#काम की बात : क्या स्त्रियों की यौन इच्छा का संबंध उनके मासिक चक्र से भी है ?

सेक्‍स सलाह
सेक्‍स सलाह

महीने के तीसों दिन स्त्रियों की यौन इच्छा एक समान नहीं होती. इसका सीधा रिश्ता उनके हॉर्मोन से है. प्रकृति ने भी शरीर की संरचना कुछ इस तरह से की है कि जब स्त्री का शरीर गर्भधारण के लिए सबसे ज्यादा तैयार होता है, उस दौरान उसकी यौन इच्छा भी सबसे ज्यादा प्रबल होती है

  • Last Updated: August 30, 2018, 2:48 PM IST
  • Share this:
प्रश्‍न : पीरियड्स के पहले, पीरियड्स के दौरान और उसके तुरंत बाद मेरी सेक्स की इच्छा बहुत प्रबल हो जाती है. क्या स्त्रियों की सेक्सुअल डिजायर उनके पीरियड्स साइकल के साथ जुड़ी
होती है?


उत्‍तर : बिलकुल, स्त्रियों की सेक्सुअल डिजायर का उनके पीरियड्स साइकल यानी मासिक चक्र के साथ बहुत गहरा संबंध है. महीने के तीसों दिन स्त्रियों की यौन इच्छा एक समान नहीं होती. इसका सीधा रिश्ता उनके हॉर्मोन से है. प्रकृति ने भी शरीर की संरचना कुछ इस तरह से की है कि जब स्त्री का शरीर गर्भधारण के लिए सबसे ज्यादा तैयार होता है, उस दौरान उसकी यौन इच्छा भी सबसे ज्यादा प्रबल होती है. पीरियड के ठीक पहले और उस दौरान स्त्रियों के शरीर में कई प्रकार के हॉर्मोनल बदलाव होते हैं, जो उनकी यौन इच्छा को बढ़ा देते हैं.

इसके अलावा एक वजह यह भी है कि पीरियड्स के दौरान नैचुरल ल्यूब्रिकेंट होता है. योनि द्वार प्राकृतिक रूप से इतना ल्यूब्रिकेटेड होता है कि सेक्स की प्रक्रिया को बहुत सरल बना देता है. लेकिन इन सबके बावजूद इस बात को समझना जरूरी है कि सभी स्त्रियों में यह इच्छा एकसमान नहीं होती. हॉर्मोनल वजह होने के बाद भी यह जरूरी नहीं कि सभी स्त्रियों को मासिक चक्र के पहले और बाद में सेक्स की ज्यादा जरूरत महसूस हो. हर स्त्री का शरीर, उसका हॉर्मोनल उतार-चढ़ाव अलग होता है कि इस तरह उसकी जरूरतें भी अलग होती हैं.
अगर आपको पीरियड्स के दौरान यह जरूरत महसूस होती है तो उस दौरान भी सेक्स कर सकते हैं. इसमें कोई दिक्कत की बात नहीं है, लेकिन एक बात की सावधानी बरतना बहुत जरूरी है. पीरियड्स के समय सेक्स करते हुए प्रोटेक्शन यानी कंडोम का इस्तेमाल जरूर करें क्योंकि उस दौरान कई तरह के इंफेक्शन होने का खतरा होता है. बिना प्रोटेक्शन के सेक्स करने से पुरुष को इंफेक्शन हो सकता है और स्त्री को भी इंफेक्शन होने के चांस होते हैं. साथ ही पीरियड्स के समय असुरक्षित सेक्‍स यानी बिना कंडोम के सेक्स प्रेग्नेंसी की संभावना को पूरी तरह खत्म नहीं करता. कई बार पीरियड्स के समय सेक्स करने से भी प्रेग्नेंसी हो सकती है. इसलिए बचाव बहुत जरूरी है.



(डॉ. पारस शाह सानिध्‍य मल्‍टी स्‍पेशिएलिटी हॉस्पिटल, अहमदाबाद, गुजरात में चीफ कंसल्‍टेंट सेक्‍सोलॉजिस्‍ट हैं.) 

अगर आपके मन में भी कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप इस पते पर हमें ईमेल भेज सकते हैं. डॉ. शाह आपके सभी सवालों का जवाब देंगे.
ईमेल – Ask.life@nw18.com

ये भी पढ़ें-

#काम की बात: अगर एक से ज्‍यादा लोगों से यौन संबंध हों तो एसटीडी हो जाता है?

#काम की बात: क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करने से भी प्रेगनेंसी हो सकती है?

#काम की बात: क्या सेक्स के समय लड़कों को भी पीड़ा हो सकती है?

# काम की बात : क्‍या देसी वियाग्रा लेने से शरीर पर बुरा असर पड़ता है ?

# काम की बात : क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करने से बीमारी हो जाती है?

#काम की बात: क्‍या पीरियड्स के समय सेक्‍स करना सुरक्षित है?

#कामकीबात: कौन सी बात अंतरंग क्षणों को ज्यादा यादगार बना सकती है?

#कामकीबात: सेक्स के दौरान महिला साथी भी क्लाइमेक्स तक पहुंची, ये कैसे समझा जा सकता है? 

#कामकीबात: सेक्स-संबंध नीरस हो गया है. कभी मेरा मन नहीं करता तो कभी उसका.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज