होम /न्यूज /जीवन शैली /Chronic Pain: क्या आप भी बॉडी पेन को समझते हैं नॉर्मल? यहां जानें 7 बड़े फैक्ट और मिथ

Chronic Pain: क्या आप भी बॉडी पेन को समझते हैं नॉर्मल? यहां जानें 7 बड़े फैक्ट और मिथ

अगर आपको बार बार दर्द की समस्या हो रही है तो तुरंत एक्सपर्ट से मिलना चाहिए.

अगर आपको बार बार दर्द की समस्या हो रही है तो तुरंत एक्सपर्ट से मिलना चाहिए.

Body Pain Reason, Chronic Pain: अगर सर्दी और बारिश होने पर आपके जोड़ों पर दर्द होता है और आप सोचते हैं कि आपके दर्द का ...अधिक पढ़ें

Body Pain Reason, Chronic Pain: बॉडी पेन की समस्या हर किसी को होती है. कभी कभी तो यह कम उम्र से ही शुरू हो जाती है. उम्र बढ़ने के साथ साथ बॉडी पेन की समस्या भी बढ़ने लगती है. शरीर में होने वाले कुछ दर्द तो कई बार पेन किलर लेने से ठीक हो जाते हैं लेकिन कई ऐसे दर्द होते हैं जो लंबे समय तक बन रहते हैं. बॉडी पेन को लेकर अक्सर लोगों में कई तरह की भ्रांतियां भी मौजूद रहती है. कई बार लोग इसे मौसम का कारण भी मान लेते हैं लेकिन ऐसा नहीं है.

वेबएमडी की खबर के अनुसार शारीरिक दर्द को लेकर कुछ ऐसी भ्रांतियां और ऐसे तथ्य हैं जिनकी जानकारी होना हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक है. अगर इन पर समय रहते ध्यान नहीं दिया जाए तो ये बड़ी दिक्कत दे सकते हैं.

बदलते मौसम की वजह से होता है दर्द
अगर सर्दी और बारिश होने पर आपके जोड़ों पर दर्द होता है और आप सोचते हैं कि आपके दर्द का कारण बारिश है तो यह कुछ हद तक संभव हो सकता है लेकिन मौसम को ही दर्द का कारण नहीं माना जा सकता. इस पर हुए अध्ययन के मुताबिक जोड़ों के दर्द का कारण सिर्फ मौसम नहीं होता. हालांकि अध्ययनों ने मिले जुले परिणाम दिखाए हैं. हवा के दबाव में बदलाव से कई लोगों को विशेष रूप से गठिया पीड़ितों को जोड़ों में दर्द की समस्या होती है.

पीठ दर्द में करना चाहिए भरपूर आराम
अक्सर लोग यह सोचते हैं कि अगर उनके बैक या पीठ में दर्द है तो वे आराम करें. जितना अधिक आराम करेंगे, उतना दर्द से उन्हें राहत मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं है. हालांकि डॉक्टर दर्द होने पर कुछ देर आराम के लिए कहते हैं लेकिन दर्द में सक्रिय रहना ज्यादा अच्छा होता है. एक्सपर्ट का कहना है कि पूरी तरह से बिस्तर में आराम करना पीठ दर्द या पुराने किसी दर्द के लिए सबसे खराब चीजों में से एक है. दर्द की समस्या होने पर शरीर में ज्यादा जोर न डाले लेकिन अपनी सामान्य गतिविधियां चालू रखें.

Balck Salt Benefits: कई रोगों का इलाज है ‘काला नमक’, जानें इसके हेल्थ बेनिफिट्स

वजन कम करने से दर्द कम होता है
अगर आपका वजन बहुत अधिक है तो आप वजन कम करके कई तरह के बॉडी पेन से राहत पा सकते हैं. दर्द की समस्या में डॉक्टर्स भी आपको वजन कम करने की सलाह दे सकते हैं. आपका डॉक्टर आपको बता सकता है कि आप वजन कम करने के लिए क्या लक्ष्य रखें और इसके लिए कौन कौन से उपाय अच्छे रहेंगे.

सामान्य और मामूली दर्द को नजरअंदाज कर सकते हैं
कई बार लोग बार बार होने वाले मामूली और सामान्य शारीरिक दर्द को नजरअंदाज करते हैं, लेकिन अगर आपको बार बार दर्द की समस्या हो रही है तो आपको इसे इग्नोर नहीं करना चाहिए. इस तरह के दर्द आपको भविष्य में बड़ी दिक्कत दे सकते हैं. अगर पेन किलर से दर्द ठीक हो जाता है और उसके बाद फिर होता है तो आपको तुरंत अपने एक्सपर्ट से सलाह लेनी चाहिए. अगर कोई भी दर्द एक सप्ताह या उससे अधिक समय तक रहता है तो यह कोई गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकता है.

हमारा बर्ताव दर्द को प्रभावित करता है
कभी कभी हमारा बर्ताव भी शारीरिक दर्द को बढ़ाने में मदद करता है. यदि आपको दर्द की समस्या है तो आप इसे नजरअंदाज न करें लेकिन जितना संभव हो इस पर ध्यान न दें, क्योंकि अगर आप उस पर ध्यान देते रहेगें तो आपको दर्द का अधिक एहसास होगा. दर्द पर ध्यान देने की जगर आप उसके निवारण के बारे में सोचें.

Skin Health Tips: क्या है बेहतर Hydrating या फिर Moisturizing, जानें अपनी स्किन की जरूरत को

नो पेन नो गेन
अक्सर लोग यह सोचते हैं कि जब तक किसी काम को करने में दर्द का एहसास नहीं हो तब तक उसमें मजा नहीं. हालांकि यह सोच व्यायाम या फिर जिम में एक्सरसाइज तक ठीक है. आप जब जिम में कसरत करते हैं तो शरीर में दबाव डालना ठीक है लेकिन आपके लिए यह जानना बेहद महत्वपूर्ण है कि आपको किस हद तक खुद को दर्द देना है और कब रुकना है. एक्सरसाइज करते समय कभी भी दर्द का महसूस नहीं होना चाहिए अगर करते हैं तो तुरंत रुकना चाहिए.

उम्र बढ़ने की वजह से होता है दर्द
बॉडी पेन को लेकर एक सबसे बड़ी भ्रांति यह फैली हुई है कि शारीरिक दर्द उम्र बढ़ने की वजह से होता है लेकिन ऐसा नहीं है. कई बार छोटी उम्र के बच्चों में भी शारीरिक दर्द की समस्या पाई जाती है. दर्द की समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है. अगर आप की उम्र कोई भी हो लेकिन आपको अधिक समय तक दर्द रहता है तो आप एक्सपर्ट से संपर्क कर सकते हैं.

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें