होम /न्यूज /जीवन शैली /बना रहता है सिर दर्द, तो रूटीन में शामिल करें ये ब्रीदिंग एक्सरसाइज, कुछ ही दिनों में दिखने लगेगा फर्क

बना रहता है सिर दर्द, तो रूटीन में शामिल करें ये ब्रीदिंग एक्सरसाइज, कुछ ही दिनों में दिखने लगेगा फर्क

सिर दर्द के लिए एक्सरसाइज (image-canva)

सिर दर्द के लिए एक्सरसाइज (image-canva)

Breathing Exercises - हर समय सिर दर्द के कई कारण हो सकते हैं जैसे डिहाइड्रेशन, स्ट्रेस और माइग्रेन जिन्हें आपको लगभग हर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भयानक सिर दर्द से छुटकारा पाने के लिए ब्रीदिंग एक्सरसाइज करें.
सुदर्शन क्रिया से सिर दर्द में आराम मिलता है और कोलेस्ट्रोल भी कंट्रोल रहता है.
स्ट्रेस, डिप्रेशन और सिरदर्द से बचने के लिए अनुलोम विलोम करें.

Breathing Exercises for Headache : आजकल की भाग दौड़ भरी जिदंगी में सिर दर्द होना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन यदि आपको ये समस्या बनी ही रहती है तो आपको इसे हल्के में नही लेना चाहिए क्योंकि ये किसी गंभीर स्थिति की ओर संकेत हो सकता है. सिरदर्द आपकी लाइफस्टाइल पर भी बुरा प्रभाव डाल सकता है. सिरदर्द में नींद की कमी, स्ट्रेस, भोजन न करने की शिकायत और डीहाइड्रेशन जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

अगर सिरदर्द होना आपके दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बन चुका है तो ये आपके लिए एक गंभीर चिंता का विषय है. इसके लिए जरूरी है की इसका तत्काल इलाज किया जाए. सिर दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप अपने डेली रूटीन में कुछ ब्रीदिंग एक्सरसाइज शामिल कर सकते हैं, जिससे ना केवल सिरदर्द से राहत के साथ स्ट्रेस और डिप्रेशन को दूर रखते हैं.

सिर दर्द से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये ब्रीदिंग एक्सरसाइज :
भस्त्रिका प्राणायाम –
स्टाइल क्रेज डॉट कॉम के अनुसार सबसे पहले आप वज्रासन की मुद्रा में बैठे और फिर अपनी नाक से सांस लेते हुए फेफड़ों पर जोर डाले और झटके से नाक के दोनों छिद्रों से श्वास को छोड़ें. इस आसान को कम से कम 5 मिनट तक रोज करें. इससे सिर दर्द में राहत मिलती है और रेस्पिरेटरी सिस्टम मजबूत होता है.

सुदर्शन क्रिया –
सुदर्शन क्रिया सांसों से जुड़ा एक ऐसा मुख्य योगासन है जिसमें धीमी और तेज गति से सांसे अंदर-बाहर करनी होती है, आंखें बंद करके पहले धीमी गति से सांस लें इसके बाद सांसों की स्पीड थोड़ी बढ़ा दें और अंत में सांसों की गति को तेज कर दें. ये क्रिया बॉडी की इम्यूनिटी बूस्ट करती है और कोलेस्ट्रोल को भी कंट्रोल करती है.

इसे भी पढ़ें-देर रात तक जागकर पढ़ना चाहते हैं तो इन फूड्स का सेवन करके बढ़ाएं लर्निंग पावर

अनुलोम विलोम –
इस आसन को करते समय सबसे पहले शरीर को एकदम सीधा रखते हुए ध्यान मुद्रा में बैठ जाएं और लेफ्ट हैंड से राइट हैंड हाथ के अंगूठे से दाईं नाक को बंद करें और बाईं नाक से सांस लें और इसी क्रिया को दूसरी नाक के छिद्र से करें. ये एक्सरसाइज डाइजेस्टिव सिस्टम, स्ट्रेस, डिप्रेशन और सिरदर्द से बचाती है.
बैलून टेक्निक –
एकदम सीधे बैठ जाएं और अपनी नाभि के नीचे ध्यान केंद्रित करें. आप तब तक सांस लेते रहे जब तक स्वांस अपने केंद्रित स्थान तक न पहुंच जाए और फिर सांस को ऐसे छोड़े जैसे की एक गुब्बारा हवा को छोड़ता है, सिरदर्द को दूर करने के लिए इस प्रक्रिया को कुछ समय के लिए जारी रखें. ये फेफड़ो के लिए भी काफी फायदेमंद एक्सरसाइज होती है.

यह भी पढ़ेंः डायबिटीज समेत कई बीमारियों की वजह बन सकता है इंसुलिन रेजिस्टेंस

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें