Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    वजन घटाने का बेहतरीन घरेलू नुस्खा है सौंफ, ऐसे करें इस्तेमाल

    रोजाना सौंफ का सेवन कैल्शियम बढ़ाने में मदद करता है, जिसके कारण हड्डियां मजबूत होती हैं.
    रोजाना सौंफ का सेवन कैल्शियम बढ़ाने में मदद करता है, जिसके कारण हड्डियां मजबूत होती हैं.

    सौंफ (Fennel Seeds) में फाइबर की मात्रा भरपूर होती है, जिससे व्यक्ति को पेट भरा हुआ महसूस होता है. सौंफ में कैलोरी (Calorie) ना के बराबर होती है. इससे वजन कम करने (Weight Loss) में मदद मिलती है. यह शरीर में वसा को जमने नहीं देती, जिससे मोटापे का जोखिम कम रहता है.

    • Last Updated: November 12, 2020, 6:47 AM IST
    • Share this:


    अधिकतर लोग भोजन करने के बाद सौंफ (Fennel Seeds) खाते है, ताकि मुंह की बदबू दूर हो जाए. सौंफ सिर्फ माउथ फ्रेशनर (Mouth Freshner) का कार्य नहीं करता है, बल्कि इसे खाने से शरीर की कई समस्याओं का भी इलाज किया जा सकता है. सौंफ एक आयुर्वेदिक औषधि (Ayurvedic Medicine) है, जो लगभग हर किचन में रखी होती है. सौंफ में काफी मात्रा में कैल्शियम, सोडियम, आयरन, पोटैशियम जैसे तत्व होते हैं. इसलिए इसे औषधि के रूप में भी उपयोग में लाया जा सकता है. आइए जानते हैं सौंफ स्वास्थ्य के लिए किस प्रकार फायदेमंद है.

    वजन घटाने का आसान तरीका



    सौंफ में फाइबर की मात्रा भरपूर होती है, जिससे व्यक्ति को पेट भरा हुआ महसूस होता है. सौंफ में कैलोरी ना के बराबर होती है. इससे वजन कम करने में मदद मिलती है. यह शरीर में वसा को जमने नहीं देती, जिससे मोटापे का जोखिम कम रहता है. इसके अतिरिक्त सौंफ की चाय पीने से शरीर के टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं. सौंफ के बीज खाने से शरीर का मेटाबॉलिज्म मजबूत होता है. अच्छा मेटाबॉलिज्म वजन कम करने में सहायक होता है.
    कब्ज की समस्या को करे दूर

    myUpchar के अनुसार, सौंफ में भरपूर फाइबर होता है जो कि शरीर में पाचन को बेहतर बनाता है. इससे कब्ज की समस्या दूर होती है. यही नहीं, नियमित रूप से सौंफ खाने से गैस और एसिडिटी की समस्या दूर होती है. जिन्हें हमेशा अपच और कब्ज की शिकायत होती है, उन्हें सौंफ के चूर्ण का सेवन करना चाहिए. इसके लिए सौंफ और मिश्री का चूर्ण बना लें. 5 ग्राम चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ रात में सोने से पहले लें. इस उपाय को रोज करेंगे तो इससे पेट अच्छे से साफ होगा और लिवर भी स्वस्थ रहेगा.

    छोटे बच्चों के लिए भी यह कारगर नुस्खा है. बच्चों की पाचन की समस्या दूर करने के लिए दो चम्मच सौंफ के चूर्ण को दो कप पानी में अच्छी तरह उबाल लें. एक चौथाई रह जाने पर इस पानी को छानकर ठंडा कर लें. इसे एक-एक चम्मच दिन में दो से तीन बार बच्चों को पिलाते रहें, इससे उनकी पेट संबंधित सभी दिक्कतें ठीक हो जाएगी.

    आंखों के लिए असरदार

    सौंफ आंखों की रोशनी बढ़ाती है. यदि रोज भोजन के बाद 1 चम्मच सौंफ का सेवन किया जाए या आधा चम्मच सौंफ का चूर्ण एक चम्मच मिश्री के साथ मिलाकर रात को सोते समय दूध या पानी के साथ लिया जाए, तो इससे आंखों की रोशनी अच्छी हो सकेगी.

    याद्दाश्त बढ़ाने और खांसी ठीक करने में सहायक

    myUpchar के अनुसार, स्मरण शक्ति बढ़ाने में सौंफ का सेवन लाभकारी होता है. इसके लिए सौंफ और मिश्री का चूर्ण बनाकर रख लें. खाने के बाद इस मिश्रण के दो चम्मच सुबह और शाम सेवन करने से स्मरणशक्ति तेज होती है. ज्यादा खांसी होने पर लौंग के साथ सौंफ का सेवन करना फायदेमंद होता है. 10 ग्राम सौंफ के रस को शहद में मिलाकर दिन में दो से तीन बार सेवन करने से भी खांसी ठीक हो सकती है. इसका काढ़ा बनाने के लिए 1 चम्मच सौंफ और 2 चम्मच अजवाइन को एक गिलास पानी में उबाल लें और फिर इसे छानकर इसमें शहद मिलाकर पी लें, इससे खांसी दूर हो जाएगी.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, सौंफ के फायदे और नुकसान पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

    अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज