढ़ाना चाहते हैं? ये 4 गेम्स बनेंगे सुपर एक्सरसाइज, बूस्ट अप होगी मेमोरी!

ब्रेन को एक्टिव रखने के लिए गेम्स खेलना के लिए बहुत जरूरी है.

ब्रेन को एक्टिव रखने के लिए गेम्स खेलना के लिए बहुत जरूरी है.

Exercises for Brain, Exercises to Reduce Risk of Memory Loss: जब तक हम अपने ब्रेन को स्वस्थ नहीं रखेंगे तब तक हम एक हेल ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

Exercises for Brain, Symptoms of Memory Loss: सुखी जीवन जीने के लिए अच्छी फिटनेस होना बहुत जरूरी है. जिस तरह से शरीर के दूसरे अंगों को स्वस्थ रखने की जरूरत होती है ठीक उसी प्रकार ब्रेन के लिए अच्छे स्वास्थ्य की जरूरत होती है. शरीर को फिट रखने के लिए शारीरिक स्वास्थ्य के साथ साथ मेंटल हेल्थ भी जरूरी है. हमारा दिमाग ही शरीर के अंगों को सिग्नल भेजता है और वह प्रतिक्रिया करते हैं. अगर हम अपने मस्तिष्क को स्वस्थ नहीं रखेंगे तो इसका सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ेगा.

जब तक हम अपने ब्रेन को स्वस्थ नहीं रखेंगे तब तक हम एक हेल्दी और हैप्पी लाइफ नहीं जी सकते हैं क्योंकि ब्रेन ही हमारे जीवन जीने की क्षमता को नियंत्रित करता है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार ब्रेन की पावर को बढ़ाने के लिए अच्छे खान-पान के साथ साथ कुछ व्यायाम की जरूरत पड़ती है जिससे आपके ब्रेन की मसल्स मजबूत हों और वे तेजी से काम कर सकें. तो यहां हम आपको कुछ ऐसी एक्सरसाइज बता रहे हैं जिनका आप अगर इस्तेमाल करते हैं तो आपके मस्तिष्क के स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ेगा. इन एक्सरसाइज को करने से आप अल्जाइमर जैसी बीमारियों से भी निपट सकते हैं.

क्रॉसवर्ड पजल
अगर आप अपने मस्तिष्क को तेज और एक्टिव रखना चाहते हैं तो इसमें क्रॉसवर्ड पजल आपकी काफी मदद कर सकता है. इसे वर्ग पहेली के नामसे भी जाना जाता है. यह एक तरह का गेम है जिसमें हम शब्दों को याद करने का प्रयास करते हैं जिससे हमारी मेमोरी बढ़ती है. इंटरनेशनल न्यूरोसाइकोलॉजिकल सोसाइटी के जर्नल में में बताया गया कि क्रॉसवर्ड अल्जाइमर से निपटने या मेमोरीलॉस जैसे मानसिक स्वास्थ्य की गतिविधियों के महत्व पर जोर देता है.

टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को आसानी से कम कर सकती हैं महिलाएं, जानें क्या है तरीका

सुडोकू
सुडोकू भी एक गेम है जो हमारे मस्तिष्क की कोशिकाओं को एक्टिव रखता है. रोजाना सुडोकू खेलने से अल्जाइमर जैसे रोग के खतरे को काफी हद तक कम किया जा सकता है. सुडोकू मस्तिष्क को उत्तेजित करता है और आपकी सोचने की क्षमता को भी बढ़ाता है.

Black-White Salt: काला नमक सफेद नमक से क्यों है बेहतर? जानिए इसके हेल्थ बेनिफिट्स

शतरंज खेलें
सुडोकू और क्रॉसवर्ड की तरह शतरंज भी पूरी तरह से दिमाग का ही खेल है. शतरंज के खेल में आपको दूसरे व्यक्ति की मानसिकता को क्षमना पड़ता है तभी आप उसे हरा पाएंगे. यह खेल आपकी एबिलिटी को बढ़ाने के साथ साथ आपकी दिमाग की थिंकिंग पावर को बढ़ाता है. अगर आपक इसकी आदत डालते हैं तो यह आपके ब्रेन को एक्टिव रखने के साथ साथ किसी भी विषय पर तेजी से निर्णय लेने की क्षमता को भी बढ़ाएगा. कई बार लोग अकेले ही शतरंज खेलते हैं जिससे उनके ब्रेन की एक्सरसाइज हो सके. यह भी अल्जाइमर वाले लोगों की मदद करता है.

स्क्रैबल
ब्रेन की पावर बढ़ाने के लिए स्क्रैबल काफी मशहूर गेम है. जब हमारा प्रतिद्वंदी हमारे लिए नया लक्ष्य निर्धारित करता है तो यह हमे एक नया शब्द सोचने को मजबूर करता है. स्क्रैबल हमे तार्किक बनाता है साथ ही हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है. इससे हमें एक ही समय पर कई पहलुओं पर सोचने में मदद मिलती है.

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें