vidhan sabha election 2017

बच्चा निराश है ? ये है उसे निराशा से बाहर लाने के रास्ते

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 7:52 AM IST
बच्चा निराश है ? ये है उसे निराशा से बाहर लाने के रास्ते
बच्चा पेरशान हो तो माता-पिता भी परेशान हो जाते हैं
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 7:52 AM IST
बच्चा पेरशान हो तो माता-पिता भी परेशान हो जाते हैं. वे कुछ देर तक तो उसे प्यार से मनाते हैं. जब बच्चा ज्यादा ही जिद करे या रोए तो पेरेंट्स न चाहते हुए भी गुस्सा दिखा ही देते हैं. कभी वे बिना किसी कारण ही रोते हैं. कभी कहते हैं दोबारा खेलने नहीं जाएंगे. क्योंकि उनके सारे दोस्त कहते हैं कि उन्हें खेलना नहीं आता.’

बच्चे को ये न कहें कि तुम तो अच्छा खेल लेते हो. उसे कहें अपने दोस्तों से पूछो क्या कमी है. फिर तुम्हारा खेल अच्छा हो जाएगा. आपके इस जवाब से बच्चे को निराशा से बाहर आने का रास्ता मिलेगा. बच्चों की निराशा दूर करने में ये तरीके भी काम आएंगे-

बच्चे को मनमाफिक परिणाम नहीं मिले तो उन्हें अच्छे परिणाम का इंतजार करना सिखाएं.

उन्हें समझाएं कि ‘अगली बार सब अच्छा होगा’. इंतजार करने में समझदारी है. बच्चे को एक्सरसाइज भी करा सकते हैं, उसकी सहनशक्ति  बढ़ेगी.

कोशिश करें कि बच्चा ग्रुप में जरूर खेले. इससे बच्चे में दूसरों की बात सुनने का धैर्य भी पनपेगा.

इस तरह की चीजें बच्चे को निराशा से सामना करने में मदद करती हैं.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर