#काम की बात : जब से मेरे पार्टनर का वजन बढ़ा है, हमारी सेक्स लाइफ खत्म हो गई है

सेक्‍स सलाह
सेक्‍स सलाह

सेक्स का हमारे स्वास्थ्य के साथ बहुत गहरा संबंध है. जो लोग शारीरिक रूप से स्वस्थ होते हैं, शारीरिक गतिविधियों में सक्रिय रहते हैं, उनकी सेक्स लाइफ बेहतर होती है

  • Last Updated: August 1, 2018, 4:44 PM IST
  • Share this:
प्रश्‍न : मेरी उम्र 34 साल है और मेरी शादी को 10 साल हो चुके हैं. शादी के बाद शुरू के कुछ सालों में हमारी सेक्स लाइफ बहुत अच्छी थी, लेकिन बाद में खराब लाइफ स्टाइल और खाने-पीने की गलत आदतों की वजह से मेरे पति का वजन बहुत बढ़ गया. वो फास्ट फूड के शौकीन हैं और मेरे लाख समझाने पर भी मानते नहीं. जब से उनका वजन बढ़ा है, हमारी सेक्स लाइफ तकरीबन खत्म हो गई है. उन्हें सेक्स की बहुत कम इच्छा होती है और हो भी तो वो परफॉर्म नहीं कर पाते. जल्दी थक जाते हैं. मैं क्या करूं?

उत्‍तर : सेक्स का हमारे स्वास्थ्य के साथ बहुत गहरा संबंध है. जो लोग शारीरिक रूप से स्वस्थ होते हैं, नियमित रूप से व्यायाम करते हैं और किसी न किसी तरह की शारीरिक गतिविधियों में सक्रिय रहते हैं, उनकी सेक्स लाइफ बेहतर होती है. इसलिए अकसर स्पोर्ट्स में एक्टिव पुरुषों की सेक्स लाइफ दिन भर कुर्सी पर बैठकर कंप्यूटर के सामने काम करने वाले व्यक्ति के मुकाबले कहीं ज्यादा अच्छी होती है.

यह बात सिर्फ पुरुषों पर ही नहीं, बल्कि स्त्रियों पर भी समान रूप से लागू होती है. जो स्त्रियां शारीरिक रूप से सबल और चुस्त-दुरुस्त होती हैं, वह अपनी सेक्स लाइफ को भी ज्यादा अच्छी तरह इंजॉय कर पाती हैं.



इसलिए अच्छी सेक्स लाइफ के लिए स्वास्थ्य सबसे पहले और सबसे बुनियादी जरूरत है. आपकी बातों से जाहिर है कि पहले आपके पति का वजन इतना ज्यादा नहीं था. वह बाद में बढ़ा है और उन्हें फास्ट फूड का भी शौक है. ऐसे में मेरी सलाह यह है कि आपको एक बार डॉक्टर से मिलकर उनकी पूरी जांच करवानी चाहिए कि वजन बढ़ने का कारण सिर्फ अनियमित खानपान है या उन्हें स्वास्थ्य संबंधी कोई और दिक्कत भी है, जैसेकि थायरॉइड, ब्लड प्रेशर या डायबिटीज.
इसके अलावा उन्हें यह समझने की जरूरत है कि एक पिज्जा खाने से उन्हें जो खुशी मिलती है, क्या उस खुशी की तुलना सेक्स से मिलने वाली खुशी से की जा सकती है. क्या वे भी अपनी मौजूदा जिंदगी में सेक्स की कमी को महसूस करते हैं. यदि हां तो उन्हें वह जरूरी कदम उठाने होंगे, जो उनके स्वास्थ्य को बेहतर कर उन्हें फिर से सेक्सुअली एक्टिव कर सकें.

उन्हें अपने खानपान पर नियंत्रण करने और रोजाना कोई एक्सासाइज करने की सलाह दें. उनका वजन कम करना बहुत जरूरी है वरना वक्त के साथ मोटापा और भी कई बीमारियों को आमंत्रण दे सकता है. वे जॉगिंग करने से लेकर योग, स्विमिंग या जिमिंग, कुछ भी कर सकते हैं. उन्हें व्यायाम को अपनी जिंदगी का अभिन्न हिस्सा बना लेना चाहिए. याद रखिए, स्वादिष्ट भोजन भी हमारे लिए है, हम उसके लिए नहीं.

सेक्स कुदरत की नियामत है. अपनी लापरवाही और कमजोरियों के चलते उस शक्ति को खो देना कतई बुद्धिमत्तापूर्ण नहीं है. उन्हें प्रेरित करें और हो सके तो खुद भी उसी अनुशासित जीवन शैली का पालन करें. साथ मिलकर करें तो दोनों के लिए बेहतर होगा. मुझे उम्मीद है कि सुधार जरूर होगा.

(डॉ. पारस शाह सानिध्‍य मल्‍टी स्‍पेशिएलिटी हॉस्पिटल, अहमदाबाद, गुजरात में चीफ कंसल्‍टेंट सेक्‍सोलॉजिस्‍ट हैं.) 

अगर आपके मन में भी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप इस पते पर हमें ईमेल भेज सकते हैं. डॉ. शाह आपके सभी सवालों का जवाब देंगे.
ईमेल – Ask.life@nw18.com

ये भी पढ़ें-

#काम की बात: अगर एक से ज्‍यादा लोगों से यौन संबंध हों तो एसटीडी हो जाता है?

#काम की बात: क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करने से भी प्रेगनेंसी हो सकती है?

#काम की बात: क्या सेक्स के समय लड़कों को भी पीड़ा हो सकती है?

# काम की बात : क्‍या देसी वियाग्रा लेने से शरीर पर बुरा असर पड़ता है ?

# काम की बात : क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करने से बीमारी हो जाती है?

#काम की बात: क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करना सुरक्षित है?

#कामकीबात: कौन सी बात अंतरंग क्षणों को ज्यादा यादगार बना सकती है?

#कामकीबात: सेक्स के दौरान महिला साथी भी क्लाइमेक्स तक पहुंची, ये कैसे समझा जा सकता है? 

#कामकीबात: सेक्स-संबंध नीरस हो गया है. कभी मेरा मन नहीं करता तो कभी उसका.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज