होम /न्यूज /जीवन शैली /डिमेंशिया की समस्या को दूर करने के लिए रोज सुबह करें ये काम, जल्द दिखेगा असर

डिमेंशिया की समस्या को दूर करने के लिए रोज सुबह करें ये काम, जल्द दिखेगा असर

मिडिल एज या उम्रदराज लोग 9,800 कदम रोज वॉक करने का प्रयास करें. (Image-Canva)

मिडिल एज या उम्रदराज लोग 9,800 कदम रोज वॉक करने का प्रयास करें. (Image-Canva)

व्यक्ति अगर 10 हजार कदम के बजाय रोज 3,800 से लेकर 9,800 कदम भी चल ले, तो वह डिमेंशिया का रिस्‍क कम हो सकता है. वॉकिंग क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

शारीरिक गतिविधियां हमारे मस्तिष्क पर सकारात्मक प्रभाव डालती हैं.
रोज आधा घंटा वॉक करने से डिमेंशिया का खतरा काफी कम हो जाता है.

Can Walking Help Prevent Dementia: नए शोध में पाया गया है कि अगर आप रोज कम से कम 3826 कदम चलें तो इससे डिमेंशिया की समस्‍या से बच सकते हैं. इस शोध से पहले यह पाया गया था कि रोज 10 हजार कदम चलने से डिमेंशिया की समस्‍या से बचा जा सकता है. एवरीडेहेल्‍थ की रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में यूनाइटेड किंगडम के एक शोध में इस बात का दावा किया गया है कि अगर इंसान 10 हजार कदम के बजाय रोज 3,800 से लेकर 9,800 कदम भी चले तो वह डिमेंशिया के रिस्‍क को कम करने में सक्षम है.

एक्टिव रहना बहुत जरूरी
अल्‍जफॉर्म के मुताबिक, शोधों में पाया गया कि मिडिल एज या उम्रदराज लोग जिन्‍होंने 9,800  का रोज वॉक किए उनमें अगले सात साल तक डिमेंशिया के लक्षण आधे हो गए. जबकि रोज आधा घंटा तेज चलने से डिमेंशिया के 62 प्रतिशत लक्षण कम पाए गए. शोध ने इस बात का सपोर्ट किया है कि अधिक चलने या एक्टिव लाइफ जी कर आप डिमेंशिया की समस्‍या का दूर रख सकते हैं.

यह भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए भूलकर भी ना अपनाएं ये तरीके, होगा सकता है नुकसान

डिमेंशिया क्‍या है?
डिमेंशिया इंसान को मानसिक रूप से अपंग बना सकती है. यह मेमोरी, सोच और सामाजिक क्षमताओं को प्रभावित करती है. इंसान बार बार चीजों को भूलने लगता है जिसससे दिन-प्रतिदिन के कामकाज में उसे परेशानी होने लगती है. वृद्ध वयस्कों में अल्जाइमर रोग होने पर डिमेंशिया हो सकता है. पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ये समस्‍या अधिक होती है, क्‍योंकि वे अधिक उम्र तक जीती हैं.

फिजिकल एक्टिविटी से होता है फायदा
जानकारों के मुताबिक, शारीरिक गतिविधि हमारे मस्तिष्क के स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं और किसी व्यक्ति के डिमेंशिया के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है.

यह भी पढ़ेंः इन गलतियों से जवानी में ही आ जाएगा बुढ़ापा ! अभी सुधार लें वरना…

कार्डियो के लिए भी फायदेमंद
अगर आप रोज 6 महीने तक रेग्‍युलर ब्रीक वॉक करें तो इससे कार्डियो वेस्‍कुलर फिटनेस को भी बढ़ाता है और मेमोरी भी इंप्रूव होती है. यह ब्रेन टीश्‍यू को नॉर्मल रखता है जिससे इंसान में भूलने की बीमारी, हार्ट से जुड़ी बीमारी आदि नहीं होती.

अन्‍य फायदे
जब आप शारीरिक तौर पर एक्टिव लाइफ जीते हैं तो इससे आपकी नींद बेहतर होती है, मूड अच्‍छा रहता है, आदि अधिक एनर्जी महसूस करते हैं और आपका हार्ट बेहतर रहता है. इसलिए जहां तक हो सके अपने शारीरिक गतिविधियों को बढ़ाए रखें और बेहतर डाइट लें.

Tags: Health, Lifestyle, Mental health

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें