होम /न्यूज /जीवन शैली /सिंगल पेरेंटिंग: मुश्किल तो है लेकिन नन्हे की खुशी से बढ़कर कुछ नहीं

सिंगल पेरेंटिंग: मुश्किल तो है लेकिन नन्हे की खुशी से बढ़कर कुछ नहीं

कई बातों का ध्यान रखना आपको बच्चे की नजरों में बेस्ट मां या पापा बना सकता है.

कई बातों का ध्यान रखना आपको बच्चे की नजरों में बेस्ट मां या पापा बना सकता है.

कई बातों का ध्यान रखना आपको बच्चे की नजरों में बेस्ट मां या पापा बना सकता है.

    बच्चे को बड़ा करना और सही परवरिश देना काफी मुश्किल काम है. ऐसे में अगर आप सिंगल पेरेंट है तो परवरिश किसी चुनौती से कम नहीं होती. काम के बोझ से आप इतने परेशान हो जाते हैं कि इसका असर पेरेंटिंग पर पड़ने लगता है. शुरु से ही कई बातों का ध्यान रखना आपको बच्चे की नजरों में बेस्ट मां या पापा बना सकता है.

    बच्चे के दिल में कभी भी अपने साथी को लेकर बुरे विचार न आने दें. उसके सामने रोएं नहीं कि आपको उससे कितना दुख मिला. इससे बच्चे का भविष्य प्रभावित होता है, आगे चलकर वो अपने साथी पर यकीन नहीं कर पाता.

    बच्चे से हमेशा खुलकर बात करें. अगर वो अलगाव की वजह जानना चाहता है तो उसे बताएं लेकिन बताते हुए उसकी उम्र का ध्यान जरूर रखें. कई बार ऐसी बातें बच्चों के कच्चे मन पर गहरा असर करती हैं.

    सारे काम खुद ही न करें. घर की कुछ छोटी-छोटी जिम्मेदारियां बच्चे को भी दें. अगर बच्चा किचन में हाथ बंटाने लायक हो चुका है तो उसे उम्र के मुताबिक काम दें और हर दिन करने को कहें.

    बच्चे को आपके साथ आपके साथी से भी लगाव होना लाजिमी है. इसपर भड़कने की बजाए उसे स्पेस दें कि वो उससे बात कर सके अगर कोर्ट से इजाजत मिली हुई हो और आपको इसमें कोई नुकसान न लगता हो.

    Tags: Baby Care

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें