कम BMI वाले नवजात बच्चों को अधिक होता है हृदय रोग का खतरा

एक नई स्टडी में यह बात सामने आई है कि एक नवजात बच्चे की बॉडी के बीएमआई से भविष्य में हो सकने वाले ह्रदय रोग के खतरे का संकेत मिल सकता है

News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 2:49 PM IST
कम BMI वाले नवजात बच्चों को अधिक होता है हृदय रोग का खतरा
एक नई स्टडी में यह बात सामने आई है कि एक नवजात बच्चे की बॉडी के बीएमआई से भविष्य में हो सकने वाले ह्रदय रोग के खतरे का संकेत मिल सकता है
News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 2:49 PM IST
जन्म के समय एक नवजात बच्चे की लंबाई और वजन के अनुपात से यह पता चल सकता है कि भविष्य में बच्चे को हार्ट से जुड़ी समस्याओं का कितना खतरा हो सकता है? एक नई स्टडी में यह बात सामने आई है कि एक नवजात बच्चे की बॉडी के बीएमआई से भविष्य में हो सकने वाले ह्रदय रोग के खतरे का संकेत मिल सकता है .

ऑगस्टा यूनिवर्सिटी में जॉर्जिया के मेडिकल कॉलेज और जॉर्जिया के चिल्ड्रन हॉस्पिटल में नियोनेटोलॉजिस्ट के अनुसार, जन्म के समय नवजात का वजन केवल भ्रूण के विकास की कहानी का एक हिस्सा बताता है, जबकि उसकी हाईट संपूर्ण रूप से भ्रूण के विकास और ग्रोथ ट्रेजेक्टरी की तस्वीर पेश करता है.

वहीं बच्चे की BMI यह बताती है कि भविष्य में उसे हार्ट से जुड़ी बीमारियों का कितना खतरा हो सकता है.

न्यूज़ मेडिकल डॉट नेट पर छपी एक खबर के अनुसार नए अध्ययन से पता चलता है कि जन्म के समय अगर बच्चे का BMI कम है, तो उसमें हाई कोलेस्ट्रॉल या हाई ब्लडप्रेशर का खतरा हो सकता है. जांचकर्ताओं ने अनुमान लगाया कि जन्म के समय बच्चे का बीएमआई भविष्य में उसके हार्ट के विकास और हेल्थ की सही जानकारी दे सकती है. 379 स्वस्थ किशोरों के एक समूह पर हुई स्टडी में पाया गया कि कम BMI वाले बच्चों में हार्ट की बीमारियां ज्यादा पाई गई हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 31, 2019, 2:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...