रेड मीट खाने से बढ़ता है महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा!

जिन महिलाओं ने ज्यादा रेड मीट खाया, उनमें अन्य महिलाओं की तुलना में ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा एक चौथाई अधिक था

News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 1:09 PM IST
रेड मीट खाने से बढ़ता है महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा!
जिन महिलाओं ने ज्यादा रेड मीट खाया, उनमें अन्य महिलाओं की तुलना में ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा एक चौथाई अधिक था
News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 1:09 PM IST
बहुत से वैज्ञानिक अध्य्यनों और शोधों से पता चला है कि बीफ, पोर्क, प्रासेस्डह मीट और लैम्ब जैसे रेड मीट खाने से बचना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि यह कैंसर के मुख्य कारणों में से एक हो सकते हैं.

वहीं इसकी जगह चिकन खाकर अपने सेहत को स्वस्थ्य रखा जा सकता है. हाल ही यूएस नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए एक शोध में 42 हजार महिलाओं के आहार की जांच की गई और आठ साल तक उनके खाने-पीने की आदतों पर नजर रखी गई. शोध में जो बात सामने आई, वो बेहद ही चौंकाने वाली थी. जिन महिलाओं ने ज्यादा रेड मीट खाया, उनमें अन्य महिलाओं की तुलना में ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा एक चौथाई अधिक था. वहीं जिन महिलाओं ने वैसे मांस जैसे चिकन, टर्की (एक तरह का पक्षी) और बत्तख खाई उनमें ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा 28 फीसदी तक कम था.

रेड मीट खाने से टाइप-2 डायबिटीज होने का खतरा भी काफी बढ़ जाता है. शोधकर्ताओं की मानें तो रेड मीट फैट से भरपूर होता है. इसमें सैचुरेटेड फैट भरपूर मात्रा में होता है. यह सैचुरेटेड फैट शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है. इससे शरीर में मोटापा बढ़ने लगता है. यह मोटापा और कोलेस्ट्रॉल का मेल व्यक्ति को टाइप-2 डायबिटीज का शिकार बनाता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: August 11, 2019, 1:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...