खाने में रोज 5 ग्राम नमक है काफी, ज्यादा है सेहत के लिए खतरा

खाने में रोज 5 ग्राम नमक है काफी, ज्यादा है सेहत के लिए खतरा
कितना नमक खाना चाहिए जानें

शरीर में आयोडीन (Iodine) की पूर्ति के लिए नमक खाना (Salt Intake) जरूरी भी है, लेकिन यदि शरीर में ज्यादा नमक हो जाए तो इससे कई बीमारियां होने लगती हैं.

  • Last Updated: July 2, 2020, 3:12 PM IST
  • Share this:


बगैर नमक खाने में स्वाद की कल्पना नहीं की जा सकती है. कोई भी खाना चाहे कितने ही मसाले डालकर बनाया गया हो, लेकिन यदि उसमें नमक ना हो तो वह खाना बेस्वाद हो जाता है. वैसे शरीर में आयोडीन (Iodine) की पूर्ति के लिए नमक खाना (Salt Intake) जरूरी भी है, लेकिन यदि शरीर में ज्यादा नमक हो जाए तो इससे कई बीमारियां होने लगती हैं.  भारत में अधिकतर लोग एक ही दिन में 10 ग्राम से भी ज्यादा नमक खाते हैं, जो कि नुकसानदायक है.  आइए जानते हैं कि ज्यादा नमक खाने से क्या नुकसान हो सकते हैं -

ब्लड प्रेशर का अनियंत्रित होना



आंखों के आगे अंधेरा छाना, चक्कर आने जैसी समस्या होने पर लोग नमक खाने की सलाह देते हैं. लेकिन ब्लड प्रेशर बढ़ने पर नमक नहीं खाना चाहिए, क्योंकि नमक के अधिक सेवन से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ सकती है.  myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, नमक की मात्रा अधिक होने पर हार्ट अटैक, स्ट्रोक जैसी बीमारियां भी होने की आशंका होती है.
स्ट्रोक होने की आशंका

ज्यादा नमक खाने पर स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है.  मस्तिष्क के नसों में ब्लॉकेज होने पर स्ट्रोक होता है, लेकिन खाने में नमक की मात्रा कम होने पर यह खतरा कम हो जाता है.  अधिकांश लोगों में यह गलतफहमी है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ स्ट्रोक होने का खतरा बढ़ता है, लेकिन ऐसा नहीं है. यदि नियमित और संतुलित खानपान लिया जाए तो ऐसे किसी भी खतरे की आशंका नहीं होती है.  इसका कारण है हमारे अनियमित खान-पान का असर शरीर पर धीरे-धीरे होता है, इसलिए ज्यादा उम्र होने पर यह समस्याएं खड़ी हो जाती हैं.

कोरोनरी हार्ट डिसीज की आशंका

कोरोनरी हार्ड डिसीज में नसें मोटी और डैमेज हो जाती हैं. इन डैमेज नसों से खून दिल तक काफी कम मात्रा में पहुंचता है, जिसके कारण हार्ट अटैक होने का खतरा बढ़ता है.  खाने में नमक कम लेने पर इस बीमारी की आशंका कम हो जाती है.  चूंकि ज्यादा नमक खाने से शरीर में ब्लड प्रेशर भी प्रभावित होता है.  इसलिए भी दिल पर खतरा बना रहता है.

पेट के कैंसर का खतरा

ज्यादा नमक खाने पर पेट का कैंसर भी हो सकता है.  नमक में एक प्रकार का हेलीकोबैक्टर पिलोरी नामक बैक्टीरिया होता है, जो पेट की सूजन को बढ़ाता है.  यदि इस बैक्टीरिया की मात्रा पेट में बढ़ती है तो इससे पेट में अल्सर और कैंसर की बीमारियों का खतरा होने की आशंका बढ़ जाती है.

किडनी में पथरी की समस्या

myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार,  किडनी में खराबी का कारण शरीर में सोडियम की अधिक मात्रा का होना है.  नमक ज्यादा खाने से किडनी में पथरी होने का खतरा बढ़ सकता है, क्योंकि नमक में सोडियम की अधिक मात्रा होती है.  नमक का संतुलित सेवन ही लाभकारी होता है.

ऑस्टियोपोरोसिस बीमारी का खतरा

ओस्टियोपोरोसिस बीमारी में हड्डियों में कैल्शियम की मात्रा कम हो जाती है.  इसमें यूरिन के जरिए कैल्शियम गलकर निकल जाता है.  खाने में ज्यादा नमक के सेवन से हड्डियों की कैल्शियम की मात्रा कम हो जाती है और नमक की अधिक मात्रा हड्डियों को कमजोर बनाती है, जिन्हें अधिक नमक खाने की आदत है तो उन्हें यह आदत छोड़नी चाहिए.  (अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, सेंधा नमक के फायदे और नुकसान पढ़ें। न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।)

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading