होम /न्यूज /जीवन शैली /Long Covid Symptoms: इन पदार्थों से बनाएं सख्त दूरी, नहीं तो बढ़ सकते हैं लॉन्ग कोविड के लक्षण

Long Covid Symptoms: इन पदार्थों से बनाएं सख्त दूरी, नहीं तो बढ़ सकते हैं लॉन्ग कोविड के लक्षण

पिछले कुछ समय में लॉन्ग कोविड के कई सारे मामले सामने आए हैं. (फाइल फोटो)

पिछले कुछ समय में लॉन्ग कोविड के कई सारे मामले सामने आए हैं. (फाइल फोटो)

Coronavirus, Covid, Long Covid Symptoms: हिस्टामाइन मानव शरीर में पाया जाने वाला एक केमिकल है जो कि हमारी संभावित एलर्ज ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

अपने खाद्य पदार्थ पदार्थ में बदलाव करके हम लॉन्ग कोविड के लक्षणों को कम कर सकते हैं.
लॉन्ग कोविड लक्षण वाले मरीजों को पर्याप्त मात्रा में आराम करने की भी जरूरत होती है.

Coronavirus, Covid, Long Covid Symptoms: कोरोना महामारी (Corona Pandemic) ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया है. करीब दो साल बीत जाने के बाद भी इस वायरस (Coronavirus) का खतरा अभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है. कोरोना के बाद अब लॉन्ग कोविड (Long Covid) का खतरा तेजी से बढ़ रहा है. इसमें कोरोना से प्रारंभिक संक्रमण के करीब 12 सप्ताह बाद तक इंफेक्शन के लक्ष्ण दिखाई देते हैं. पिछले कुछ समय में लॉन्ग कोविड का प्रसार एक बड़ी संख्या में देखने को मिला है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार हमारे जीवन की कुछ ऐसी नियमित गतिविधियां भी शामिल हैं जिन्होंने लॉन्ग कोविड के संक्रमण को तेजी से प्रसारित किया है. अगर लॉन्ग कोविड के कुछ सामान्य लक्षणों की बात करें तो इसमें थकान होना, आखों का लाल हो जाना, सिर दर्द होना, थोड़ा मेहनत करने पर दिल की धड़कन बढ़ जाना शामिल हैं. हालांकि कुछ ऐसे तरीके हैं जिससे हम लॉन्ग कोविड के लक्षणों से बच सकते हैं या फिर इन्हें कम कर सकते हैं. हमें कुछ ऐसे पदार्थों के सेवन से बचना है जो कि लॉन्ग कोविड के लक्षणों को बढ़ावा देते हैं.

क्या है हिस्टामाइन, जानें कोविड से इसका लिंक
हिस्टामाइन मानव शरीर में पाया जाने वाला एक केमिकल है जो कि हमारी संभावित एलर्जी से बचाव करता है. यही केमिकल हमें छीकने और खुजली होने पर खुजली करने के लिए प्रेरित करता है. हेल्थ विशेषज्ञों के अनुसार हिस्टामाइन और कोविड के लक्षण लगभग समान हैं. कुछ लॉन्ग कोविड मरीजों में यह भी देखा गया कि एंटी हिस्टामाइन दवा लेने के बाद उन्होंने खुद को बेहतर महसूस किया.

खाद्य पदार्थों के सेवन में बदलाव
कई बार हम लॉन्ग कोविड के लक्षणों को अपने खाद्य पदार्थों में बदलाव करके भी कंट्रोल कर सकते हैं. अगर लॉन्ग कोविड हिस्टामाइन इनटॉलरेन्स का परिणाम है तो खाद्य पदार्थों में बदलाव करने पर हमें परिवर्तन दिखाई देंगे लेकिन अगर इसके पीछे कुछ अन्य कारण हैं तो फिर यह किसी भी तरह से प्रभावी नहीं होगा. अगर हिस्टामाइन युक्त पदार्थों को सेवन करने से आपको किसी तरह से सूजन की दिक्कत आती है तो फिर आपको इससे बचना होगा.

World Suicide Prevention Day 2022: आत्‍महत्‍या के मामलों को रोकने में आप भी निभा सकते हैं अहम भूमिका, जानें जरूरी बातें

इन पदार्थों का न करें बिल्कुल भी सेवन
अगर कोई लॉन्ग कोविड के लक्षण से पीड़ित है तो उसे अपने दैनिक जीवन के सेवन में दही, बीयर, शराब, मांस, पुराना चीज, तली हुई मछली, और साथ ही डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए. ये सभी खाद्य पदार्थ अक्सर लॉन्ग कोविड के लक्षण को बढ़ाने में मदद करते हैं.

बहुत अधिक हिस्टामाइन युक्त पदार्थ खाने का प्रभाव
हिस्टामाइन केमिकल मानव शरीर में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को नियंत्रित करता है और जब हम किसी तरह से किसी एलर्जी, साइटोकिन्स, तनाव की स्थिति में होते हैं तो ये हार्मोन रिलीज होता है. अधिक हिस्टामाइन युक्त पदार्थ खाने से शरीर में इसकी मात्रा बढ़ेगी और इससे दस्त, सांस में तकलीफ होना, सिरदर्द, या फिर स्किन में जलन जैले लक्षण देखने को मिल सकते हैं.

इन 4 फूड्स से बढ़ सकता है कोलेस्ट्रॉल लेवल ! आज ही करें ‘गुडबाय’

लॉन्ग कोविड के दौरान खाएं ये चीजें
कोरोना वायरस एक बेहद हानिकारक वायरस है और यह सीधे तौर पर प्रतिरक्षा प्रणाली को नुकसान पहुचाता है. इससे बचने या फिर उससे उबरने के लिए हमें अपने खान पान में बहुत ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है. एक्सपर्ट का कहना है कि अपने पूरे स्वास्थ को तेजी से ठीक करने के लिए हमें ज्यादातर घर में बने ताजे खाने का सेवन करना चाहिए. बचा हुया मतलब बाशी खाना खाने से बचें.

लॉन्ग कोविड से बचने के लिए विटामिन सी का भरपूर मात्रा में सेवन करें. संतरा, मिर्च, स्ट्राबेरी, ब्रोकली और आलू का सेवन अधिक करें. लाल सेब, अंगूर, प्याज और जामुन को भी अपने खाद्य पदार्थ में शामिल करें. हर दिन ताजी सब्जियों का इस्तेमाल करें. खाने से साथ साथ लॉन्ग कोविड लक्षण के दौरान पर्याप्त मात्रा में आराम करना भी बहुत जरूरी है.

Tags: Coronavirus, COVID 19, Health News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें