होम /न्यूज /जीवन शैली /मॉर्निंग में बासी मुंह पानी में घोलकर पिएं ये 5 पत्ते, कंट्रोल में रहेगा आपका ब्लड शुगर

मॉर्निंग में बासी मुंह पानी में घोलकर पिएं ये 5 पत्ते, कंट्रोल में रहेगा आपका ब्लड शुगर

कुछ पत्तों के सेवन से भी डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है. (फाइल फोटो)

कुछ पत्तों के सेवन से भी डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है. (फाइल फोटो)

Ayurvedic Herbs for Diabetes: डायबिटीज एक गंभीर बीमारी होने के साथ साथ एक लाइलाज बीमारी है. अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भारत में 18 वर्ष से अधिक उम्र के करीब 77 मिलियन लोग मधुमेह से पीड़ित हैं.
तुलसी के पत्ते को उबालकर उसके पानी का सेवन करने से भी शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है.

Ayurvedic Herbs for Diabetes: डायबिटीज एक बेहद गंभीर बीमारी है क्योंकि यह पूरी तरह से लाइलाज है. इसे बस हम कंट्रोल कर सकते हैं. वैसे तो डायबिटीज के कोई गंभीर लक्षण नहीं होते लेकिन अगर इसके सामान्य लक्षणों पर शुरुआत से ही ध्यान न दिया जाए तो यह दूसरी गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती है. मधुमेह की समस्या हमारी लाइफस्टाइल से जुड़ी है इसलिए इससे बचने के लिए हमें अपनी जीवनशैली में बदलाव की बहुत अधिक जरूरत होती है.

डायबिटीज भारत ही नहीं बल्कि एक वैश्विक समस्या है. पिछले कुछ समय में भारत में मधुमेह के मामले तेजी से बढ़े हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भारत में 18 वर्ष से अधिक उम्र के करीब 77 मिलियन लोग टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित हैं. जबकि वहीं दूसरी तरफ करीब 25 मिलियन लोग डायबिटीज के शिकार होने की कगार पर हैं. हम अपने खानपान में बदलाव करके डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं और इसके अलावा कुछ प्राकृतिक उपायों को अपनाकर भी हम डायबिटीज से राहत पा सकते हैं. हेल्थ एक्सपर्ट की मानें तो कुछ पत्तों के माध्यम से हम ब्लड शुगर को कंट्रोल कर सकते हैं.

करी पत्ता: करी पत्ता हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होता है. एनसीबीआई की रिपोर्ट के अनुसार डायबिटीज को कंट्रोल करने में करी पत्ता मददगार है. करी पत्ते में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है और यह पाचन क्रिया को धीमा करता है. इससे खाया हुआ भोजन जल्दी मेटाबोलाइज नहीं होता और इससे ब्लड शुगर कंट्रोल में बना रहता है. आप करी पत्ते को सुबह बासी मुंह पानी के साथ भी ले सकते हैं.

तुलसी के पत्ते का सेवन: तुलसी एक ऐसा पौधा है जिसका धार्मिक महत्व होने के साथ साथ आयुर्वेदिक महत्व भी बहुत अधिक है. तुलसी में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को कई गंभीर बीमारियों से बचाते हैं. तुलसी हमें संक्रमण से बचने में भी मदद करती है. अगर आप मधुमेह से पीड़ित हैं तो तुलसी के पत्ते को उबालकर उसके पानी का सुबह सवेरे सेवन करें.

कंघी करते समय हाथों में आ जाता है बालों का गुच्छा, तो खाना शुरू कर दें ये सुपरफूड्स, बाल्डनेस से भी मिलेगी राहत

इंसुलिन पौधे के पत्ते का सेवन: डायबिटीज मरीजों के लिए इंसुलिन किसी रामबाण से कम नहीं है. मधुमेह का मामला पुराना होने पर डॉक्टर्स मरीज को इंसुलिन का इंजेक्शन देते हैं. अगर आपको डायबिटीज के हल्के लक्षण हैं तो आप इंसुलिन प्लांट की पत्तियों का सेवन कर सकते हैं. इसकी पत्तियां ब्लड शुगर के स्तर को कम करती हैं.

आम के पत्ते: आम के पत्तों में मैंगिफेरिन एंजाइम पाया जाता है जो अल्फा ग्लोकोसिडेस को रोकने की क्षमता रखता है. आम के पत्ते में भरपूर मात्रा में विटामिन सी और फाइबर पाया जाता है. ये दोनों हमारे ब्लड में शुगर और कोलेस्ट्रॉल को कम करता है. सुबह उठकर अगर आप आम के पत्ते का पानी पीते हैं तो यह आपको शुगर लेवल मेंटेन रखने में मदद करेगा.

अमरूद के पत्ते का सेवन: अमरूद हमारी हेल्थ के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होता है लेकिन इसके पत्ते में भी उतने अधिक औषधीय गुण पाए जाते हैं. शोध से पता चलता है कि अमरूद की पत्तियों का रस अल्फा ग्लूकोसिडेज की क्रिया को प्रतिबंधित करता है. यह एक प्रकार का एंजाइम होता है जो कि स्टार्च और अन्य कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में विभाजित करता है. अगर आप अमरूर के पत्ते को पानी में उबालकर पीते हैं तो इसेस ब्लड शुगर भी कंट्रोल में रहेगा.

Tags: Diabetes, Health, Lifestyle

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें