होम /न्यूज /जीवन शैली /Superfood: 5 काजू खाने से नहीं बढ़ेगा वजन, उम्र के हिसाब से जानें कितने हर दिन खाना है सही

Superfood: 5 काजू खाने से नहीं बढ़ेगा वजन, उम्र के हिसाब से जानें कितने हर दिन खाना है सही

जानिए क्यों काजू खाना है सेहत के लिए फायदेमंद

जानिए क्यों काजू खाना है सेहत के लिए फायदेमंद

ऊर्जा का काजू अच्छा स्रोत माना जाता है. वजन घटाना हो या बढ़ना काजू का सेवन कर सकते हैं. उम्र के हिसाब से हर दिन कितने क ...अधिक पढ़ें

    सफेद, स्वाद में क्रीमी, बिना दांतों के खाए जाने वाला मेवा, काजू. सेहत के लिए फायदेमंद होता है. लेकिन, जो लोग दिनभर एक जगह बैठकर काम करते हैं. ज्यादा हिलते नहीं हैं. काजू का सेवन करते हैं. उनके लिए ये नुकसानदायक है. काजू से कई चीजें तैयार की जाती हैं. सब्जी की ग्रेवी से लेकर मिठाई में ये शुमार है. काजू को अंग्रेजी में ‘कैश्यू’ कहते हैं. और ये एक सुपरफूड है.

    कैसे है? बेहतर स्वास्थ्य और तंदरुस्ती के लिए इसमें सभी जरूरतमंद पौष्टिक तत्व मौजूद हैं. काजू काफी फैटी होते हैं. इनमें अच्छे फैट्स पाए जाते हैं. लेकिन जिन लोगों को दिल से जुड़ी समस्याएं होती हैं. वे इसके सेवन से बचें. इसमें विटामिन्स और कैल्शियम पाए जाते हैं. हड्डियों को मजबूत करने और एनर्जी देने में काजू मुख्य भूमिका निभाता है. लंबे समय तक पेट भरा रखता है. इसलिए इसे सुपरफूड कहा जाता है.

    साबुत काजू, हल्के भुने काजू, नमक और देसी घी में भुने काजू, खाने से पहले खाए जाने वाले काजू और बाद वाले, हर तरह का काजू अलग तरह से शरीर में काम करता है. इन सभी के बारे में जानना जरूरी है. लेकिन, इससे पहले जानते हैं उम्र के हिसाब से आपको रोज कितने काजू खाने चाहिए.

    आपको बता दें कि जिन लोगों को किसी भी तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्या नहीं है, ये मात्रा उनके लिए है. दिल और उच्च रक्तचाप की समस्या वाले इसे लेने से बचें.

    डायटीशियन अनीता लांबा बताती हैं कि हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या से जूझ रहे लोग, इसके सेवन से बचें.
    दो से दस साल के बच्चे को- रोज छह से सात काजू दे सकते हैं.
    टीनेज (18 साल तक)- 10 काजू तक डायट में शामिल कर सकते हैं.
    युवा- रोज पांच काजू तक ले सकते हैं.
    45 की उम्र के लोग- रोज पांच काजू तक ले सकते हैं. बशर्ते उन्हें कोई स्वास्थ्य संबंधी समस्या न हो.
    प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए काजू काफी फायदेमंद है. ये मां के पेट में पल रहे भ्रूण को वे सभी पोषक तत्व देता है. जिसकी उन्हें जरूरत होती है.
    ध्यान रखें, मेनोपोज़ के समय काजू के सेवन से बचें. काजू की तासीर गर्म होती है. ये हॉटफ्लैश, यानी ज्यादा गर्मी लगने की समस्या पैदा कर सकता है. जिससे घबराहट महसूस हो सकती है.

    काजू में होता है क्या-क्या?
    बताई गई मात्रा 100 ग्राम काजू की है.

    कैलोरी- 553
    फैट- 44 ग्राम
    सोडियम- 12 मिलीग्राम
    पोटैशियम- 660 मिलीग्राम
    कार्बोहाइड्रेट्स- 30 ग्राम
    शुगर- 6 ग्राम
    प्रोटीन- 18 ग्राम

    कैसे डायट में लें काजू और इसे लेने के फायदे-नुकसान
    काजू कई तरह से ले सकते हैं. कई लोग इसे हल्के घी और नमक में भूनकर लेना पसंद करते हैं तो कई साबुत. आइए जानते हैं आप इन्हें डायट में कैसे शामिल कर सकते हैं. या फिर इन्हें और स्वादिष्ट कैसे बना सकते हैं. साथ ही जानते हैं इन्हें हल्का भूनकर लेना सेहत के लिए कितना फायदेमंद या नुकसानदायक हो सकता है.
    साबुत काजू- काजू में प्रोटीन पाया जाता है. ये एनर्जी देने का अच्छा स्रोत माना जाता है. युवा रोज 4-5 काजू ले सकते हैं.
    भूनकर लिए गए काजू- काजू के केवल स्वाद में फर्क आता है. कैलोरी उतनी ही रहती है.
    देसी घी और नमक में भुने काजू- इससे काजू की कैलोरी बढ़ेंगी. बढ़ता बच्चा अगर साबुत न खा पाए तो उसे भूनकर दे सकते हैं. वजन घटाने वाले लोग इसके सेवन से बचें. वहीं वजन बढ़ाने वाले भी भूने काजू का बेझिझक सेवन कर सकते हैं.
    खाने से पहले भी खा सकते हैं काजू. इससे लंबे समय तक पेट भरा रहेगा और कार्बोहाइड्रेट्स (चावल-रोटी) कम खाएंगे.
    खाने के बाद- करीब एक घंटे का अंतर जरूर रखें. खाना खाने के तुरंत बाद अगर काजू खाते हैं तो पाचन तंत्र बिगड़ सकता है.

    काजू खाने के फायदे
    - काजू, ऊर्जा का एक अच्छा स्रोत माना जाता है. एनर्जी बनाए रखता है. रोज दो काजू खा सकते हैं.
    - अति हर चीज की बुरी होती है. उम्र के हिसाब से काजू का सेवन करेंगे तो बेहतर है.
    - प्रोटीन का अच्छा स्रोत माना जाता है. खासकर त्वचा और बालों के लिए इसमें पाए जाने वाला प्रोटीन काफी फायदेमंद होते हैं.
    - काजू, कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करता है. ये जल्दी पच भी जाता है.
    - आयरन का भी ये अच्छा स्रोत माना जाता है.
    - जिन लोगों में खून की कमी हो गई है, उनमें ये समस्या दूर करता है.
    - काजू विटामिन-बी का खजाना माना जाता है.
    - काजू खाने से यूरिक एसिड बनना बंद हो जाता है.
    - इसके सेवन से उच्च रक्तचाप की समस्या भी खत्म होती है.
    - ये हड्डियों को मजबूत बनाता है.
    - पाचन शक्ति को भी ये बढ़ावा देता है.
    - इसमें पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सिडेंट्स वजन को संतुलित रखने में मददगार है.
    - जो लोग वजन बढ़ाना चाहते हैं वे दिन में किसी भी समय काजू का सेवन कर सकते हैं. काफी फायदेमंद हैं.

    प्रेग्नेंट महिलाओं को क्यों खाने चाहिए रोज करीब 10 काजू?
    काजू में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन्स और पोटैशियम पाए जाने के कारण ये बच्चे के लिए फायदेमंद होता है.
    - ये प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या दूर करता है.
    - बच्चे के दिमाग के विकास के लिए काफी अच्छा होता है.
    - पाचन क्रिया को बेहतर करता है.
    - आयरन की कमी दूर करता है.
    - बच्चे को पोषण देता है.

    काजू खाने के नुकसान
    - जो लोग वजन घटा रहे हैं वे इसके सेवन से बचें. इसमें मौजूद फैट्स वजन को तेजी से बढ़ावा देते हैं. तीन से चार काजू में लगभग 163 कैलोरी होती हैं. साथ ही पाए जाते हैं अनसैच्यूरेटेड फैट्स जो वजन बढ़ाते हैं.
    - सोडियम ज्यादा होने के कारण, उच्च रक्तचाप को ये बढ़ावा देता है. साथ ही किडनी और दिल से जुड़ी समस्याएं पैदा करता है.
    - कई लोगों को काजू खाने से सांस लेने में समस्या, पित्ती, चकत्ते, खुजली, उल्‍टी या फिर दस्‍त की शिकायत होती है. वे काजू का सेवन बंद कर दें. डॉक्टर की सलाह लें.
    - जिन लोगों को सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या रहती है. वे काजू न खाएं. इसमें मौजूद अमीनो एसिड, टाइरामिन और फेनेंलेथाइलमाइन नामक तत्व कई लोगों के लिए सिरदर्द की वजह बन सकते हैं.
    - काजू में मैग्नीशियम पाया जाता है. जो लोग डायबिटीज, थायरॉइड, पेशाब संबंधी और अर्थराइटिस की दवाएं ले रहे हैं. उनके लिए काजू हानिकारक हो सकता है. इसका सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह ले लें.

    घरेलू नुस्खों में भी शुमार है काजू
    - जिन लोगों को जी-मिचलाने, उल्टी आने जैसा महसूस हो, वे दो से तीन काजू ले सकते हैं.
    - काजू भूख बढ़ाता है.
    - शरीर को इंस्टेंट एनर्जी देनी हो या सेहत को अच्छा बनाना हो. सुबह में खाली पेट काजू खाएं.
    - दिमाग को तेज करता है काजू. 7-8 काजू को शहद में भिगोकर खाएं. काफी फायदा मिलेगा.
    - सर्दियों में शरीर की तासीर गर्म रखता है काजू. रोज इसका सेवन करें.

    इसे भी पढ़ेंः
    नारियल पानी में आखिर ऐसा होता क्या है, जो देता है सैकड़ों फायदे
    मां नहीं बनने देती ये बीमारी, 17 करोड़ से ज्यादा औरतें हैं प्रभावित
    महिलाओं के साथ क्या होता है, जब पीरियड्स बंद हो जाते हैं?

    Health Explainer: थायरॉइड होने से पहले और बाद में, शरीर में होता क्या है?
    Health Explainer: बात उस बीमारी की जिसमें महिलाओं के दाढ़ी उग जाती हैं

    Tags: Eat healthy, Food diet, Health Explainer, Health News, Healthy Foods, Nutritious Foods, Superfoods, Weight Loss

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें